Vijay Hazare Trophy 2021: गुजरात का अजेय सिलसिला बरकरार, आंध्र भी नॉकआउट दौर में पहुंचा

Vijay Hazare Trophy 2021: एक अन्य मैच में बी अपराजित, जे कौशिक और एक मोहम्मद के तीन – तीन विकेट की मदद से तमिलनाडु ने विदर्भ को 41 ओवर में 150 रन पर आउट कर दिया. तमिलनाडु ने एन जगदीशन (18 गेंदों पर 48 रन) और मोहम्मद (14 गेंदों पर 37) की पारियों से आसानी से लक्ष्य हासिल किया.

Vijay Hazare Trophy 2021: गुजरात का अजेय सिलसिला बरकरार, आंध्र भी नॉकआउट दौर में पहुंचा

Vijay Hazare Trophy 2021:रविवार का आकर्षण देवदत्त पडिक्कल का लगातार तीसरा शतक रहा

सूरत/इंदौर:

मेजबान गुजरात रविवार को यहां विजय हजारे एकदिवसीय क्रिकेट टूर्नामेंट के ग्रुप ए के अपने अंतिम मैच में बड़ौदा को 40 रन से हराकर लीग चरण में अजेय रहा. गुजरात ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए ध्रुव रावल की 129 गेंद में 102 रन की पारी की बदौलत सात विकेट पर 277 रन बनाए और फिर विरोधी टीम को नौ विकेट पर 237 रन के स्कोर पर रोक दिया. गुजरात के लिए अनुभवी लेग स्पिनर पीयूष चावला ने 52 रन देकर तीन विकेट चटकाए. गुजरात ने इससे पहले छत्तीसगढ़, गोवा, त्रिपुरा और हैदराबाद को शिकस्त दी। बड़ौदा की यह टूर्नामेंट में पहली हार है.

विराट कोहली के हीरो बल्लेबाज ने जड़ा लगातार तीसरा शतक, अब हैं बेस्ट स्कोरर

गुजरात की शुरुआत हालांकि अच्छी नहीं रहा. टीम ने सलामी बल्लेबाज प्रियांक पांचाल (02) और चिराग गांधी (12) के विकेट जल्दी गंवा दिए. पांचाल को तेज गेंदबाज अतित सेठ (53 रन पर तीन विकेट) ने आउट किया जबकि गांधी को बाबाशफी पठान (47 रन पर दो विकेट) ने पवेलियन भेजा. बायें हाथ के बल्लेबाज रावल ने इसके बाद मोर्चा संभालते हुए शतक जड़ा। उन्होंने अपनी पारी में नौ चौके और एक छक्का मारा. रावल ने मध्यक्रम के बल्लेबाज हेत पटेल (84 गेंद में 82 रन, सात चौके, दो छक्के) के साथ तीसरे विकेट के लिए 152 रन की साझेदारी की.

तो इस सूरत में आईसीसी को मोदी स्टेडियम के प्वाइंट्स काट लेने चाहिए, मोंटी पनेसर ने कहा

तेज गेंदबाज लुकमान मेरीवाला (67 रन पर दो विकेट) ने हेत को केदार देवधर के हाथों कैच कराकर इस साझेदारी को तोड़ा जबकि बाबाशफी ने रावल को आउट करके गुजरात का स्कोर चार विकेट पर 213 रन किया. चिंतन गजा ने नौ गेंद में 22 रन की पारी खेलकर टीम का स्कोर 275 रन के पार पहुंचाया. लक्ष्य का पीछा करते हुए बड़ौदा ने सलामी बल्लेबाज केदार देवधर (17) का विकेट जल्दी गंवा दिया. विकेटकीपर बल्लेबाज स्मिट पटेल (73 रन) और विष्णु सोलंकी (37) ने 92 रन जोड़कर पारी को संवारा. गुजरात ने हालांकि इसके बाद जल्दी जल्दी तीन विकेट चटकाकर बड़ौदा का स्कोर चार विकेट पर 135 रन कर दिया जिससे टीम उबर नहीं पाई. चावला के अलावा तेज गेंदबाज गजा और अर्जन नागवासवाला ने भी दो दो विकेट चटकाए.

हैदराबाद की रोमांचक जीत
दूसरी तरफ हैदराबाद ने बड़े स्कोर वाले बेहद रोमांचक मुकाबले में गोवा को दो रन से हराया. हैदराबाद ने तन्मय अग्रवाल (150) और तिलक वर्मा (128) के शतकों की मदद से छह विकेट पर 345 रन बनाए जिसके जवाब में गोवा ने केडी एकनाथ (नाबाद 169) और स्नेहल कौथंकर (116) के शतकों की बदौलत कड़ी टक्कर दी लेकिन अंत में पांच विकेट पर 343 रन ही बना सकी. ग्रुप के एक अन्य मैच में त्रिपुरा को छत्तीसगढ़ के खिलाफ पांच विकेट से हार का सामना करना पड़ा.

झारखंड सभी को पछाड़ नॉकआउट दौर में पहुंचा

इंदौर। आंध्र ने रविवार को यहां झारखंड पर सात विकेट से आसान जीत दर्ज करके  ग्रुप बी में शीर्ष पर रहकर क्वार्टर फाइनल में जगह बनायी. एक अन्य मैच में मध्य प्रदेश के सलामी बल्लेबाज वेंकटेश अय्यर केवल दो रन से दोहरा शतक से चूक गये लेकिन उनकी टीम इस बड़ी पारी से पंजाब को 105 रन से हराने में सफल रही. ग्रुप बी में आंध्र, तमिलनाडु, झारखंड और मध्य प्रदेश चारों टीमों के समान 12 अंक रहे, लेकिन आंध्र बेहतर रन गति के कारण नाकआउट चरण में जगह बनाने में सफल रहा. तमिलनाडु दूसरे, झारखंड तीसरे और मध्य प्रदेश चौथे स्थान पर रहा. इनके बाद पंजाब (आठ अंक) और विदर्भ (चार अंक) का नंबर आता है.

रोहित शर्मा ने हासिल की करियर की बेस्ट रैंकिंग, तो अक्षर पटेल ने लगायी इतनी लंबी छलांग

तमिलनाडु ने विदर्भ को पांच विकेट से हराया. उसने अपना रन रेट सुधारने के लिये 11.2 ओवर के अंदर 151 रन का लक्ष्य हासिल कर दिया, लेकिन आंध्र ने झारखंड को 139 रन पर आउट करने के बाद केवल 9.5 ओवर में लक्ष्य हासिल करके तमिलनाडु को नेट रन रेट में पीछे छोड़ दिया. पहले बल्लेबाजी का न्यौता पाने के बाद झारखंड की टीम रन बनाने के लिये जूझती नजर आयी. उसके केवल चार बल्लेबाज दोहरे अंक में पहुंचे जिसमें कप्तान इशान किशन ने सर्वाधिक 38 रन बनाये. आंध्र की तरफ से मध्य गति के गेंदबाज एम हरिशंकर रेड्डी ने चार विकेट लिये.

इसके बाद अश्विन हेब्बार (18 गेंदों पर 44) और रिकी भुई (27 गेंदों पर नाबाद 57) ने शुरू से ही आक्रामक तेवर अपनाये. इन दोनों ने 5.5 ओवर में 82 रन जोड़े. भुई ने एक छोर संभाले रखा और नरेन रेड्डी (नाबाद 16) के साथ मिलकर टीम को लक्ष्य तक पहुंचाया. 


तमिलनाडु जीता, पर फायदा नहीं
एक अन्य मैच में बी अपराजित, जे कौशिक और एक मोहम्मद के तीन – तीन विकेट की मदद से तमिलनाडु ने विदर्भ को 41 ओवर में 150 रन पर आउट कर दिया. तमिलनाडु ने एन जगदीशन (18 गेंदों पर 48 रन) और मोहम्मद (14 गेंदों पर 37) की पारियों से आसानी से लक्ष्य हासिल किया. इस बीच मध्य प्रदेश ने वेंकटेश अय्यर की 198 रन की पारी से तीन विकेट पर 402 रन का विशाल स्कोर बनाया और फिर पंजाब को 42.3 ओवर में 297 रन पर आउट कर दिया. अय्यर ने अपनी 146 गेंद की पारी में 20 चौके और सात छक्के लगाये. पंजाब की तरफ से अभिषेक शर्मा ने 49 गेंदों पर 104 रन की तूफानी पारी खेली लेकिन इससे हार का अंतर ही कम हुआ.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


VIDEO: कुछ दिन पहले विराट ने अपने करियर को लेकर बड़ी बात कही थी.​