"तू बाहर मिल...", मनोज तिवारी ने गौतम गंभीर के साथ हुई लड़ाई को लेकर किया चौंकाने वाला खुलासा

Manoj Tiwary on Gautam Gambhir Fight: गौतम गंभीर को लेकर मनोज तिवारी ने एक चौंकाने वाली घटना का जिक्र किया है. बता दें कि क्रिकेट से संन्यास लेने के बाद तिवारी ने धोनी पर भी निशाना साधा था.

मनोज तिवाली ने गंभीर के बारे में कही चौंकाने वाली बात

Manoj Tiwary Retirement: भारतीय क्रिकेटर मनोज तिवारी (Manoj Tiwari vs Gautam Gambhir) ने क्रिकेट के सभी फॉर्मेट से संन्यास का ऐलान कर दिया है. भारतीय क्रिकेटर ने संन्यास के बाद कई ऐसी बातों को लेकर अपनी राय दी है जिसने फैन्स के बीच खलबली मचा दी है. मनोज तिवारी ने खासकर गौतम गंभीर के साथ रणजी ट्रॉफी मैच के दौरान हुई लड़ाई पर भी बात की है और उस घटना पर बड़ा खुलासा भी किया है. स्पोर्ट्स नाउ के साथ बात करते हुए मनोज तिवारी ने कहा कि, "9 साल पहले रणजी मुकाबले में गंभीर और उनकी काफी बहस हो गई थी. दरअसल, तिवारी ने कहा कि, मैं नंबर 4 पर बैटिंग के लिए गया था. लेकिन मैं जब बैटिंग के लिए गया था तो कैप पहने हुआ था, जिसके बाद मैंने हेलमेट पहने की मांग की. वहीं, स्लिप में गंभीर खड़े थे. हेलमेट की मांग को देखकर वो मेरे पर गुस्सा हो गए थे.". 

तिवारी ने आगे कहा, "गंभीर के साथ मेरी जो लड़ाई हुई थी उसे मैं आजतक नहीं भूला हूं, आप यदि मेरे दोस्तों से मिलेंगे तो आपको पता चलेगा कि मैं कैसा लड़का हूं, मैं ज्यादा लड़ाई नहीं करता हूं, मैं उस तरह का खिलाड़ी नहीं हूं जो सीनियर खिलाड़ियों पर भी गुस्से करता है लेकिन उस दिन गंभीर के साथ मेरी झड़प हो गई थी जिसे मैं आजतक नहीं भूला हूं,"

यह भी पढ़ें: 


क्या होता है अकाय का मतलब

एक ही तो दिल है कितनी बार जीतोगे! पारी की घोषणा के बाद सरफराज खान ने जो किया उसने फैंस को बनाया दीवाना, Video

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

मनोज तिवारी ने कहा, "गंभीर ने मुझे कहा था कि 'तू बाहर मिल मुझसे...", गंभीर लड़ाई में ऐसी बातें कह डालते हैं."  उन्होंने कहा कि, "मुझे इस बात का हमेशा पछतावा रहेगा." भारतीय क्रिकेटर ने आगे गंभीर को लेकर कहा, "गंभीर एक जुनूनी क्रिकेटर है और मैं भी हूं.. लेकिन कई बार जुनून कुछ ऐसी चीजें सामने ला देता है जो सार्वजनिक तौर पर सामने नहीं आनी चाहिए,  यह अप्रत्याशित था और कई अन्य बातें भी कही गईं.. लेकिन इसमें मेरी कोई गलती नहीं थी. " बता दें कि दोनों क्रिकेटर  अपने मतभेदों को सुलझाने के लिए कभी बाहर नहीं मिले , इस बारे में तिवारी ने सीधे तौर पर  कहा, "नहीं, हमने इस बारे में कभी बात नहीं की और न ही हमें मिलने का समय मिला"