Ind vs Sl 1st Test: रवींद्र जडेजा का बड़ा रिकॉर्ड, लेकिन सर्वकालिक उपलब्धि से चूक गए

SL vs IND 1st Test: 22 के विशाल अंतर में रवींद्र जडेजा ( Ravindra Jadeja becomes man of the match) का सबसे बड़ा योगदान रहा.

Ind vs Sl 1st Test: रवींद्र जडेजा का बड़ा रिकॉर्ड, लेकिन सर्वकालिक उपलब्धि से चूक गए

IND vs SL 1st Test: रवींद्र जडेजा पहले टेस्ट में मैनऑफ द मैच रहे

खास बातें

  • मैन ऑफ द मैच बने रवींद्र जडेजा
  • पहली पारी में बनाए थे नाबाद 175 रन
  • मैच में चटकाए 9 विकेट लेफ्टी स्पिनर ने
नई दिल्ली:

Ind vs Sl  1st Test: श्रीलंका के खिलाफ मोहाली में रविवार को तीसरे ही दिन मेहमानों को पहले टेस्ट में पारी और 222 के विशाल अंतर में रवींद्र जडेजा ( Ravindra Jadeja becomes man of the match) का सबसे बड़ा योगदान रहा. फिर चाहे यह बल्ला (नाबाद 175*)    हो या फिर गेंद (मैच में 9 विकेट), इस लेफ्टी ने चोटिल होने के बाद टेस्ट क्रिकेट में ऐसी वापसी की कि मानो जमीन से लेकर आसमान तक सिर्फ जडेजा ही जडेजा का नाम गूंज रहा है. जहां जडेजा ने पहली पारी में पांच विकेट लिए, तो दूसरी पारी में इस लेफ्टी स्पिनर ने चार विकेट चटकाकर श्रीलंका का दूसरी पारी में 178 रन पर ही बोरिया-बिस्तर बांध दिया.

जडेजा को इस प्रदर्शन के लिए मैन ऑफ द मैच चुना गया. दूर-दूर तक जड्डू को मैन ऑफ द मैच के लिए कोई टक्कर देने वाला नहीं था. यह जडेजा के बैटिंग में नाबाद 175 रन ही थे, जिससे पहले 8 विकेट पर 574 रन पर पारी घोषित करने में कामयाब रहा.  और जब इसके बाद  बॉलिंग का नंबर आया, तो उन्होंने लंकाइयों को पस्त करने में सबसे ज्यादा योगदान दिया. 

 यह भी पढ़ें:दोहरा शतक न बना पाने पर जडेजा का खुलासा, बताई रोहित द्वारा पारी घोषित करने के पीछे की कहानी


श्रीलंका के खिलाफ मोहाली में रविवार को तीसरे ही दिन मेहमानों को पहले टेस्ट में पारी और 222 के विशाल अंतर में रवींद्र जडेजा ( Ravindra Jadeja becomes man of the match) का सबसे बड़ा योगदान रहा. फिर चाहे यह बल्ला (नाबाद 175*)    हो या फिर गेंद (मैच में 9 विकेट), इस लेफ्टी ने चोटिल होने के बाद टेस्ट क्रिकेट में ऐसी वापसी की कि मानो जमीन से लेकर आसमान तक सिर्फ जडेजा ही जडेजा का नाम गूंज रहा है. जहां जडेजा ने पहली पारी में पांच विकेट लिए, तो दूसरी पारी में इस लेफ्टी स्पिनर ने चार विकेट चटकाकर श्रीलंका का दूसरी पारी में 178 रन पर ही बोरिया-बिस्तर बांध दिया.जडेजा को इस प्रदर्शन के लिए मैन ऑफ द मैच चुना गया. दूर-दूर तक जड्डू को मैन ऑफ द मैच के लिए कोई टक्कर देने वाला नहीं था. यह जडेजा के बैटिंग में नाबाद 175 रन ही थे, जिससे पहले 8 विकेट पर 574 रन पर पारी घोषित करने में कामयाब रहा. 

पहली पारी में जडेजा ने फेंके 13  ओवरों में 4 मेडेन रखते हुए सिर्फ 41 रन देकर 5 विकेट चटकाए, तो दूसरी पारी में  उन्होंने फेंके 1 ओवरों में 5 मेडेन रखते हुए 47 रन देकर 4 बल्लेबाजों को आउट किया. इस तरह उन्होंने मैन ऑफ द मैच का पुरस्कार मिला. इस प्रदर्शन के बाद जडेजा भारतीय क्रिकेट इतिहास में किसी एक मैच में 175 रन से ऊपर की पारी खेलने वाले और मैच में नौ विकेट चटकाने वाले पहले टेस्ट इतिहास में पहले खिलाड़ी बन गए, लेकिन इसी के साथ ही उनके हाथ से एक ऐसा अवसर भी निकल  गया, जिसे आप सर्वकालिक उपलब्धि कह सकते हो. हालांकि, जडेजा के पास ऐसा करने के लिए खासी उम्र है, लेकिन यह  कुछ ऐसा रिकॉर्ड है, जो संयोवशऔर यदा-कदा ही बनता है. देखते हैं कि इस रिकॉर्ड को जडेजा या दूसरा भारतीय खिलाड़ी कब बेहतर बनाता है. और बेहतर बनाने के लिए उसे दोनों ही पारियों में पांच-पांच विकेट लेने होंगे.

 यह भी पढ़ें:  जडेजा ने फिर से दिखाया 'Puspa Raj' वाला अंदाज, इस बार मयंक अग्रवाल ने भी दिया साथ- Video

अगर जडेजा एक और विकेट ले लेते, तो वह इस प्रदर्शन के साथ भी कारनामा करने पहले पहले भारतीय खिलाड़ी होते. इस तरह उनके खाते में पारी में नाबाद 175 रन और दोनों पारियो में पांच-पांच विकेट होते. ऐसा करने से वह सिर्फ एक ही विकेट से चूक गए, लेकिन इस प्रदर्शन ने जहां उन्हें भारतीय इतिहास में ऐसा ऑलराउंड प्रदर्शन करने वाले टेस्ट इतिहास के पहले खिलाड़ी बन गए. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


VIDEO: विराट कोहली पूरी करेंगे मैचों की 'सेंचुरी', 100 मैच खेलने वाले 12वें भारतीय बनेंगे