Ind vs Eng: इशांत 300 विकेट लेने वाले बने केवल तीसरे भारतीय पेसर, अब टिकी जहीर की तीन बातों पर नजर

India vs England 1st Test: इस टेस्ट से पहले इशांत का मीटर 297 पर अटका हुआ था और पहली पारी में जोस बटलर और जोफ्रा आर्चर के बाद यह 299 पर पहुंच गया था और यहां से उन्हें इस बहुमूल्य रिकॉर्ड के लिए सिर्फ एक विकेट की दरकार थी, जो लॉरेंस के विकेट के साथ ही इशांत (Ishant Sharma) ने अपनी झोली में डाल लिया.

Ind vs Eng: इशांत 300 विकेट लेने वाले बने केवल तीसरे भारतीय पेसर, अब टिकी जहीर की तीन बातों पर नजर

India vs England: इशांत शर्मा की उपलब्धि बहुत ही बड़ी है

खास बातें

  • भारतीय इतिहास के सिर्फ तीसरे मीडियम पेसर
  • डैम लॉरेंस का विकेट चटकाकर बनाया रिकॉर्ड
  • जल्द छोड़ेंगे अब जहीर को पीछे
नई दिल्ली:

चेन्नई में इंग्लैंड के खिलाफ खेले जा रहे पहले टेस्ट के चौथे दिन आखिरकार इशांत शर्मा (Ishant Sharma) और उनके चाहने वालों का वह सपना पूरा हो ही गया, जो वह पहले दिन से ही पाले हुए थे. पहली पारी में ईशांत (Ishant Sharma complets 300 Wickets) का सपना एकदम किनारे पर अटक गया था, लेकिन चौथे दिन इंग्लैंड की दूसरी पारी "लंबू जी" ने डैन लॉरेंस को एलबीडब्ल्यू आउट कर अपने करियर का 300वां टेस्ट विकेट लिया. इस टेस्ट से पहले इशांत का मीटर 297 पर अटका हुआ था और पहली पारी में जोस बटलर और जोफ्रा आर्चर के बाद यह 299 पर पहुंच गया था और यहां से उन्हें इस बहुमूल्य रिकॉर्ड के लिए सिर्फ एक विकेट की दरकार थी, जो लॉरेंस के विकेट के साथ ही इशांत (Ishant Sharma) ने अपनी झोली में डाल लिया.  और इसी के साथ ही इशांत शर्मा यह कारनामा करने वाले सिर्फ छठे और तीसरे मीडियम पेसर गेंदबाज बन गए. 

Uttarakhand Glacier Break: ऋषभ पंत मदद को आगे आए, पूरी मैच फीस दान में देने का किया ऐलान

जहीर पर है अब नजर
भारतीय मीडिय पेसरों में कपिल देव के बाद जहीर खान ऐसे दूसरे बॉलर हैं, जिनके खाते में 311 विकेट जमा हैं. जाहिर है कि अब इशांत शर्मा की नजर जहीर पर जाकर टिक गयी है. और वह दिन अब ज्यादा दूर नहीं है, जब इशांत के खाते में 312वां विकेट भी इसी साल ही जमा हो जाए 

हसन अली ने फेंकी गजब की गेंद, बोल्ड होने के बाद गेंदबाज को देखने लगा बल्लेबाज..देखें Video

जहीर का पंजा भी पीछे छूटेगा !
भारतीय मीडियम पेसरों में कपिल देव ने पारी में सबसे ज्यादा पांच विकेट 23 बार चटकाए हैं और उनके बाद जहीर और इशांत का नंबर आता है, जिनके नाम पर 11-11 बार यह कारनामा करने का रिकॉर्ड है. जाहिर है कि जहीर यह एक और बात है, जिस पर इशांत की नजर लगी हुयी है. दोनों ने ही मैच में दस विकेट एक बार लिए हैं. 

यहां भी जहीर से मुकाबला


इशांत का जहीर से मुकाबला एक और खास पहलू से है. वह बात जिससे गेंदबाज का कद ऊंचा होने में मदद मिलती है और वह है इकॉनमी रन-रेट (प्रति ओवर में रन संख्या). जहीर ने अपने करियर में 92 टेस्ट में 3.27 का इकॉ. रेट निकाला है, तो फिलहाल इशांत का 98वें टेस्ट में 3.16 का इक़ा.रेट है. जाहिर है कि जहीर से बेहतर बनने के लिए इशांत को लगातार बेहतर करना होगा. यह जहीर की एक और बात है, जिस पर इशांत की नजरें लगी हुई हैं. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


VIDEO: कुछ दिन पहले विराट ने अपने करियर को लेकर बड़ी बात कही थी.