Ind vs Eng 3rd Test: इंग्लिश बल्लेबाज क्राउली ने बतायी वजह क्यों तीसरे टेस्ट में इंग्लैंड टीम रहेगी फायदे में

Ind vs Eng 3rd Test: केंट के लिए खेलने वाले जैक क्राउली पॉक के ड्रेसिंग रूम में मार्बल की सतह पर फिसलने से कलाई में चोट लगने के कारण पहले दो टेस्ट मैचों में नहीं खेल पाया था, लेकिन वह दिन रात्रि टेस्ट में खेलने के लिये पूरी तरह फिट हैं. उन्होंने कहा, ‘मैं नेट्स पर काफी बल्लेबाजी कर रहा हूं और यह सुनिश्चित कर रहा हूं कि मैं इस टेस्ट के लिये जितना संभव हो फिट रहूं.’

Ind vs Eng 3rd Test: इंग्लिश बल्लेबाज क्राउली ने बतायी वजह क्यों तीसरे टेस्ट में इंग्लैंड टीम रहेगी फायदे में

Ind vs Eng: वैसे जैक क्राउली ने बात बहुत हद तक सही कही है

अहमदाबाद:

इंग्लैंड के बल्लेबाज जैक क्राउली (zak crawley) का मानना है कि ‘अविश्सनीय तेज गेंदबाजी आक्रमण और असाधारण बल्लेबाजों' के कारण भारत मजबूत टीम है, लेकिन गुलाबी गेंद से होने वाले तीसरे दिन रात्रि टेस्ट क्रिकेट मैच में उनकी टीम का पलड़ा भारी रहेगा क्योंकि उसे तेज गेंदबाजी की अनुकूल परिस्थितियों में खेलने का अच्छा अनुभव है. चार मैचों की श्रृंखला अभी 1-1 से बराबरी पर है. तीसरा टेस्ट मैच बुधवार से सरदार पटेल मोटेरा स्टेडियम में खेला जाएगा. यह दिन रात्रि टेस्ट होगा. क्राउली  (zak crawley) से पूछा गया कि गेंद को अगर मूवमेंट मिलता है तो क्या इंग्लैंड का पलड़ा भारी रहेगा, उन्होंने कहा, ‘मुझे लगता है कि यह हमारे अनुकूल होगा. हम इस तरह की परिस्थितियों में खेलते हुए बड़े हुए है. तेज गेंदबाजों के लिये अनुकूल परिस्थितियों में गेंद को देर से खेलने की कोशिश करते रहे हैं. इसलिए आप यह कह सकते हैं कि भारतीयों की तुलना में हम ऐसी परिस्थितियों का अधिक अनुभव रखते हैं.'उन्होंने ब्रिटिश मीडिया से कहा, ‘संभवत: यही वजह है कि वे स्पिन के अविश्वनीय खिलाड़ी हैं क्योंकि वे ऐसी परिस्थितियों में खेलते हुए बड़े हुए हैं, लेकिन 23 साल का यह बल्लेबाज भारत के मजबूत तेज गेंदबाजी आक्रमण और कुशल बल्लेबाजों से अच्छी तरह वाकिफ है जो किसी भी तरह की परिस्थितियों में खेलने में माहिर हैं'.

सूर्यकुमार यादव का टी20 टीम में हुआ चयन, तो सोशल मीडिया पर खुशी से झूम उठे फैंस

क्राउली ने कहा, ‘उनके पास अविश्वसनीय तेज गेंदबाजी आक्रमण और असाधारण बल्लेबाज हैं और इसलिए हमें परिस्थितियों का बहुत अधिक फायदा नहीं मिलेगा. वे सक्षम हैं.' क्राउली ने जसप्रीत बुमराह और अनुभवी इशांत शर्मा के अलावा नये तेज गेंदबाज मोहम्मद सिराज के संबंध में यह बात कही. लाल गेंद की तुलना में गुलाबी गेंद अधिक स्विंग करती है, लेकिन क्राउली का मानना है स्पिनर तब भी टेस्ट के परिणाम में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएंगे.

जो कारनामा ईशान किशन ने किया, वह पिछले 50 साल में कोई विकेटकीपर नहीं कर सका


उन्होंने कहा, ‘लाल गेंद की तुलना में गुलाबी गेंद लगता है कि अधिक स्विंग करती है जिससे तेज गेंदबाजों को थोड़ा मदद मिलती है। मुझे उम्मीद है कि पिछले दो टेस्ट मैचों की तुलना में इस मैच में तेज गेंदबाजों को विकेट लेने के अधिक मौके मिलेंगे. यह (पिच) थोड़ी कड़ी भी लगती है इसलिए स्पिनरों को भी इसमें थोड़ा अधिक उछाल मिलेगी. स्पिनर भी अपनी भूमिका निभाएंगे और अगर वे घसियाली पिच तैयार करते हैं तो मुझे हैरानी होगी.' केंट का यह बल्लेबाज चेपॉक के ड्रेसिंग रूम में मार्बल की सतह पर फिसलने से कलाई में चोट लगने के कारण पहले दो टेस्ट मैचों में नहीं खेल पाया था, लेकिन वह दिन रात्रि टेस्ट में खेलने के लिये पूरी तरह फिट हैं. उन्होंने कहा, ‘मैं नेट्स पर काफी बल्लेबाजी कर रहा हूं और यह सुनिश्चित कर रहा हूं कि मैं इस टेस्ट के लिये जितना संभव हो फिट रहूं.'

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


VIDEO: कुछ दिन पहले विराट कोहली ने अपने करियर को लेकर बड़ी बात कही थी.