"मैं निराश और हताश हूं.." विश्व कप फाइनल में हार के बाद टीम इंडिया को कपिल देव ने दिया मैसेज

1983 में भारत को विश्व कप जीताने वाले पहले भारतीय कप्तान कपिल देव टीम के लीग स्टेज में शानदार प्रदर्शन से काफी प्रभावित थे, लेकिन फाइनल में टीम को मिली हार ने उन्हें निराश कर दिया है.

Kapil Dev: कपिल देव ने टीम इंडिया को दिया खास मैसेज

Kapil Dev's Message To India After Cricket World Cup Loss: अहमदाबाद के नरेंद्र मोदी स्टेडियम में आईसीसी वनडे विश्व कप 2023 के फाइनल में भारत को ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ हार का सामना करना पड़ा. भारतीय टीम ने टूर्नामेंट में शानदार प्रदर्शन किया था और लगातार 10 मैच अपने नाम किए थे ऐसे में टीम की फाइनल में हार ने करोड़ो फैंस का दिल तोड़ दिया. करोड़ो फैंस भारत को तीसरी बार विश्व विजेता बनने देखने का सपना संजोए बैठे थे, लेकिन ऐसा हुआ नहीं. वहीं भारत के पहले विश्व चैंपियन कप्तान कपिल देव ने रोहित शर्मा एंड कंपनी की दिल तोड़ने वाली हार पर निराशा व्यक्त की है. 1983 में भारत को विश्व कप जीताने वाले पहले भारतीय कप्तान कपिल देव टीम के लीग स्टेज में शानदार प्रदर्शन से काफी प्रभावित थे, लेकिन फाइनल में टीम को मिली हार ने उन्हें निराश कर दिया है.

रोहित शर्मा की अगुवाई में टीम इंडिया ने लीग स्टेज में शानदार प्रदर्शन किया था और 9 के 9 मुकाबले अपने नाम किए. इसके बाद टीम ने सेमीफाइनल में न्यूजीलैंड को हराकर विश्व कप के फाइनल में प्रवेश किया. हालांकि, फाइनल में टीम को हार का सामना करना पड़ा. विश्व कप के फाइनल में पैट कमिंस की अगुवाई में ऑस्ट्रेलियाई टीम ने आसानी से भारत को हरा दिया. कपिल देव ने भारत की हार कर रहा कि भारत वर्ल्ड कप पर कब्ज़ा नहीं कर सका और उसकी निराशा लंबे समय तक बनी रहेगी.


स्पोर्टस्टार के अनुसार, कपिल देव ने एक बुक लॉन्च के दौरान कहा,"जो हो गया सो हो गया. हाँ, भारत वर्ल्ड कप पर कब्ज़ा नहीं कर सका और उसकी निराशा लंबे समय तक बनी रहेगी, लेकिन एक ख़राब मैच उसे ख़राब टीम नहीं बना देता. छह सप्ताह तक उन्होंने हमें अनगिनत यादों से रोमांचित किया है, जिसने कई लोगों के दिलों में एक विशेष स्थान बना लिया है."

कपिल देव ने आगे कहा,"याद रखें कि आपको जीवन में आगे बढ़ना है. एक और चीज़ जो मैंने समय के साथ सीखी है वह यह है कि कभी भी अपने समय के बारे में बात न करें. हम आगे बढ़ चुके हैं. हम काफी अच्छे नहीं हैं. युवा हमसे कहीं बेहतर हैं. हमारे पास केवल एक चीज है – हमारे पास उन्हें सही दिशा में मार्गदर्शन करने का अनुभव है. वे कहीं बेहतर हैं, लेकिन हम उनका बेहतर मार्गदर्शन कर सकते हैं, बस इतना ही."

कपिल देव ने टीम के अच्छे प्रदर्शन के बाद भी खिताब नहीं जीतने पर कहा,"आज के क्रिकेटरों को दुख है कि वे वर्ल्ड कप नहीं जीत सके, लेकिन उन्होंने अच्छा खेला. मैं जानता हूं कि हमारे मन में जीतना ही सब कुछ है. लेकिन खेलने का तरीका ज्यादा महत्वपूर्ण है. यहां अन्य लोग भी खेलने आये थे. अन्य लोगों ने आखिरी दिन बेहतर खेला. हमें उसका सम्मान करना चाहिए. मैं निराश और हताश हूं कि उन्होंने इतना अच्छा खेला और फिर भी ट्रॉफी नहीं जीत सके. लेकिन (इससे) कोई फर्क नहीं पड़ता. आशा करते हैं कि जो बात हमें इस बार समझ में नहीं आई, उसे हम सीखेंगे और बेहतर ढंग से करेंगे. हम ऐसे ही हैं."

यह भी पढ़ें: "यह क्रिकेट के लिए अच्छा हुआ कि वो हार गए..." पाकिस्तानी दिग्गज ने भारत की विश्व कप में हार पर दिया बड़ा बयान

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

यह भी पढ़ें: हार्दिक पांड्या के जाने के बाद कौन संभालेगा गुजरात टाइटंस की कमान, इस भारतीय बल्लेबाज का नाम सबसे आगे