विज्ञापन
Story ProgressBack
This Article is From Jan 07, 2024

"हां वो ये करता है..." प्रवीण कुमार ने लगाया 'सीनियर' पर बदनाम करने का आरोप, मचाई सनसनी

Praveen Kumar: 2011 में विश्व कप के लिए शुरुआत में जिस टीम का ऐलान किया गया था, प्रवीण कुमार उस टीम का हिस्सा थे, लेकिन चोट के कारण उन्हें बाहर होना पड़ा. इस चोट के कारण प्रवीण कुमार का करियर लगभग खत्म सा हो गया.

"हां वो ये करता है..." प्रवीण कुमार ने लगाया 'सीनियर' पर बदनाम करने का आरोप, मचाई सनसनी
Praveen Kumar: प्रवीण कुमार ने लगाया सीनियर पर बदनाम करने का आरोप

Praveen Kumar accused 'Senior' of defaming him: साल 2007 में पाकिस्तान के खिलाफ डेब्यू करने वाले भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व गेंदबाज ने अपने सीनियर पर उन्हें बदनाम करने का आरोप लगाया है. हाल ही में एक इंटरव्यू के दौरान प्रवीण कुमार ने दावा किया कि एक सीनियर प्लेयर ने उन्हें बदनाम किया. 2011 में विश्व कप के लिए शुरुआत में जिस टीम का ऐलान किया गया था, प्रवीण कुमार उस टीम का हिस्सा थे, लेकिन चोट के कारण उन्हें बाहर होना पड़ा. इस चोट के कारण प्रवीण कुमार का करियर लगभग खत्म सा हो गया. प्रवीण कुमार ने भारत के लिए अपना आखिरी मुकाबला 20 मार्च 2012 को खेला था.

प्रवीण कुमार ने द लल्लनटॉप को दिए इंटरव्यू में कहा कि टीम इंडिया में उनसे कुछ सीनियर ने कहा था कि डिंक्र नहीं करनी है. हालांकि, इस दौरान उन्होंने अपने ही एक सीनियर खिलाड़ी पर उन्हें बदनाम करना का आरोप लगाया. प्रवीण कुमार ने आगे कहा,"हां उस चीज को लेकर कहा कि... पीके ड्रिंक नहीं करनी, ये नहीं करना, वो नहीं करना." वहीं जब उनसे नाम पूछा गया तो प्रवीण कुमार ने कहा,"सीनियर प्लेयर जितने भी थे. करते सब हैं. लेकिन वहीं वाली बात है कि बदनाम कर देते हैं. पीके तो शराब पीता है, सब पीते हैं, हमाम में सब नंगे हैं, बदनाम करना था."

प्रवीण कुमार ने आगे कहा,"जितने भी सीनियर प्लेयर्स हैं, हम तो छोटे ही हैं ना जैसे बच्चे को रखते हैं, ऐसे रखते थे, सभी को रखते हैं, लेकिन कुछ एक जो बदनाम करने वाली बात है, मैं नाम नहीं लेना चाहता कैमरे पर, पता सबको है कि किसने पीके को बदनाम किया है." प्रवीण कुमार ने आगे कहा,"ये तो छवी बना दी गई हां, इसकी छवी बिगाड़ दो," प्रवीण कुमार ने इस पर आगे कहा,"छवी ऐसी बना दी गई थी, कि हां वो ये करता है, वो करता है."

वहीं इस दौरान प्रवीण कुमार ने युवा खिलाड़ियों के लिए कहा कि कोई भी रणजी नहीं खेलना चाहता है और सभी की नजरें आईपीएल पर हैं. "कोई किसी को नहीं बताया, सब अपने आप सीखना पड़ता है, सब करना पड़ता है, मेहनत लगती है, 10 साल लगते है मुकाम पर पहुंचने के लिए, वो आजकर कर नहीं रहे, सबको लग रहा है कि मैं ये खेल जाउं, वो खेल जाउं, आईपीएल खेल जाउं, पहले नीचे के तो खेल ले, फिर खेल लियो आईपीएल"

प्रवीण कुमार ने आगे कहा,"सबको बहुत जल्दी है, अब प्रदेश के लिए कोई खेलना नहीं चाह रहा, सब चाह रहे हैं कि आईपीएल खेल जाउं, अरे जब यहां अच्छा करेगा, तब तो आईपएल में जाएगा.ऐसे कैसे चला जाएगा. तो हम लोग इसको तवज्जो नहीं दे रहे. रणजी ट्राफी, अंडर-19, आईपीएल खेलने में लगे हुए हैं.आईपीएल में खेल लूं, टीवी पर दिख जाउं, पहले यहां खेल लो, यहां मेहनत कर लो, पक के ऊपर जाओगे तो ज्यादा अच्छा लगेगा. दो मैच खेलोगे बाहर हो जाओगे क्या फायदा."

बता दें, भारत के लिए प्रवीण कुमार ने 6 टेस्ट खेले हैं जिसमें उन्होंने 27 विकेट हासिल किए हैं. इसके अलावा उन्होंने 68 वनडे मैचों में 77 विकेट हासिल किए हैं, जबकि 10 टी20 अंतरराष्ट्रीय मैचों में उन्होंने 8 विकेट झटके हैं.

यह भी पढ़ें: Video: हुक्का पीते नजर आए Dhoni, सोशल मीडिया पर वायरल वीडियो ने मचाया तहलका

यह भी पढ़ें: "अब से दो साल बाद..." संजय मांजरेकर ने किया इशारा, केएल राहुल और श्रेयस अय्यर के बीच हो सकती है 'जंग'

NDTV.in पर ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें, व देश के कोने-कोने से और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
IND vs SL: अपने पहले ही टास्क में कोच गंभीर का बड़ा फैसला, श्रीलंका के खिलाफ सीरीज से कर दी शुरुआत
"हां वो ये करता है..." प्रवीण कुमार ने लगाया 'सीनियर' पर बदनाम करने का आरोप, मचाई सनसनी
Sikandar Raza became joint second bowler from Zimbabwe to take highest wickets in T20 International cricket
Next Article
हार गया जिम्बाब्वे, लेकिन सिकंदर रजा ने दुनिया का दिल जीतते हुए रच दिया इतिहास
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
;