AUS vs ENG: एशेज शुरू होने से पहले टूर्नामेंट पर छा रहे विवाद के बादल

ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड क्रिकेट टीम के बीच आगामी आठ दिसंबर से विश्व प्रतिष्ठित एशेज श्रृंखला की शुरुआत हो रही है.

AUS vs ENG: एशेज शुरू होने से पहले टूर्नामेंट पर छा रहे विवाद के बादल

ऑस्ट्रेलिया क्रिकेट टीम (प्रतीकात्मक तस्वीर)

खास बातें

  • आठ दिसंबर से शुरू हो रहा है एशेज
  • कमिंस बनें ऑस्ट्रेलिया के नए टेस्ट कप्तान
  • इंग्लिश टीम कर रही है अभ्यास
कैनबरा:

ऑस्ट्रेलिया (Australia) और इंग्लैंड क्रिकेट टीम (England Cricket Team) के बीच आगामी आठ दिसंबर से विश्व प्रतिष्ठित एशेज श्रृंखला की शुरुआत हो रही है. इस प्रतिष्ठित टूर्नामेंट के शुरू होने से पहले इसपर अबतक कई प्रकार के संकटों के बादल छाए नजर आए. दरअसल प्रतिष्ठित श्रृंखला के शुरू होने से पहले ऑस्ट्रेलियाई टीम की तैयारी कप्तान टिम पेन (Tim Paine) के सेक्स चैट स्कैंडल में आने से प्रभावित होती नजर आई. बताया जा रहा है कि उन्होंने साल 2017 में अपनी सहयोगी महिला कर्मचारी को अश्लील संदेश भेजे थे. वहीं इस मामले के दोबारा सामने आने के बाद पहले पहल तो उन्होंने प्रमुख टूर्नामेंट के शुरू होने से पहले अपने कप्तानी पद से इस्तीफा दे दिया. वह यहीं नहीं रुके. उन्होंने अपना अगला सख्त कदम उठाते हुए क्रिकेट से अनिश्चित कॉल के लिए ब्रेक ले लिया.

पेन के इस बड़े फैसले के बाद ऑस्ट्रेलियाई टीम ने एशेज के लिए अनुभवी 28 वर्षीय तेज गेदंबाज पैट कमिंस को अपना अगला कप्तान नियुक्त किया. वहीं स्टीव स्मिथ को टीम का उपकप्तान बनाया गया. कमिंस को कप्तान बनाए जानें के बाद ऐसी खबर आ रही है कि वह इस अहम पद के लिए पूरी तरह से तैयार नहीं थे, लेकिन ऑस्ट्रेलियाई बोर्ड के दबाव के बाद उन्हें झुकना पड़ा. वहीं टीम के पूर्व दिग्गज स्पिनर शेन वॉर्न (Shane Warne) स्मिथ को टीम का उपकप्तान बनाए जानें से नाखुश नजर आए. 

शार्दुल ठाकुर ने गर्लफ्रेंड के साथ की सगाई, देखें Photos and Video


बता दें पेन को 'सैंडपेपर-गेट' मामले के बाद ऑस्ट्रेलिया का अगला टेस्ट कप्तान नियुक्त किया गया था. उनकी देखरेख में टीम मिला जुला प्रदर्शन करने में कामयाब रही. वहीं एशेज जैसे प्रमुख श्रृंखला से पहले पेन के अनिश्चितकालीन ब्रेक पर जानें के फैसले पर पूर्व इंग्लिश कप्तान एलिस्टेयर कुक ने हैरानी जताई है. फिलहाल निर्णय हो चूका है ऑस्ट्रेलियाई टीम कमिंस के नेतृत्व में एशेज श्रृंखला की शुरुआत करेगी.

वहीं एशेज से पहले इंग्लिश टीम की भी मुसीबतें कुछ कम नहीं रही. दरअसल इन दिनों इंग्लैंड में रेसिज्म को लेकर जबरदस्त उठापठक देखने को मिल रहा है. इंग्लिश काउंटी क्लब यॉर्कशायर के खिलाड़ी रहे रफीक ने अपने साथी खिलाड़ियों के उपर आरोप लगाया है कि जब वह क्लब के लिए खेल रहे थे उस दौरान उनके खिलाफ नस्लवादी भाषाओं का इस्तमाल किया गया. जिसकी वजह से उनका क्रिकेट करियर भी प्रभावित हुआ.

मुंबई टेस्ट में श्रेयस अय्यर खेलेगें या नहीं? भारतीय दिग्गज ने दिया बड़ा बयान

वहीं पाकिस्तानी मूल के रफीक ने मौजूदा इंग्लिश कप्तान जो रूट को लेकर कहा कि वह एक अच्छे इंसान हैं, लेकिन उन्होंने 'संस्थागत नस्लवाद' की अनदेखी की. इंग्लिश कप्तान ने हाल ही में यॉर्कशर काउंटी क्लब में नस्लवाद को लेकर निंदा की थी.

इससे पहले पांच मैचों की टेस्ट श्रृंखला से पहले एक लंबी अवधि तक कोविड-19 बायो-बबल दिशानिर्देशों का पालन करने पर इंग्लिश बल्लेबाजों ने चिंता जाहिर की थी. दरअसल खिलाड़ियों को एक लंबी अवधि तक बायो-बबल में रहना काफी थका देना वाला नजर आ रहा था, लेकिन बातचीत के बाद दोनों टीमों के खिलाड़ी आगामी टूर्नामेंट के लिए तैयार हो गए हैं और इंग्लिश खिलाड़ी गोल्ड कोस्ट के एक आलीशान रिसॉर्ट में 14 दिनों के क्वारेंटीन के बाद अब अभ्यास मुकाबलों में हिस्सा ले रहे हैं.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


सचिन तेंदुलकर ने एमपी के गांवों का किया दौरा
. ​