"बिहार में गई 15 लाख नौकरियां, डबल इंजन सरकार ने बर्बाद किया आने वाला कल" : रोजगार को लेकर बरसे तेजस्वी यादव

तेजस्वी यादव ने कहा कि विगत एक वर्ष में बिहार में 15 लाख नौकरियां और रोजगार समाप्त हुए हैं. NDA सरकार का 19 लाख नौकरियां/रोजगार देने का वादा था लेकिन क्या हुआ?

रोजगार को लेकर तेजस्वी यादव का एनडीए सरकार पर हमला (फाइल फोटो)

पटना:

कोरोना वायरस (Coronavirus) महामारी के दौरान कई लोगों की नौकरियां गईं तो कई लोगों का अपना कारोबार बंद हो गया. अर्थव्यवस्था का शायद ही कोई ऐसा क्षेत्र बचा हो, जो महामारी के दौर में प्रभावित नहीं हुआ है. बिहार के पूर्व उप मुख्यमंत्री और राष्ट्रीय जनता दल के नेता तेजस्वी यादव (Tejashwi Yadav) ने रोजगार और नौकरियों को लेकर मंगलवार को बिहार की एनडीए सरकार पर हमला बोला. उन्होंने कहा कि विगत एक साल में बिहार में 15 लाख नौकरियां और रोजगार खत्म हुए हैं. तेजस्वी ने आरोप लगाया कि एनडीए सरकार लोगों से किया नौकरी देने का अपना वादा निभाने में नाकाम रही है.  


तेजस्वी यादव ने अपने ट्वीट में एक रिपोर्ट का हवाला देते हुए लिखा, "विगत एक वर्ष में बिहार में 15 लाख नौकरियां और रोजगार समाप्त हुए हैं. NDA सरकार का 19 लाख नौकरियां/रोजगार देने का वादा था लेकिन क्या हुआ? सोचिए, डबल इंजन सरकार के झूठ ने आपके वर्तमान और भविष्य को कैसे बर्बाद कर दिया है? बेरोजगारी, बेकारी और महंगाई के खिलाफ हमारा संघर्ष जारी रहेगा."

phqff7p8

तेजस्वी यादव का एनडीए सरकार पर हमला

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


बता दें कि आरजेडी नेता तेजस्वी यादव रोजगार के अलावा बिहार की कानून व्यवस्था समेत अन्य मुद्दों को लेकर अकसर राज्य की एनडीए सरकार पर निशाना साधते रहे हैं. बिहार में जातिगत जनगणना कराने की भी वह मुखर रूप से वकालत कर रहे हैं. बिहार सरकार का हिस्सा नीतीश कुमार की पार्टी भी इसके पक्ष में है. हाल ही में बिहार के राजनीतिक दलों के नेताओं ने इस मुद्दे पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात भी की थी.