PM ने जैसे कृषि कानून वापस लिए, नीतीश भी शराबबंदी कानून वापस लें : BJP विधायक

उन्होंने पुलिस प्रशासन पर निशाना साधते हुए कहा कि पुलिस मिली हुई है और शराब बिकवा रही है. अगर पुलिस चाह ले तो पत्ता नहीं हिलेगा

पटना :

बिहार में शराबबंदी कानून पर नीतीश सरकार (Nitish Government)  विधायक ही सवाल उठाने लगे हैं. राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) के भाजपा विधायक हरिभूषण ठाकुर बचौल ने सीएम नीतीश कुमार ( CM Nitish Kumar) से निवेदन किया है कि जिस तरीके से पीएम मोदी ने कृषि कानूनों की वापसी का ऐलान कर दिया है, उसी तरह बिहार में भी शराबबंदी कानून वापस हो.

उन्होंने पुलिस प्रशासन पर निशाना साधते हुए कहा कि पुलिस मिली हुई है और शराब बिकवा रही है. अगर पुलिस चाह ले तो पत्ता नहीं हिलेगा. बचौल ने कहा कि मैं सीएम के 15 साल के सुशासन काल पूरा होने पर निवेदन कर रहा हूं कि सीएम शराबबंदी कानून को वापस ले लें. उन्होंने कहा कि कृषि कानूनों से 96 प्रतिशत किसानों को फायदा होने वाला था. लेकिन जनदबाव में आकर पीएम मोदी ने कानून को वापस ले लिया. बिहार में भी यह कानून वापस हो सकता है.

भाजपा विधायक हरि भूषण ठाकुर ने कहा कि शराबबंदी कानून लागू करने के लिए जिम्मेदार लोग ही इसका उल्लंघन कर रहे हैं. नतीजतन, छात्रों को जेल हो रही है, माफियाओं और विक्रेताओं को नहीं. मैं बिहार के सीएम से शराबबंदी कानून को वापस लेने का आग्रह करता हूं.

बिहारः ''शराबबंदी को लेकर पहले ही नीतीश को आगाह किया था'', लालू प्रसाद यादव ने शराब तस्करी पर कहा

भाजपा विधायक ने कहा कि शराबबंदी कानून हमलोगों पर भारी पड़ रहा है. क्षेत्र में पुलिस की मनमानी है. जो शराब बेचते हैं, उन्हें पुलिस नहीं ले जा रही है और जो नहीं बेचता है, उसे धमकाया जाता है. पुलिस तंत्र कमजोर शराबबंदी कानून को कमजोर कर रहा है. रखवाला ही चोर बना हुआ है.

देश प्रदेश : बिहार में शादियों में खोजी जा रही है शराब, खंगाले जा रहे हैं कमरे


Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com