शार्क के हेलीकॉप्टर पर Attack का Video शेयर करते ही ट्रोल हो गईं किरण बेदी, जानिए क्यों भड़क उठे लोग

वीडियो में दिखाया गया है कि शार्क हेलिकॉप्टर को पकड़ने के लिए ऊंची छलांग लगा रही है, जिसमें हैरान लोगों का एक समूह डरते हुए ये देख रहा है.

शार्क के हेलीकॉप्टर पर Attack का Video शेयर करते ही ट्रोल हो गईं किरण बेदी, जानिए क्यों भड़क उठे लोग

शार्क के हेलीकॉप्टर पर Attack का Video शेयर करते ही ट्रोल हो गईं किरण बेदी

पुडुचेरी की पूर्व उपराज्यपाल किरण बेदी (Former Puducherry Lieutenant Governor Kiran Bedi) को एक वीडियो शेयर करने के लिए ऑनलाइन ट्रोल किया जा रहा है, जिसमें एक विशाल शार्क एक हेलीकॉप्टर को नीचे उतारने के लिए पानी से बाहर कूदती दिखाई दे रही है. वीडियो पर लिखे टेक्स्ट का दावा है कि नेशनल ज्योग्राफिक ने वीडियो के अधिकार प्राप्त करने के लिए 1 मिलियन डॉलर का भुगतान किया.

वीडियो में दिखाया गया है कि शार्क हेलिकॉप्टर को पकड़ने के लिए ऊंची छलांग लगा रही है, जिसमें हैरान लोगों का एक समूह डरते हुए ये देख रहा है. वीडियो खत्म होते ही हेलीकॉप्टर पानी में दुर्घटनाग्रस्त हो जाता है और आग की लपटों में घिर जाता है.

यह दरअसल 2017 में आई फिल्म '5 हेडेड शार्क अटैक' (5 Headed Shark Attack) का एक सीन है.

देखें Video:

पोस्ट के कारण ट्विटर यूजर के कमेंट्स की बाढ़ आ गई, कई लोग सोचने लगे कि क्या उनका अकाउंट हैक कर लिया गया है.

एक ट्विटर यूजर ने लिखा, "धन्यवाद मैडम! आप लाखों आईएएस/आईपीएस उम्मीदवारों के लिए प्रेरणा स्रोत हैं. यह उन्हें यह सोचने का आत्मविश्वास देता है कि अगर आपके आईक्यू वाला कोई व्यक्ति ऐसा कर सकता है, तो वे भी कर सकते हैं. ”

दूसरे ने कहा,"इस ट्वीट को देखने के बाद मेरी धारणा है कि 'आईपीएस, गवर्नर, पीएचडी आईआईटी दिल्ली, मैगसेसे अवार्डी उच्च आईक्यू / बुद्धिमान लोग हैं'. अब मैं समझता हूं कि वे व्हाट्सएप विश्वविद्यालय से स्नातक भी हो सकती हैं. ”

फ़ैक्ट-चेकर मोहम्मद ज़ुबैर ने भी बेदी को यह कहते हुए कमेंट किया की कि "नेशनल जियोग्राफ़िक ने एक मिलियन डॉलर का भुगतान किया" एक धोखा है.

कड़ी आलोचना के बाद, बेदी ने एक और ट्वीट में उसी वीडियो को फिर से पोस्ट किया, इस बार स्पष्टीकरण के साथ: “इस साहसी वीडियो का स्रोत खुला है और सत्यापन के अधीन है. प्रामाणिक और सच्चा स्रोत जो भी हो यह भयानक है. लेकिन प्रशंसनीय, भले ही क्रिएट किया गया हो. कृपया इसे इस चेतावनी के विरुद्ध देखें."

यह पहली बार नहीं है जब सेवानिवृत्त आईपीएस अधिकारी को उनके ट्विटर पोस्ट के लिए ट्रोल किया गया है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

जनवरी 2020 में, उसने अपने सत्यापित ट्विटर प्रोफाइल पर एक नकली वीडियो शेयर किया, जिसमें दावा किया गया था कि अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी नासा द्वारा रिकॉर्ड किए गए सूर्य की आवाज में "ओम" के मंत्र सुनाई दे रहे हैं.