Republic Day 2021 Shayari: गणतंत्र दिवस पर एक-दूसरे को भेजें यह शायरी और कहें Happy Republic Day

Republic Day 2021: 26 जनवरी (Republic Day) का मौका है और हर तरफ देशभक्ति का माहौल है. भारत 72वां गणतंत्र दिवस (72nd Republic Day) मना रहा है. इस दिन दिल्ली के राजपथ पर गणतंत्र दिवस की परेड (Republic Day Parade) आयोजित होती है.

Republic Day 2021 Shayari: गणतंत्र दिवस पर एक-दूसरे को भेजें यह शायरी और कहें Happy Republic Day

गणतंत्र दिवस पर एक-दूसरे को भेजें यह शायरी और कहें Happy Republic Day

26 जनवरी (Republic Day) का मौका है और हर तरफ देशभक्ति का माहौल है. भारत 72वां गणतंत्र दिवस (72nd Republic Day) मना रहा है. दरअसल, 26 जनवरी 1950 को हमारे देश में संविधान लागू हुआ, जिसके उपलक्ष्य में हर साल 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस के रूप में मनाया जाता है. इस दिन दिल्ली के राजपथ पर गणतंत्र दिवस की परेड (Republic Day Parade) आयोजित होती है. घरों में टीवी पर लोग इस प्रोग्राम को लाइव देखते हैं और इसी के साथ एक-दूसरे को देशभक्ति से जुड़े शेरो शायरी भी भेजते हैं. आज यहां आपको गणतंत्र दिवस की शानदार शायरी बता रहे हैं, जिन्हें आप भी एक-दूसरे को भेज सकते हैं.

2021 Republic Day Shayari

k4lgeodo


याद रखेंगे वीरों तुमको हरदम
यह बलिदान तुम्हारा है
हमको तो है जान से प्यारा यह गणतंत्र हमारा है

देश भक्तों के बलिदान से
स्वतंत्र हुए हैं हम
कोई पूछे कौन हो
तो गर्व से कहेंगे
भारतीय हैं हम

कुछ नशा तिरंगे की आन है
कुछ नशा मातृभूमि की शान का है
हम लहराएंगे हर जगह ये तिरंगा
नशा ये हिंदुस्तान की शान का है

वतन हमारा ऐसा कोई न छोड़ पाये
रिश्ता हमारा ऐसा कोई न तोड़ पाये
दिल एक है एक है जान हमारी
हिंदुस्तान हमारा है हम इसकी शान है

नहीं सिर्फ जश्न मनाना, नहीं सिर्फ झंडे लहराना
ये काफी नहीं है वतन पर, यादों को नहीं भुलाना
जो कुर्बान हुए उनके लफ़्ज़ों को आगे बढ़ाना
खुदा के लिए नही ज़िन्दगी वतन के लिए लुटाना
हम लाएं है तूफान से कश्ती निकाल के
इस देश को रखना मेरे बच्चों संभाल के

भारत के गणतंत्र का, सारे जग में मान
दशकों से खिल रही, उसकी अद्भुत शान
सब धर्मों को देकर मान रचा गया इतिहास का
इसलिए हर देशवासी को इसमें है विश्वास

वतन हमारा ऐसे ना छोड़ पाए कोई
रिश्ता हमारा ऐसे ना तोड़ पाए कोई
दिल हमारा एक है एक है हमारी जान
हिन्दुस्तान हमारा है हम है इसकी शान

आज़ादी का जोश कभी कम ना होने देंगे
जब भी ज़रुरत पड़ेगी देश के लिए जान लुटा देंगे
क्योंकि भारत हमारा देश है
अब दोबारा इस पर कोई आंच ना आने देंगे


अलग है भाषा, धर्म जात
और प्रांत, भेष, परिवेश
पर हम सब का एक ही गौरव है
राष्ट्रध्वज तिरंगा श्रेठ

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


चलो फिर से खुद को जगाते हैं
अनुशासन का डंडा फिर घुमाते हैं
याद करें उन शूरवीरों को क़ुर्बानी
जिनके कारण हम इस लोकतंत्र का आनंद उठाते हैं