दिल्ली की हवा होगी बिल्कुल साफ़, इस कंपनी ने 'पराली' से 'कंपोस्ट' बनाने की तकनीक की विकसित

इन दिनों राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र की हवा काफी दूषित है. इस कारण लोगों को कई परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है. एनसीआर की हवा की गुणवत्ता बेहद ख़राब है. इस समस्या से इस क्षेत्र में रहने वाले सभी लोग प्रभावित हैं.

दिल्ली की हवा होगी बिल्कुल साफ़, इस कंपनी ने 'पराली' से 'कंपोस्ट' बनाने की तकनीक की विकसित

इन दिनों राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र (NCR) की हवा काफी दूषित (Air Pollution) है. इस कारण लोगों को कई परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है. एनसीआर की हवा की गुणवत्ता (AQI)  बेहद ख़राब है. इस समस्या से इस क्षेत्र में रहने वाले सभी लोग प्रभावित हैं. सरकार की तमाम कोशिशों के बावजूद ये समस्या जस के तस बनी हुई है. केंद्र और राज्य सरकार एक दूसरे पर आरोप-प्रत्यारोप कर रही है. राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र में हवा में प्रदूषण होने (Delhi's stubble burning crisis) की सबसे बड़ी वजह किसानों के पराली जलाना है. हालांकि, वायु प्रदूषण के और भी कई कारक हैं, मगर इस बात से इंकार नहीं किया जा सकता है कि पराली जलाना भी एक कारक है. इसी से निजात पाने के लिए अर्बन फार्म्स कंपनी एक ऐसी व्यवस्था लेकर आई है, जिससे प्रदूषण तो कम होगा ही, साथ ही साथ किसानों को कंपोस्ट भी मिलेंगे.

वीडियो देखें

वीडियो में देख सकते हैं कि कैसे अर्बन फार्म्स कंपनी पराली को कंपोस्ट में बदलकर किसानों को फायदा पहुंचा रही है. हर साल देखा जाता है कि दिल्ली राष्ट्रीय क्षेत्र में प्रदूषण की समस्या होती है. सर्दियों में ये मामला और तेज़ी से बढ़ जाता है. ऐसे में अर्बन फार्म्स कंपनी की ये तकनीक आमलोगों को राहत पहुंचाएगी, साथ ही साथ किसानों को भी फायदा पहुंचाएगी. पराली से बनाए हुए खाद ज़मीनों के लिए बेहद असरदार होते हैं. अर्बन फार्म्स कंपनी के अनुसार, ये खाद मिट्टी को उर्वरक बनाएंगे. साथ ही साथ फसलों को विकसित होने में कंपोस्ट काफी मदद भी करेगा. आनंद महिंद्रा का ट्वीट देखें

देश के मशहूर उद्योगपति आनंद महिंद्रा ने भी ट्वीट करते हुए जानकारी दी है कि अब मिट्टी की सेवा होगी. नंदी फाउंडेशन और अर्बन फार्म्स कंपनी ने किसानों और देशवासियों के लिए बेहतरीन तोहफा दिया है. अब पराली की मदद से फसलों को और बेहतरीन तरीके से उगाया जाएगा. आनंद महिंद्रा का ये ट्वीट सोशल मीडिया पर बहुत तेज़ी से वायरल हो रहा है.

जानकारी के लिए बता दूं कि अर्बन फार्म्स कंपनी ने दिल्ली के समीप पल्ला में पराली से कंपोस्ट बनाने की तकनीक की स्थापना की है. इसकी मदद से आस-पास के किसानों से पराली ले ली जाएगी और बदले में कंपोस्ट दिया जाएगा. इस माध्यम से किसानों को अब पराली जलाने की बिल्कुल ज़रूरत नहीं होगी, बदले में उन्हें बेहतरीन खाद भी मिलेंगे. इसके लिए कंपनी ने दिल्ली के आस-पास के किसानों के साथ पार्टनरशिप भी की है.


इस मुद्दे पर अर्बन फार्म्स कंपनी के अधिकारियों का कहना है कि हमारा मक़सद दिल्ली के प्रदूषण को दूर करना है. हम चाहते हैं कि किसान पराली को जलाएं नहीं हमें दे दें ताकि हम उनका खाद बना सकें. हम किसानों को फार्म सेंटर पल्ला में ट्रेनिंग के साथ- साथ मार्गदर्शन भी देंगे. इतना ही नहीं, किसानों को अच्छे दाम भी देंगे.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


नंदी फाउंडेशन के सीईओ मनोज कुमार ने बताया कि हम अर्बन फार्म्स कंपनी के साथ मिलकर पराली जलाने की समस्या हमेशा के लिए ख़त्म करना चाहते हैं. बदले में हम किसानों और आम लोगों की ज़िंदगी में बदलाव लाने की कोशिश कर रहे हैं. हम पराली के जलने से हो रहे प्रदूषण को रोककर एक बेहतरीन कंपोस्ट बना रहे हैं, जो किसानों के लिए बेहद महत्वपूर्ण हैं. इससे खेत और उपजाऊ होंगे, साथ ही साथ फ़सलें भी बेहतरीन होंगी.