मछली का बड़ा-सा म्यूजियम, यहां झील के किनारे देख सकेंगे तरह-तरह की खूबसूरत मछलियां

इंडियन फॉरेस्ट ऑफिसर (IFS) सुशांता नंदा (Susanta Nanda) ने अपने ट्विटर (Twitter) से एक फोटो पोस्ट करते हुए लिखा,  कोरोनावायरस महामारी के बीच हमने चिल्का झील के किनारे मछलियों का एक म्यूजियम बनाया है.

मछली का बड़ा-सा म्यूजियम, यहां झील के किनारे देख सकेंगे तरह-तरह की खूबसूरत मछलियां

मछली का बड़ा-सा म्यूजियम

इंडियन फॉरेस्ट ऑफिसर (IFS) सुशांता नंदा (Susanta Nanda) ने अपने ट्विटर (Twitter) से एक फोटो पोस्ट करते हुए लिखा,  कोरोनावायरस महामारी के बीच हमने चिल्का झील के किनारे मछलियों का एक म्यूजियम बनाया है. आपको बता दें कि इस म्यूजियम में मछलियों की 330 प्रजातियां और चिलिका की 12 प्रजातियां 2 लाख मछुआरों के जीवन का निर्वाह करती हैं और ओडिशा के समुद्री खाद्य निर्यात का लगभग 20% हिस्सा है. यह फोटो सोशल मीडिया पर काफी वायरल हो रही है. सोशल मीडिया यूजर इस फोटो पर तरह- तरह के कमेंट करते हुए नजर आ रहे हैं. 

शेयर होने के बाद से ही यह फोटो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है. इस फोटो पर अब तक 78 रिट्वीट और 600 से अधिक लाइक्स आ चुके हैं. वहीं इस फोटो पर कई कमेंट भी आ चुके हैं. जिस पर सोशल मीडिया यूजर कमेंट किया है, बहुत खूबसूरत. बहुत बढ़िया. साथ ही साथ सुशांता नंदा को चिल्का झील के किनारे खूबसूरत से म्यूजियम बनवाने के लिए खास बधाई भी दी है. 


Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


चिल्का झील की जितनी भी तारीफ की जाए कम है. चिल्का झील उड़ीसा प्रदेश के समुद्री अप्रवाही जल में बनी एक झील है. यह भारत की सबसे बड़ी एवं विश्व की दूसरी सबसे बड़ी समुद्री झील है. इसको चिलिका झील के नाम से भी जाना जाता है. इसकी सबसे बड़ी खासियत यह है कि इस झील का पानी पूरी तरह से खारा है लेकिन बरसात में इसका पानी मीठा होता है.