पिता नहीं रहें, घर की हाल दयनीय, ऐसे में दोनों भाइयों ने रेस्टोरेंट चलाकर दिल जीत लिया

कई बार ज़िन्दगी में ऐसे मोड़ आते हैं कि इंसान परिस्थितियों के सामने मज़बूर हो जाता है. ना चाहते हुए भी ज़िंदगी से लड़ना पड़ता है. हमारे जीवन में पिता का महत्व बहुत ही ज़्यादा है. पिता है तो बच्चों के सपने ज़िंदा हैं. सोचिए, जिनके पिता नहीं हैं.

पिता नहीं रहें, घर की हाल दयनीय, ऐसे में दोनों भाइयों ने रेस्टोरेंट चलाकर दिल जीत लिया

कई बार ज़िन्दगी में ऐसे मोड़ आते हैं कि इंसान परिस्थितियों के सामने मज़बूर हो जाता है. ना चाहते हुए भी ज़िंदगी से लड़ना पड़ता है. हमारे जीवन में पिता का महत्व बहुत ही ज़्यादा है. पिता है तो बच्चों के सपने ज़िंदा हैं. सोचिए, जिनके पिता नहीं हैं, उन्हें क्या-क्या नहीं झेलना पड़ता होगा. सोशल मीडिया पर एक वीडियो बहुत ही तेज़ी से वायरल हो रहा है. वायरल वीडियो को देखने के बाद आप बेहद भावुक हो जाएंगे. यह कहानी 17 साल के जशनदीप सिंह और उसके 11 साल के भाई अंशदीप सिंह की है. उनके पिता अचानक चले गए, ऐसे में घर की ज़िम्मेदारी दोनों भाइयों के कंधों पर हैं. 

देखें वायरल वीडियो

ट्विटर पर दोनों भाइयों की कहानी, अमरजीत सिंह ने शेयर की. वीडियो में दोनों भाई पिज़्ज़ा और सैंडविच बनाते नज़र आ रहे हैं. जशनदीप सिंह ने बताया कि पिता के गुज़रने के बाद वो और उसका भाई 26 दिसंबर, 2021 से ही रेस्टोरेंट संभाल रहे हैं. वीडियो में जशनदीप अपनी परेशानियों के बारे में बात करते हुए कह रहा है कि ज़्यादातर पैसे सामान लाने में ही ख़र्च हो जाते हैं.

ग़ौरतलब है कि जशनदीप के चेहरे पर उम्मीद भी नज़र आती है. जशनदीप ने बताया कि उसके पिता कभी उम्मीद न छोड़ने की सीख देते थे. सिख गुरु गोबिंद सिंह जी से भी प्रेरणा लेते हुए जशनदीप कहते हैं कि अपने हक़ का खाना है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


वीडियो के आख़िर में दोनों भाई सभी से अपने रेस्टोरेंट पर आने की अपील करते हैं और उन्हें साफ़ और लज़ीज़ खाना परोसने का आश्वासन देते हैं.दोनों भाई रेस्टोरेंट से 25 किलोमीटर दूर रहते हैं और रोज़ आवाजाही करते हैं. लोगों ने इन दोनों भाइयों के जज़्बे को सलाम किया-