US ने की तालिबान के 'पेशेवराना-सहयोगी' रुख की सराहना, अमेरिकियों की सुरक्षित निकासी में सहयोग के लिए की तारीफ

अमेरिका की नेशनल सिक्‍युरिटी काउंसिल की प्रवक्‍ता एमिली हॉर्न ने कहा, 'कतर एयरवेज की चार्टर्ड फ्लाइट से काबुल से दोहा की उड़ान को नई सरकार का सकारात्‍मक  कदम माना जा सकता है.'

US ने की तालिबान के 'पेशेवराना-सहयोगी' रुख की सराहना, अमेरिकियों की सुरक्षित निकासी में सहयोग के लिए की तारीफ

अमेरिका के विदेश मंत्री एंटोनी ब्लिंकेन जर्मनी में एक अफगान शरणार्थी परिवार से मिलते हुए

वॉशिंगटन:

अमेरिका (United States) ने अफगानिस्‍तान से अपने सैनिकों की वापसी के बाद इस मुल्‍क से अपने नागरिकों की पहली सुरक्षित निकासी के लिए तालिबान के पेशेवराना और सहयोगी रुख (Taliban as businesslike and cooperative) की सराहना की है. अमेरिका की नेशनल सिक्‍युरिटी काउंसिल की प्रवक्‍ता एमिली हॉर्न ने कहा, 'कतर एयरवेज की चार्टर्ड फ्लाइट से काबुल से दोहा की उड़ान को नई सरकार का सकारात्‍मक  कदम माना जा सकता है.'

काबुल के हामिद करजई इंटरनेशनल एयरपोर्ट का जिक्र करते हुए  उन्‍होंने एक बयान में कहा, 'HKIA से चार्टर्ड फ्लाइट्स से अमेरिकी नागरिकों और वैध स्‍थायी निवासियों की रवानगी में तालिबान पूरा सहयोग कर रहा है. उन्‍होंने (तालिबान ने) लचीलापन दिखाया है और इन प्रयासों में वे हमारे साथ व्‍यवहार में व्‍यावसायिक और पेशेवर रहे हैं. ' अमेरिकी विदेश विभाग के प्रवक्‍ता नेड प्राइस ने बाद में एक ट्वीट में बताया कि लगभग 40 अमेरिकी नागरिकों या निवासियों को फ्लाइट में चढ़ने के लिए आमंत्रित किया गया था लेकिन 21 ही सवार हो सके. उन्‍होंने कहा, 'निश्चित रूप से हम ऐसी कुछ और फ्लाइट देखना चाहेंगे.' इससे पहले उन्‍होंने कहा था कि हमने सार्वजनिक बयानों में सुना है कि आने वाले समय में ऐसी फ्लाइट्स अरेंज की जाएंगी. अमेरिका ने इससे पहले कहा था कि करीब 100 से कुछ अधिक अमेरिकियों के इस समय अफगानिस्‍तान में मौजूद होने का अनुमान है. अमेरिकी राष्‍ट्रपति की ओर से अफगानिस्‍तान में अगस्‍त माह में 20 साल का सैन्‍य अभियान खत्‍म करने के बाद यह बयान सामने आया था.  


इससे पहले, अमेरिकी राष्ट्रपति कार्यालय व्हाइट हाउस (White House) ने कहा था कि अफगानिस्तान (Afghanistan) में नयी अंतरिम सरकार को मान्यता देने की हड़बड़ी में नहीं है और वह अपने नागरिकों को संकटग्रस्त देश से निकालने के लिए तालिबान (Taliban) से बातचीत कर रहा है. व्हाइट हाउस की प्रेस सचिव जेन साकी ने दैनिक संवाददाता सम्मेलन में कहा था,‘इस प्रशासन से कोई नहीं, न तो राष्ट्रपति और न ही राष्ट्रीय सुरक्षा दल से कोई यह मानेगा कि तालिबान वैश्विक समुदाय का सम्मानित एवं महत्‍वपूर्ण सदस्य है. उन्होंने किसी भी तरह से अपनी साख ऐसी नहीं बनाई है और न ही हमने ऐसा कभी कहा है. यह कार्यवाहक मंत्रिमंडल है जिसमें जेल भेजे जा चुके चार तालिबान लड़ाके भी शामिल हैं.''

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


- - ये भी पढ़ें - -
* 'ऐसा जमींदार जो अपनी हवेली भी न संभाल सका', कांग्रेस पर शरद पवार का तीखा तंज
* 'तिपहिया को इलेक्ट्रिक वाहनों में बदलने पर अब भारत की निगाह, सरकार ने 2030 तक रखा लक्ष्य
* अगले महीने आ सकती है कोरोना की तीसरी लहर, NIDM की रिपोर्ट में कई सुझाव
* भारत में पिछले 24 घंटे में 34,973 नए COVID-19 केस, कल से 7.7 फीसदी कम