कोरोना का इलाज करा रहे ट्रंप अस्पताल से व्हाइट हाउस पहुंचे, फौरन हटाया मास्क

कोरोना संक्रमण का इलाज़ करा रहे अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप अस्पताल से वापस व्हाइट हाउस पहुंचे. व्हाइट हाउस पहुंचते ही ट्रंप ने अपना मास्क उतार दिया. मास्क उतार कर राष्ट्रपति ट्रंप ने ये संदेश देने की कोशिश की है कि वे पूरी तरह से ठीक हो गए हैं.

कोरोना का इलाज करा रहे ट्रंप अस्पताल से व्हाइट हाउस पहुंचे, फौरन हटाया मास्क

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (फाइल फोटो).

वाशिंगटन:

कोरोना संक्रमण का इलाज़ करा रहे अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप अस्पताल से वापस व्हाइट हाउस पहुंचे. व्हाइट हाउस पहुंचते ही ट्रंप ने अपना मास्क उतार दिया. मास्क उतार कर राष्ट्रपति ट्रंप ने ये संदेश देने की कोशिश की है कि वे पूरी तरह से ठीक हो गए जबकि उनके इलाज में जुटे डाक्टरों ने उनके पूरी तरह से ठीक न होने की बात कही है. ये भी कहा है कि व्हाइट हाउस में स्वास्थ्य सेवा दी जाती रहेगी.

बता दें कि ट्रंप की हालत बेहतर हुई है. हालांकि वे अभी पूरी तरह ठीक नहीं  हुए हैं. यह जानकारी ट्रंप के डाक्टर कॉनलेय ने प्रेस को दी. एक दिन पहले ही ट्रंप कुछ देर के लिए गाड़ी से बाहर निकले थे और समर्थकों का अभिवादन स्वीकार किया था.

व्हाइट हाउस के अधिकारियों ने बताया था कि वाल्टर रीड नेशनल मिलिट्री मेडिकल सेंटर में तीन रातें गुजारने के बाद ट्रंप छुट्टी के लिए आतुर थे. डॉक्टरों ने सोमवार को कहा था कि हाल के दिनों में अचानक दो बार उनका ऑक्सीजन स्तर गिर गया और उन्हें ऐसा ऐस्ट्रॉयड दिया जिसे बहुत ही बीमार व्यक्ति को ही दिये जाने की सिफारिश की जाती है.

यह भी पढ़ें:COVID का इलाज करा रहे ट्रंप कुछ देर के लिए अस्पताल से बाहर निकले, कोरोना के नियम तोड़ने पर 'घिरे'

उसके बाद भी डॉक्टरों ने कहा था कि ट्रंप का स्वास्थ्य सुधर रहा है और उन्हें सोमवार को छुट्टी दी जा सकती है एवं बाकी उपचार व्हाइट हाउस में होगा. व्हाइट हाउस के चीफ ऑफ स्टाफ मार्क मीडोस ने सोमवार को फॉक्स न्यूज से कहा, ‘‘ यह एक अहम दिन है क्योंकि राष्ट्रपति के स्वास्थ्य में सुधार जारी है और वह सामान्य कामकाज पर लौटने के लिए तेयार हैं.''

इससे पहले व्हाइट हाउस के एक चिकित्सक ने रविवार को कहा कि पिछले कुछ दिन में राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के रक्त में ऑक्सीजन का स्तर अचानक दो बार गिर गया था, लेकिन तब से उनकी हालत में लगातार सुधार हुआ है.

ट्रंप का उपचार लगातार सेना के अस्पताल में चल रहा था. ट्रंप के डॉक्टरों ने सेना के अस्पताल द्वारा उठाये गये कदमों पर प्रतिक्रिया में राष्ट्रपति के ऑक्सीजन स्तर में गिरावट की सही-सही समय की जानकारी नहीं दी और यह भी नहीं बताया कि क्या उनके फेफड़ों की जांच में कोई नुकसान होने की बात सामने आई है.

यह भी पढ़ें:डोनाल्ड ट्रम्प की सेहत में "लगातार हो रहा सुधार '', सोमवार को अस्पताल से मिल सकती है छुट्टी

नौसेना के कमांडर डॉक्टर सीन कोनले ने स्वीकार किया कि एक दिन पहले वह राष्ट्रपति की सेहत की गंभीरता को कम दिखाने की कोशिश कर रहे थे. उन्होंने कहा, ‘‘मैं टीम के, राष्ट्रपति के उत्साहजनक रवैये को झलकाने की कोशिश कर रहा था. ऐसी कोई जानकारी नहीं देना चाहता था जो इलाज के तौर-तरीकों को किसी दूसरी दिशा में ले जाए.'' 

कोनले ने कहा, ‘‘ऐसा करने में इस तरह की धारणा बनी कि हम कुछ छिपाने की कोशिश कर रहे थे, जो सच नहीं था. कुल मिलाकर सच यह है कि वह अच्छे हैं.'' कोनले ने कहा कि राष्ट्रपति को शुक्रवार को तेज बुखार था और उनका रक्त ऑक्सीजन का स्तर 94 प्रतिशत के नीचे था. जब डॉक्टर से पूछा गया कि क्या राष्ट्रपति का ऑक्सीजन स्तर 90 प्रतिशत के नीचे चला गया था तो उन्होंने सवाल को टालते हुए कहा, ‘‘इस बारे में हमारे पास यहां कोई जानकारी नहीं है.'' 

यह भी पढ़ें:COVID से जंग लड़ रहे ट्रंप ने शेयर किया VIDEO, बोले- जल्द वापस लौटूंगा, अगले कुछ दिनों में "असल इम्तिहान" 

ट्रंप की मेडिकल टीम ने कहा कि उनके ऑक्सीजन का स्तर इस समय 98 प्रतिशत है. इससे पहले ट्रंप ने शनिवार को सेना के अस्पताल से वीडियो संदेश जारी कर कहा, ‘‘जब मैं यहां आया था, तब इतना अच्छा महसूस नहीं हो रहा था. अब काफी बेहतर लग रहा है. हम सभी बहुत मेहनत कर रहे हैं ताकि मैं वापस आ सकूं. मुझे लौटना ही होगा, क्योंकि हमें फिर से अमेरिका को बहुत आगे ले जाना है.''

ट्रंप ने ट्विटर पर डाले अपने करीब चार मिनट के वीडियो संदेश में कहा कि चुनाव जीतने और अपना काम पूरा करने के लिए उन्हें लौटना है. राष्ट्रपति ने कहा कि वह वायरस से लड़ रहे हैं और उम्मीद जताई कि वह उसे हरा देंगे. उन्होंने कहा कि उन्हें जो उपचार मिल रहा है, वह किसी चमत्कार से कम नहीं है.


 उन्होंने कहा, ‘‘जब मैं यह कहता हूं तो लोग मेरी आलोचना करते हैं, लेकिन कुछ ऐसा हो रहा है जिनके बारे में लगता है कि ये ईश्वर के चमत्कार हैं. मैं इतना कहना चाहता हूं कि मैं अच्छा महसूस करने लगा हूं.'' ट्रंप ने कहा कि प्रथम महिला मेलानिया की तबियत भी ठीक है. मेलानिया भी कोरोना वायरस से संक्रमित हैं और व्हाइट हाउस में ही रह रही हैं.
 

COVID-19 से पीड़ित डोनाल्ड ट्रंप की सेहत पर अटकलों का दौर

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com