लद्दाख में भारत-चीन सीमा तनाव पर बोला अमेरिका, 'अपने मित्रों के साथ खड़े रहेंगे...'

पिछले महीने नौवें दौर की सैन्य बातचीत में भारत और चीन के बीच सेनाओं को जल्द से जल्द हटाने और पूर्वी लद्दाख में स्थिति को नियंत्रित करने के लिए निरंतर ‘प्रभावी प्रयास करने’ पर सहमति बनी थी.

लद्दाख में भारत-चीन सीमा तनाव पर बोला अमेरिका, 'अपने मित्रों के साथ खड़े रहेंगे...'

प्रतिकात्मक तस्वीर.

वाशिंगटन:

भारत-चीन सीमा (India-China Border) के हालात पर अमेरिका पैनी नजर रखे हुए है और उसने अपने पड़ोसियों को डराने-धमकाने के चीन के रवैए पर चिंता व्यक्त की है. विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता नेड प्राइस ने अपने दैनिक संवाददाता सम्मेलन में कहा, ‘हम हालात पर पैनी नजर रखे हुए हैं. हम भारत एवं चीन की सरकारों के बीच जारी वार्ता से अवगत हैं और सीधी वार्ता और उन सीमा विवादों के शांतिपूर्ण समाधान का लगातार समर्थन कर रहे हैं.' भारत और चीन की सेनाओं के बीच पिछले साल मई की शुरुआत से पूर्वी लद्दाख में सीमा को लेकर गतिरोध चल रहा है.

पिछले महीने नौवें दौर की सैन्य बातचीत में भारत और चीन के बीच सेनाओं को जल्द से जल्द हटाने और पूर्वी लद्दाख में स्थिति को नियंत्रित करने के लिए निरंतर ‘प्रभावी प्रयास करने' पर सहमति बनी थी. 

जिनपिंग के खिलाफ बाइडेन के तीखे बयान पर चीन की सधी प्रक्रिया, मतभेद दूर करने पर दिया जोर

एक सवाल के जवाब में प्राइस ने कहा, ‘हम पड़ोसियों को डराने धमकाने के चीन के लगातार जारी रवैये से चिंतित हैं. हम हिंद-प्रशांत क्षेत्र के मामले में साझा समृद्धि, सुरक्षा और मूल्यों को आगे बढ़ाने के लिए अपने मित्रों और सहयोगियों के साथ खड़े रहेंगे.'

पड़ोसियों को डराने-धमकाने की कोशिश में जुटा चीन, अमेरिका ने कहा- "अपने दोस्तों के साथ खड़े हैं हम"

Video : सेनाध्यक्ष बोले, चीन और पाकिस्तान की जुगलबंदी को लेकर भारत सतर्क


Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com




(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)