आतंकी संगठन अल कायदा ने सीरिया से तालिबान को दी 'जीत' की बधाई

सीरिया से आतंकी संगठन हयात तहरीर अल शाम (HTS) ने यह आधिकारिक बयान जारी किया है, इसमें कहा गया है कि HTS तालिबान को दृढ़ता के लिए एक प्रेरणा के रूप में देखता है और तालिबान की जीत एक उदाहरण है.

आतंकी संगठन अल कायदा ने सीरिया से तालिबान को दी 'जीत' की बधाई

अफगानिस्‍तान पर तालिबान के कब्‍जे के बाद मुल्‍क में लोगों में दहशत है (फाइल फोटो)

नई दिल्‍ली :

आतंकी संगठन अल कायदा ने अफगानिस्‍तान पर नियंत्रण के लिए तालिबान को सीरिया से बधाई दी है. अरब प्रायद्वीप से अल कायदा की ओर से जारी किए गए बयान में  कहा गया है, 'अफगानिस्‍तान में नियंत्रण पर हम ग्रुप की प्रशंसा  करते हैं और बधाई देते हैं. ' सीरिया से आतंकी संगठन हयात तहरीर अल शाम (HTS) ने यह आधिकारिक बयान जारी किया है, इसमें कहा गया है कि HTS तालिबान को दृढ़ता के लिए एक प्रेरणा के रूप में देखता है और तालिबान की जीत अपने आप में एक उदाहरण है. HTS ने सीरिया में बशर को हराने और वहां इस्‍लामिक अमीरात के नियम लागू करने की उम्‍मीद जताई है. पश्चिमी चीन में स्थित तुर्किस्‍तान इस्‍लामिक पार्टी (TIP)ने भी एक बयान जारी करके अफगानिस्‍तान में 'इस्‍लामिक स्‍टेट' की स्‍थापना के लिए तालिबान को बधाई दी है.

कंधार, हेरात में बंद पड़े भारतीय कॉन्स्यूलेटों का दौरा किया तालिबान ने, काग़ज़ात तलाशे : सरकारी सूत्र


गौरतलब है कि अफगानिस्तान पर तालिबान के कब्जे के बाद वहां के राष्ट्रपति अशरफ गनी ने देश छोड़ दिया था. उन्हें संयुक्त अरब अमीरात शरण दी है. संयुक्त अरब अमीरात ने बुधवार को कहा कि वह तालिबान के अधिग्रहण के बीच अफगानिस्तान से भागे राष्ट्रपति अशरफ गनी की "मानवीय आधार पर" मेजबानी कर रहा है. वैसे, फगानिस्‍तान पर तालिबान के  कब्‍जे के बीच लोग इस 'आतंकी संगठन' के खिलाफ एकजुट हो रहे हैं. पूर्व में तालिबान के ख़िलाफ़ लड़ाई लड़ने वाले अहमद शाह मसूद के बेटे अहमद मसूद ने (Ahmed Masood) अब 'इस संगठन'  के ख़िलाफ़ मोर्चा खोल दिया है.तालिबान के खिलाफ छेड़ी गई इस जंग में अहमद मसूद ने दुनिया से भी मदद भी मांगी है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com