Russia अंतरराष्ट्रीय अंतरिक्ष स्टेशन को छोड़ने की तैयारी में : एएफपी ने अधिकारी के हवाले से बताया

रूस (Russia) की अंतरिक्ष एजेंसी की तरफ से पहले भी यह जानकारी सामने आई थी कि रूस ISS के प्रोग्राम को छोड़ने का फैसला इसलिए भी कर रहा है क्‍योंकि रूस अब अपना ऑर्बिटल सर्विस स्‍टेशन तैनात करना चाहता है. 

Russia अंतरराष्ट्रीय अंतरिक्ष स्टेशन को छोड़ने की तैयारी में : एएफपी ने अधिकारी के हवाले से बताया

ISS प्रोग्राम में रूस और अमेरिका के अलावा यूरोप और कनाडा भी शामिल हैं. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

रूस (Russia) ने इंटरनेशनल स्‍पेस स्टेशन (ISS) से बाहर निकलने का फैसला किया है. रुस साल 2024 तक अंतरराष्ट्रीय स्पेस स्टेशन से निकलने की तैयारी में हैं.  इससे पहले मई महीने में यह खबर आई थी कि रूस की अंतरिक्ष एजेंसी रोस्कोस्मोस (Roscosmos) के लीडर ने एक मीडिया इंटरव्‍यू में यह खुलासा किया था. हालांकि कहा जा रहा है कि रूसी ऑर्बिटल सेगमेंट (ROS) को मेंटेन रखने के लिए रूस कुछ समय तक इंटरनेशनल स्‍पेस स्टेशन पर काम करता रहेगा. रोस्कोस्मोस के प्रमुख दिमित्री रोगोजिन ने रूस की सरकारी समाचार एजेंसी Tass के साथ एक इंटरव्‍यू में कहा कि इंटरनेशनल स्‍पेस स्टेशन (ISS) से बाहर निकलने का फैसला पहले ही लिया जा चुका है. 

उन्होंने इंटरव्‍यू में कथित तौर पर कहा कि हम इसके बारे में सार्वजनिक रूप से बात करने के लिए बाध्य नहीं हैं. मैं केवल यह कह सकता हूं कि हम अपने पार्टनर्स को ISS पर हमारा काम खत्म होने के बारे में एक साल पहले ही चेतावनी दे देंगे. उन्होंने इशारा दिया कि ISS के प्रोग्राम को छोड़ने का फैसला इसलिए भी है, क्‍योंकि रूस अब अपना ऑर्बिटल सर्विस स्‍टेशन तैनात करना चाहता है. रूस साल 1998 में इस मिशन से जुड़ा था. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


आपको बता दें कि रूस ने साल 2015 में भी घोषणा की थी कि वह साल 2024 तक ISS का हिस्सा रहेगा. तब रूस ने कहा था कि वह साल 2024 के बाद रूसी मॉड्यूल को ISS से अलग कर लेगा और पृथ्वी की निचली कक्षा में अपना अंतरिक्ष स्टेशन बनाएगा.