..."तो तीन हिस्सों में टूट जाएगा Pakistan"..., Imran Khan ने दी धमकी

इमरान खान (Imran Khan) ने सरकार से “सही निर्णय” लेने का आग्रह किया और चेतावनी दी कि अगर पाकिस्तान (Pakistan) को अपनी परमाणु प्रतिरोधक क्षमता (Nuclear Power) खोनी पड़ी, तो वह “तीन टुकड़ों” में विभाजित हो जाएगा.

...

Pakistan में Imran Khan के एक इंटरव्यू को लेकर काफी बवाल हो रहा है (File Photo)

इस्लामाबाद/अंकारा:

पाकिस्तान (Pakistan) के ‘‘तीन टुकड़ों में टूटने की'' इमरान खान (Imran Khan) की टिप्पणी पर तीखी प्रतिक्रिया देते हुए प्रधानमंत्री शहबाज शरीफ (PM Shehbaz Sharif) ने बृहस्पतिवार को कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री “सार्वजनिक पद के योग्य नहीं” हैं. फिलहाल तुर्की (Turkey) की यात्रा कर रहे प्रधानमंत्री ने पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (PTI) सुप्रीमो पर “देश के खिलाफ धमकी” देने का आरोप लगाया, और अपने पूर्ववर्ती को “पाकिस्तान के विभाजन के बारे में बात करने” के खिलाफ चेतावनी दी.

प्रधानमंत्री ने ट्वीट किया, “जब मैं तुर्की में समझौते पर हस्ताक्षर कर रहा हूं, इमरान नियाज़ी देश के खिलाफ धमकियां दे रहे हैं. नियाज़ी सार्वजनिक पद के लिए अयोग्य हैं और इसके लिये अगर किसी भी सबूत की जरूरत थी, तो उनका नवीनतम साक्षात्कार पर्याप्त है.”

उन्होंने अपने ट्वीट में इमरान खान को चेतावनी दी, “अपनी राजनीति कीजिए लेकिन सीमा लांघने की हिमाकत और पाकिस्तान के बंटवारे के बारे में बात मत कीजिए.”

इंटरव्यू पर हुआ बवाल

ट्विटर पर पाकिस्तान मुस्लिम लीग-नवाज (पीएमएल-एन) के प्रधानमंत्री की नवीनतम टिप्पणियों में खान द्वारा एक निजी समाचार समूह “बोल न्यूज” को दिए गए एक साक्षात्कार का हवाला दिया गया है. इस साक्षात्कार में पीटीआई प्रमुख ने सरकार से “सही निर्णय” लेने का आग्रह किया और चेतावनी दी कि अगर पाकिस्तान को अपनी परमाणु प्रतिरोधक क्षमता खोनी पड़ी, तो वह “तीन टुकड़ों” में विभाजित हो जाएगा.

क्रिकेटर से नेता बने खान ने यह भी कहा कि मौजूदा राजनीतिक स्थिति देश के साथ-साथ सरकार के लिए भी एक समस्या है। उन्होंने कहा, “अगर सरकार सही निर्णय नहीं लेती है तो मैं (आपको) लिखित रूप में आश्वासन दे सकता हूं कि (किसी और से पहले) वह और सेना नष्ट हो जाएगी क्योंकि अगर देश दिवालिया हो गया तो देश का क्या होगा.”

उन्होंने कहा, “पाकिस्तान कर्ज न चुका पाने की ओर जा रहा है. अगर ऐसा होता है तो कौन सी संस्था (सबसे बुरी तरह) प्रभावित होगी? सेना। इसके प्रभावित होने के बाद, हमसे क्या रियायत ली जाएगी? परमाणु निरस्त्रीकरण.” उन्होंने कहा कि देश “खुदकुशी की ओर” जा रहा है और सरकार को “सही निर्णय” लेने की आवश्यकता है.

पीएमएल-एन के ट्विटर हैंडल पर साझा किए गए एक अलग बयान में, शहबाज शरीफ को यह कहते हुए उद्धृत किया गया था कि खान की टिप्पणी इस बात का सबूत है कि पीटीआई प्रमुख “एक साजिश में शामिल थे, राजनीति में नहीं.”

पीएमएल-एन के ट्वीट में शरीफ के हवाले से कहा गया, “यह बयान नहीं है बल्कि देश में अराजकता और विभाजन की आग भड़काने की साजिश है.”

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


इससे पहले, खान की टिप्पणी की निंदा करते हुए, पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी (PPP) के सह-अध्यक्ष आसिफ अली जरदारी ने ट्वीट कर कहा, “इमरान खान, इस दुनिया में सत्ता ही सब कुछ नहीं है. बहादुर बनो और अपने पैरों पर खड़े होकर राजनीति करना सीखो.”