Monkeypox Virus: अब मंकीपॉक्स को लेकर WHO ने जताई चिंता, कई देशों में दी इसने दस्तक

कई देशों से मंकीपॉक्स के केस सामने आ रहे हैं, ऐसे में भारत सरकार भी सतर्क हो गई है. तमिलनाडु सरकार ने अफ्रीकी देशों सहित विभिन्न देशों से आए लोगों से अपील की है कि यदि उन्हें मंकीपॉक्स जैसे लक्षण महसूस हों तो वे इसकी जानकारी स्थानीय स्वास्थ्य अधिकारी को दें.

Monkeypox Virus: अब मंकीपॉक्स को लेकर WHO ने जताई चिंता,  कई देशों में दी इसने दस्तक

मंकीपॉक्स एक संक्रामक रोग है, जो आमतौर पर हल्का होता है.

विश्व स्वास्थ्य संगठन ने रविवार को कहा कि कई देशों में एक साथ मंकीपॉक्स के केस आना, जहां यह बीमारी आमतौर पर नहीं पाई जाती है. इससे पता चलता है कि ये वायरस फैल रहा है और अनडिटेक्टेड ट्रांसमिशन है. डब्ल्यूएचओ ने एक बयान में कहा कि 26 मई तक, 23 सदस्य राज्यों से कुल 257 पुष्ट मामले और 120 संदिग्ध मामले सामने आए हैं, जो वायरस के लिए स्थानिक नहीं हैं. एजेंसी ने कहा कि उसे उम्मीद है कि स्थानिक और गैर-स्थानिक देशों में निगरानी के चलते अधिक मामले सामने आएंगे.

ये भी पढ़ें- सिद्धू मूसेवाला की हत्या पर कांग्रेस ने कहा, पंजाब सरकार को बर्खास्त किया जाए

मंकीपॉक्स एक संक्रामक रोग है, जो आमतौर पर हल्का होता है, और पश्चिम और मध्य अफ्रीका के कुछ हिस्सों में स्थानिक है. ये निकट संपर्क से फैलता है, इसलिए इसे दूरी और स्वच्छता जैसे उपायों के माध्यम से नियंत्रित किया जा सकता है. अब तक रिपोर्ट किए गए अधिकांश मामले यूके, स्पेन और पुर्तगाल में पाए गए हैं.

भारत सरकार भी हुई सतर्क

कई देशों से मंकीपॉक्स के केस सामने आ रहे हैं, ऐसे में भारत सरकार भी सतर्क हो गई है. तमिलनाडु सरकार ने अफ्रीकी देशों सहित विभिन्न देशों से आए लोगों से अपील की है कि यदि उन्हें मंकीपॉक्स जैसे लक्षण महसूस हों तो वे इसकी जानकारी स्थानीय स्वास्थ्य अधिकारी को दें. स्वास्थ्य विभाग के सचिव जे. राधाकृष्णन ने कहा कि 'हमें मंकीपॉक्स बीमारी को लेकर केंद्र सरकार की ओर से अंतरिम दिशा-निर्देश मिले हैं, जिनमें कहा गया है कि वैसे तो अफ्रीकी देशों या यूरोप, ऑस्ट्रेलिया, कनाडा, और अमेरिका से आए लोगों में हवाई अड्डे पर बीमारी के लक्षण नहीं मिले हैं, लेकिन जिन लोगों में आगमन के 21 दिन के अंदर कुछ लक्षण विकसित हुए हों, उन्हें स्वास्थ्य अधिकारी को इसकी जानकारी देनी होगीय''

उन्होंने कहा, 'हमें बताया गया है कि बीमारी गंभीर नहीं होगी, लेकिन हमें इसे रोकने के लिए सावधान रहना होगा. अब तक, देश में मंकीपॉक्स से संबंधित कोई मामला सामने नहीं आया है.'

वहीं दुनिया के विभिन्न देशों से ऐतिहासिक ताजमहल के दीदार के लिए यहां पर्यटकों के पहुंचने की पृष्ठभूमि में मंकीपॉक्स को लेकर अलर्ट जारी किया गया है. स्वास्थ्य विभाग की ओर से आगरा के लिए विशेष परामर्श जारी किया गया है और खासतौर पर विदेश से आने वाले पर्यटकों पर स्वास्थ्य विभाग पैनी नजर बनाए हुए है.

मुख्य चिकित्सा अधिकारी (सीएमओ) डॉ. अरुण श्रीवास्तव ने बताया कि ब्रिटेन, अमेरिका, कनाडा और आस्ट्रेलिया के साथ यूरोप के कुछ देशों में मंकीपॉक्स के मामले सामने आए हैं.

उन्होंने बताया कि इन देशों से भी बड़ी संख्या में पर्यटक ताजमहल का दीदार करने के लिए आगरा पहुंचते हैं, ऐसे में अब इन विदेशी पर्यटकों पर स्वास्थ्य विभाग की टीम खासतौर से नजर रखेगी. (भाषा इनपुट के साथ)

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
       

VIDEO: सिद्धू मूसेवाला हत्याकांड को लेकर सुनील जाखड़ ने AAP सरकार पर बोला हमला, कहा- न्यायिक जांच हो