विज्ञापन
Story ProgressBack
This Article is From Jan 08, 2020

सामने आया उस वक्त का वीडियो, ...जब ईरान ने इराक एयरबेस पर दागी मिसाइलें

इन मिसाइलों हमलों का एक वीडियो स्थानीय लोगों ने अपने मोबाइल फोन से शूट किया है. वीडियो में मिसाइलों के जमीन से टकराने से जोरदार धमाके की आवाज सुनी जा सकती है.

Read Time: 4 mins
सामने आया उस वक्त का वीडियो, ...जब ईरान ने इराक एयरबेस पर दागी मिसाइलें
शीर्ष सैन्य कमांडर की हत्या के बाद ईरान ने पहली बार अमेरिकी सैन्य कैंप पर हमला किया है
नई दिल्ली:

शीर्ष सैन्य जनरल कासिम सुलेमानी की हत्या के बाद ईरान ने इराक में अमेरिकी सेना के द्वारा इस्तेमाल किए जा रहे दो एयरबेस पर करीब दर्जनभर मिसाइलें दागी हैं. इन मिसाइल हमलों का एक वीडियो स्थानीय लोगों ने अपने मोबाइल फोन से शूट किया है. वीडियो में रात के अंधेरे में आसमान पर रोशनी की लकीर जाती हुई दिखाई देती है और फिर आग के गोले की शक्ल में जमीन से टकरा जाती है. मिसाइलों के जमीन से टकराने से जोरदार धमाके की आवाज होती है. धमाके की आवाज से सहमकर शूट कर लोग चिल्लाने लगते हैं और वहां से भागने लगते हैं. 

बता दें, ईरान ने ये मिसाइले इराक में अमेरिकी सैन्य कैंप अल-असद और इरबिल पर दागी है. हालांकि अभी तक इन हमलों में किसी के हताहत होने की खबर नहीं आई है. वहीं अमेरिकी रक्षा मंत्रालय पेंटागन ने भी इस बात की पुष्टि की है कि ईरान की ओर से इराक स्थित उसके दो सैन्य कैंप पर मिसाइले दागी गई हैं. 

मिसाइल हमले के बाद पेंटागन ने ट्वीट कर कहा,  '7 जनवरी को ईरान ने इराक में अमेरिकी सेना और गठबंधन सेना के एयरबेस पर एक दर्जन से अधिक बैलिस्टिक मिसाइलों दागी हैं. यह स्पष्ट है कि इन मिसाइलों को ईरान ने दागा है. ईरान ने अल-असद और इरबिल में अमेरिकी सेना द्वारा इस्तेमाल किए जा रहे एयरबेस को निशाना बनाया गया है.' बता दें, जनरल कामिस सुलेमानी की एक अमेरिकी ड्रोन हमले में मौत के बाद खाड़ी क्षेत्र में तनाव चरम पर पहुंच गया है और ईरान में बदले की मांग जोर पकड़ी रही है. उसी के मद्देनजर ईरान ने यह मिसाइल हमला किया है. 

ईरान ने इराक में अमेरिका सेना द्वारा यूज किए जा रहे दो एयरबेस पर दागी दर्जनभर मिसाइलें, देखें VIDEO

वहीं अमेरिका के विदेश मंत्री माइक पोम्पिओ ने मंगलवार को कहा कि शीर्ष ईरानी जनरल कासिम सुलेमानी की हत्या करके अमेरिका ने ‘सही किया है.' पोम्पिओ ने ट्रम्प के फैसले को पूरी तरह से कानूनी और तेहरान की दुर्भावनापूर्ण गतिविधि से पैदा खतरे से मुकाबला करने की अमेरिका की रणनीति के अनुरूप बताते हुए इसका बचाव किया. पोम्पिओ ने विदेश मंत्रालय में पत्रकारों से बात करते हुए कहा कि अगर ईरान के खिलाफ बदले की कार्रवाई की जरूरत पड़ी, तो अमेरिका युद्ध के अंतरराष्ट्रीय कानूनों का पालन करेगा. उनका बयान ऐसे वक्त में आया है जब ट्रंप ने कहा है कि अगर ईरान ने सुलेमानी का बदला लेने के लिए हमला किया तो अमेरिका उसके सांस्कृतिक स्थलों पर हमला करेगा.

VIDEO: अमेरिकी हमले के बाद ईरान के राजदूत ने NDTV से की खास बातचीत

NDTV.in पर ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें, व देश के कोने-कोने से और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
;