भारत की 'जैसे को तैसा' कार्रवाई के बाद ब्रिटेन के रुख में नरमी, टीका पात्रता सूची की हो रही समीक्षा 

वर्तमान में ब्रिटिश सरकार की स्वीकृत टीकाकरण सूची में अमेरिका और यूरोप के अलावा ऑस्ट्रेलिया, एंटीगुआ और बारबुडा, बारबाडोस, बहरीन, ब्रुनेई, कनाडा, डोमिनिका, इज़राइल, जापान, कुवैत, मलेशिया, न्यूजीलैंड, कतर, सऊदी अरब , सिंगापुर, दक्षिण कोरिया, ताइवान और संयुक्त अरब अमीरात उन 18 देशों में शामिल हैं.

भारत की 'जैसे को तैसा' कार्रवाई के बाद ब्रिटेन के रुख में नरमी, टीका पात्रता सूची की हो रही समीक्षा 

क्वारंटीन नियमों पर भारत ने भी ब्रिटेन पर जवाबी कार्रवाई की है.

लंदन:

ब्रिटेन (United Kingdom) की अंतरराष्ट्रीय यात्रा से संबंधित कोविड-19 टीका पात्रता सूची में शामिल देशों की ''निरंतर समीक्षा'' की जा रही है. ब्रिटिश सरकार के सूत्रों ने यह जानकारी दी है. उन्होंने शुक्रवार को कहा कि इस सूची में 18 देश शामिल हैं, लेकिन भारत को जगह नहीं दी गई है. सूची में शामिल देशों के यात्रियों के टीकाकरण प्रमाण पत्र को मान्यता दी गई है जबकि अन्य देशों के यात्रियों को ब्रिटेन पहुंचने पर क्वारंटीन में रहना अनिवार्य होगा.

ब्रिटेन के इस कदम के जवाब में भारत ने जवाबी कदम उठाते हुए टीका लगवा चुके ब्रिटिश यात्रियों के लिये भारत आने पर क्वारंटीन में रहना सोमवार से अनिवार्य कर दिया है. ब्रिटेन सरकार ने भारत की इस योजना पर आधिकारिक रूप से अभी कोई प्रतिक्रिया नहीं दी है.

एक आधिकारिक सूत्र ने कहा, ''देशों की सूची की निरंतर समीक्षा की जा रही है. हमें उम्मीद है कि उसमें और देशों को शामिल किया जाएगा. लेकिन इसके लिये कोई समयसीमा निर्धारित नहीं है.''

पिछले महीने, ब्रिटेन ने कहा  था कि सभी देशों की COVID-19 वैक्सीन सर्टिफिकेशन को "न्यूनतम मानदंड" पूरा करना चाहिए और वह भारत के साथ अपने अंतर्राष्ट्रीय यात्रा मानदंडों के लिए "चरणबद्ध दृष्टिकोण" पर काम कर रहा है. भारत समेत कई देशों में पूरी तरह से वैक्सीनेटेड लोगों को भी ब्रिटेन की यात्रा करने पर क्वारंटीन में रहना अनिवार्य कर दिया गया था. ब्रिटेन ने सिर्फ 18 देशों को इससे छूट दी थी.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


वर्तमान में ब्रिटिश सरकार की स्वीकृत टीकाकरण सूची में अमेरिका और यूरोप के अलावा ऑस्ट्रेलिया, एंटीगुआ और बारबुडा, बारबाडोस, बहरीन, ब्रुनेई, कनाडा, डोमिनिका, इज़राइल, जापान, कुवैत, मलेशिया, न्यूजीलैंड, कतर, सऊदी अरब , सिंगापुर, दक्षिण कोरिया, ताइवान और संयुक्त अरब अमीरात उन 18 देशों में शामिल हैं.



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)