Coronavirus : US पहुंचा भारत में मौजूद 'डबल म्यूटेशन' वेरिएंट, कैलिफोर्निया में पहला केस

यूनाइटेड स्टेट्स के कैलिफोर्निया में कोरोनावायरस का एक नया वेरिएंट मिला है, जिसे भारत में फैला डबल म्यूटेशन वाला वेरिएंट बताया जा रहा है. यूएस में इस वेरिएंट का पहला मामला मिला है. भारत में कोरोना की दूसरी लहर जबरदस्त तेजी से फैली हुई है.

Coronavirus : US पहुंचा भारत में मौजूद 'डबल म्यूटेशन' वेरिएंट, कैलिफोर्निया में पहला केस

US Coronavirus : डबल म्यूटेशन वाला वायरस कैलिफोर्निया में मिला. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

भारत में बढ़ते मामलों के बीच यूनाइटेड स्टेट्स के कैलिफोर्निया में कोरोनावायरस का एक नया वेरिएंट मिला है, जिसे भारत में फैला हुआ वेरिएंट बताया जा रहा है. यूएस में इस वेरिएंट का पहला मामला मिला है. भारत में कोरोनावायरस का डबल म्यूटेशन वाला वेरिएंट मिला है. इस बीच देश में कोरोना की दूसरी लहर जबरदस्त तेजी से फैल गई है. पहली लहर में जितने मामले आए थे, उससे कहीं ज्यादा मामले सामने आ रहे हैं.

San Francisco Chronical के मुताबिक, स्टैनफर्ड क्लीनिकल वाइरोलॉजी लैब ने जीनोम सीक्वेंसिंग के जरिए भारत में फैल रहे वेरिएंट की पहचान और और पुष्टि की है. लैब डायरेक्टर डॉक्टर बेंजामिन पिंस्की ने इसकी जानकारी दी. यह लैब ऐसे ही सात और संभावित मामलों के नमूनों की जांच कर रहा है और अगले कुछ दिनों में इसकी रिपोर्ट आ जाएगी.

वेबसाइट ने डॉक्टर पिंस्की और कुछ दूसरी मीडिया रिपोर्टों के हवाले से बताया है कि वेरिएंट की पुष्टि स्टैनफर्ड हेल्थ केयर क्लीनिक के एक मरीज में हुई है और माना जा रहा है कि सैंटा क्लारा काउंटी में यह मरीज इस वेरिएंट से संक्रमित हुआ है.

यूनिवर्सिटी ऑफ कैलिफोर्निया सैन फ्रांसिस्को में संक्रामक रोगों के विशेषज्ञ पीटर चिन-हॉन्ग ने क्रॉनिकल को बताया कि भारत वाले वेरिएंट में पहली बार वायरस के दो नए म्यूटेशन मौजूद हैं, जो कि पिछले वेरिएंट्स में देखे गए थे.

यह भी पढ़ें : कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच न्यूजीलैंड ने लगाई भारत से आने वालों पर रोक

कैसे बना है डबल म्यूटेटेड वेरिएंट?

बता दें कि भारत में तेजी से फैले संक्रमण के पीछे संभावित रूप से इसी वेरिएंट को माना जा रहा है. इसे 'डबल म्यूटेंट' इसलिए कहा जा रहा है क्योंकि इस वेरिएंट में वायरस के दो नए म्यूटेशन हैं. यानी कि जो शुरुआती वायरस का जीनोम था, उसने दो म्यूटेशन किए, फिर ये दो नए म्यूटेशन आपस में मिल गए, जिससे नया वेरिएंट बना. सबसे पहले वायरस के म्यूटेंट वेरिएंट्स यूके, साउथ अफ्रीका और ब्राजील में मिलने शुरू हुए थे.


बाद में भारत में वायरस के दो वेरिएंट्स ने साथ में मिलकर म्यूटेशन कर लिया और नया वेरिएंट बन गए. अब ये वेरिएंट पहली बार यूएस में मिला है. हालांकि, अभी यह नहीं पता चल सका है कि ये नया वेरिएंट पहले के मौजूद वेरिएंट से कितना ज्यादा संक्रामक है या फिर इस्तेमाल में आ रही वैक्सीन का इसपर कितना प्रभाव है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


बता दें कि भारत में पिछले दिनों कोरोना की शुरुआत के बाद के सबसे ज्यादा आंकड़े आए हैं. दूसरी लहर में कोरोना संक्रमण के मामले 1 लाख के आंकड़े से कहीं ऊपर पहुंच चुके हैं. गुरुवार यानी 8 अप्रैल को पिछले 24 घंटे में 1,26,789 नए COVID-19 केस दर्ज हुए हैं, जो अब तक के सबसे ज्यादा नंबर हैं. इस अवधि में 685 मरीजों की मौत हुई है.