विज्ञापन
Story ProgressBack
This Article is From Sep 19, 2023

कनाडा-भारत में बढ़ी तकरार, भारतीय राजनयिक को देश छोड़ने को कहा

कनाडा की विदेश मंत्री ने कहा कि आज हमने एक सीनियर भारतीय राजनयिक को कनाडा से निष्काषित कर दिया है. भारतीय राजनयिक कनाडा में भारत की विदेशी खुफिया एजेंसी रिसर्च एंड एनालिसिस विंग (रॉ) के चीफ हैं.

कनाडा ने भारतीय राजनयिक को किया निष्कासित

कनाडा ने भारत पर खालिस्तानी आतंकवादी की हत्या में शामिल होने का आरोप लगाया और जवाबी कार्रवाई में नई दिल्ली के इंटेलिजेंस चीफ को निष्कासित कर दिया. कनाडा के इस  कूटनीतिक कदम ने ओटावा और दिल्ली के बीच संबंधों में पहले से भी ज्यादा खटास आ गई है. कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो ने हाउस ऑफ कॉमन्स को संबोधित करते हुए कहा कि जून में ब्रिटिश कोलंबिया में खालिस्तानी आतंकी हरदीप सिंह निज्जर की हत्या में भारतीय एजेंटों के शामिल होने के "विश्वसनीय आरोप" थे. हमारी सरकार इन आरोपों की सक्रियता से जांच कर रही है. जस्टिन ट्रूडो ने भारत सरकार से मामले को सुलझाने में सहयोग करने की मांग की. 

ये भी पढे़ं-केंद्रीय कैबिनेट की अहम बैठक में महिला आरक्षण बिल को मिली मंजूरी : सूत्र

'भारतीय राजनयिक को किया निष्काषित'

कनाडा की विदेश मंत्री मेलानी जोली ने कहा कि ट्रूडो सरकार ने तुरंत एक्शन लिया है. अधिकारी का नाम लिए बगैर विदेश मंत्री ने कहा कि आज हमने एक सीनियर भारतीय राजनयिक को कनाडा से निष्काषित कर दिया है. जोली ने  कहा कि निष्कासित भारतीय राजनयिक कनाडा में भारत की विदेशी खुफिया एजेंसी रिसर्च एंड एनालिसिस विंग (रॉ) का चीफ है.

18 जून को निज्जर को मारी गई थी गोली

बता दें कि हरदीप सिंह निज्जर को भारत ने वांछित आतंकवादी घोषित किया था. 18 जून को वैंकूवर के उपनगर सरे में एक गुरुद्वारे के पास उसकी गोली मारकर हत्या कर दी गई थी. निज्जर पर भारत में आतंकी हमला करने का आरोप था. निज्जर की हत्या को लेकर भारत और कनाडा के बीच तनाव लगातार बढ़ रहा है. भारत खालिस्तानियों को पनाह देने पर कनाडा से नाखुश है. 

भारत का कनाडा पर बड़ा आरोप

नई दिल्ली ने ओटावा पर उत्तरी भारत में अलग सिख मातृभूमि की मांग करने वाले सिखों की गतिविधियों पर आंखे मूंदने का आरोप लगाया. वहीं अब कनाडा ने निज्जर की हत्या में भारत की भूमिका होने का आरोप लगाया है. ट्रूडो के एक पूर्व सलाहकार, जॉक्लिन कूलन ने कहा कि भारतपर कनाडाके आरोपों को दुनियाभर में बड़ा प्रभाव पड़ेगा.कूलन ने कहा कि जिस तरह से सऊदी अरब पर साल 2018 में तुर्की के पत्रकार जमाल खशोगी की हत्या करवाने का आरोप लगा था. उसी तरह से भारत राजनीतिक विरोधियों की हत्या करवाने वाले देशों के ग्रुप में शामिल हो जाएगा. हालांकि कनाडा के आरोपों पर भारत ने अब तक कोई प्रतिक्रिया नहीं दी है.

ये भी पढे़ं-नए संसद भवन में एंट्री-एग्जिट के लिए बने हैं 6 गेट, हर गेट का अपना महत्व; यहां जानें डिटेल

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

NDTV.in पर ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें, व देश के कोने-कोने से और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
"डोनाल्ड ट्रंप को अब मैं ही हरा सकता हूं..." अमेरिका में यह 'धरतीपकड़' RFK जूनियर है कौन
कनाडा-भारत में बढ़ी तकरार, भारतीय राजनयिक को देश छोड़ने को कहा
अमेरिकी सेना ने यूरोप में अपने ठिकानों पर अलर्ट स्तर को दूसरे उच्चतम स्तर तक बढ़ाया, जानें कारण
Next Article
अमेरिकी सेना ने यूरोप में अपने ठिकानों पर अलर्ट स्तर को दूसरे उच्चतम स्तर तक बढ़ाया, जानें कारण
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
;