अफगानिस्‍तान की पाकिस्‍तान को कड़ी चेतावनी, 'पहले जो भी किया, कर लिया, अब हम इसकी इजाज़त...'

तालिबान कमांडर मौलवी सनाउल्ला संगीन ने अफगानिस्तान के ‘तोलो न्यूज’ से बुधवार को कहा,‘‘ हम (तालिबान) कभी, किसी भी तरीके की बाड़बंदी की अनुमति नहीं देंगे. उन्होंने (पाकिस्तान) पहले जो भी किया,वो कर लिया. अब हम आगे इसकी इजाजत नहीं देंगे. अब कोई बाड़बंदी नहीं होगी.’’

अफगानिस्‍तान की पाकिस्‍तान को कड़ी चेतावनी, 'पहले जो भी किया, कर लिया, अब हम इसकी इजाज़त...'

सीमा पर बाड़बंदी के मुद्दे को लेकर अफगानिस्‍तान और पाकिस्‍तान के बीच तनाव बढ़ रहा है (फाइल फोटो)

इस्लामाबाद:

Afghanistan Warns Pakistan: बाड़बंदी के मुद्दे पर अफगानिस्‍तान (Afghanistan)का पड़ोसी देश पाकिस्‍तान के साथ विवाद बढ़ रहा है. अफगानिस्तान की तालिबान सरकार ने कहा है कि वह ड्यूरंड रेखा पर पाकिस्तान (Pakistan)को किसी भी तरह की बाड़बंदी की अनुमति नहीं देगी. सीमा पर बाड़बंदी के मुद्दे को लेकर दोनों पड़ोसी मुल्कों में बढ़ रहे तनाव के बीच अफगानिस्तान की तालिबान सरकार (Taliban government)ने पाकिस्तान को कड़ी चेतावनी दी है. मीडिया में आई एक खबर में यह जानकारी दी गई. तालिबान कमांडर मौलवी सनाउल्ला संगीन ने अफगानिस्तान के ‘तोलो न्यूज' से बुधवार को कहा,‘‘ हम (तालिबान) कभी, किसी भी तरीके की बाड़बंदी की अनुमति नहीं देंगे. उन्होंने (पाकिस्तान) पहले जो भी किया,वो कर लिया. अब हम आगे इसकी इजाजत नहीं देंगे. अब कोई बाड़बंदी नहीं होगी.''

संगीन का यह बयान तब आया है जब पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने इस सप्ताह की शुरुआत में कहा था कि मामले को कूटनीतिक माध्यम से शांतिपूर्ण तरीके से हल कर लिया जाएगा.कुरैशी ने सोमवार को इस्लामाबाद में संवाददाताओं से कहा था, ‘‘कुछ उपद्रवी तत्व इस मुद्दे को बिना वजह उछाल रहे हैं, लेकिन हम इस पर गौर कर रहे हैं. हम अफगानिस्तान सरकार के साथ संपर्क में हैं. उम्मीद है कि हम कूटनीतिक तरीके से इस मुद्दे को सुलझा लेंगे.''

गौरतलब है कि ड्यूरंड रेखा अफगानिस्तान और पाकिस्तान के बीच 2,670 किलोमीटर लंबी अंतरराष्ट्रीय सीमा है. दोनों देशों की सेनाओं के बीच इस स्थान पर हल्की-फुल्की झड़प की घटनाएं कई बार हो चुकी हैं. पाकिस्तान ने काबुल की आपत्तियों के बावजूद इस सीमा पर बाड़बंदी का 90 प्रतिशत काम पूरा कर लिया है. अफगानिस्तान का कहना है अंग्रेजों के शासन काल की इस सीमाबंदी ने दोनों ओर के कई परिवारों को बांट दिया है.

नोएडा से लेकर आगरा तक आयकर के छापे, कारोबारियों में कुछ अखिलेश यादव के करीबी

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com




(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)