मुनव्वर राना के बेटे ने चाचा से संपत्ति विवाद को लेकर अपनी ही कार पर चलवाई गोली : यूपी पुलिस

मुनव्वर राना का रायबरेली में अपनी पुश्तैनी ज़मीन को लेकर अपने भाइयों से झगड़ा चल रहा है.पिछली 28 तारीख की मुनव्वर के बेटे तबरेज़ ने रायबरेली में अपनी कार पर गोली चलने की रिपोर्ट दर्ज कराई थी.

लखनऊ:

मशहूर शायर मुनव्वर राना (Munawwar Rana) के घर कल देर रात बड़ी तादाद में रायबरेली की पुलिस घुस गई. मुनव्वर राना के परिवार का कहना है कि उन्होंने घर की महिलाओं और लड़कियों के साथ बदतमीज़ी की. वे मुनव्वर राना के बेटे तबरेज की तलाश में आए थे. मुनव्वर राना का रायबरेली में अपनी पुश्तैनी ज़मीन को लेकर अपने भाइयों से झगड़ा चल रहा है.पिछली 28 तारीख की मुनव्वर के बेटे तबरेज़ ने रायबरेली में अपनी कार पर गोली चलने की रिपोर्ट दर्ज कराई थी. रिपोर्ट में मुनव्वर के भाई इस्माइल, जमील,  शकील, राफे और भतीजे यासिर को नामजद किया गया था. 

मुनव्वर राना की बेटी सोमैया राना ने एनडीटीवी को बताया कि 'रात तकरीबन पौन बजे बड़ी तादाद में पुलिस वाले उनके घर में घुस आई. वे लोग उनकी लाइब्रेरी से लेकर उनके बेड रूम तक घुस गए. घर में महिलाएं और बच्चियां भी थीं, जबकि पुलिस टीम में केवल पुरुष थे. इस पर ऐतराज करने पर उन्होंने इलाके के थाने से एक महिला पुलिस को भी बुलवा लिया. पुलिस ने घर की महिलाओं से हाथापाई की और उनका वीडियो बना रही मुनव्वर राना की नातिन का मोबाइल छीन ले गए. इस बारे में रायबरेली पुलिस का कहना है कि वह जल्द प्रेस कॉन्फ्रेंस कर इस पर जानकारी देंगे.


रायबरेली के एसपी श्लोक कुमार ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस कर बताया कि मुनव्वर राना के बेटे तबरेज़ के ऊपर हमले की खबर पुलिस की जांच में फर्जी निकली है. जांच के दौरान रायबरेली के दो अपराधी हलीम और सुल्तान पकड़े गए हैं, जिन्होंने यह कबूल किया कि तबरेज़ ने उनसे अपनी कार पर गोली चलवाने कहा था. उनकी कार पर गोली चलवाने के लिए उन्होंने संतोष और शुभम नाम के दो शूटर हायर किए थे. दोनों शूटर भी पकड़ गए हैं, जिन्होंने अपना गुनाह कबूल कर लिया है. इस मामले में तबरेज़ फरार चल रहा है.तबरेज ने पुलिस में केस दर्ज करवाया था कि उनकी कार पर गोली चलाई गई है. उन्होंने चाचा के परिवार पर शक जताया था.  इसके बाद पुलिस ने मामले की जांच शुरू की. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


घटना स्थल के सीसीटीवी फुटेज और जांच के  बाद पता चला कि  तबरेज ने अपनी पैतृक संपत्ति जितना हिस्सा है, उससे अधिक बेच दी थी. चाचा को जानकारी मिलने के बाद उन्होंने आपत्ति जाहिर की थी. इसे लेकर तबरेज भी परेशान था. तबरेज ने प्लानिंग की कार पर फायरिंग होगी तो चाचा फंस जाएंगे. इसके अलावा वह चुनाव भी लड़ना चाह रहा था तो गाड़ी पर फायरिंग की खबर से उनके मीडिया फुटेज भी मिल जाएगा. उसने हलीम और सुल्तान के साथ पूरी योजना बनाई. दोनों पकड़े जा चुके हैं.