यूपी की सियासत में इंट्री से पहले ही बिहार की वीआईपी योगी सरकार के निशाने पर आई

फूलन देवी के नाम पर सियासत करने वाराणसी पहुंचे विकासशील इंसान पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष मुकेश साहनी समेत दो दर्जन कार्यकर्ताओं को पुलिस ने नजरबंद किया

यूपी की सियासत में इंट्री से पहले ही बिहार की वीआईपी योगी सरकार के निशाने पर आई

वाराणसी में विकासशील इंसान पार्टी के कार्यकर्ता.

वाराणसी:

उत्तर प्रदेश की सियासत में इंट्री से पहले ही बिहार की विकासशील इंसान पार्टी (VIP) योगी सरकार के निशाने पर आ गई है. फूलन देवी के नाम पर सियासत करने वाराणसी पहुंचे पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष मुकेश साहनी समेत दो दर्जन कार्यकर्ताओं को पुलिस ने नजरबंद कर दिया. रविवार को इसे लेकर पूरे हंगामा चलता रहा. 

पिछले दिनों वीआईपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष और बिहार सरकार के मंत्री मुकेश सहनी की ओर से उत्तर प्रदेश के सभी मंडलों में फूलन देवी की प्रतिमा लगाने का ऐलान किया गया था. तय कार्यक्रम के तहत 22 जुलाई को पार्टी कार्यकर्ताओं ने वाराणसी के रामनगर इलाके में प्रतिमा लगाने की कोशिश की लेकिन पुलिस ने रोक लगाते हुए प्रतिमा को जब्त कर लिया था. पुलिस की कार्रवाई के बाद भी विकासशील इंसान पार्टी नहीं मानी और उसने 25 जुलाई को सांकेतिक विरोध करने का ऐलान किया. इस दौरान राष्ट्रीय अध्यक्ष मुकेश साहनी को एक प्रेस कॉन्फ्रेंस भी करनी थी.


इस बीच पुलिस ने रविवार की सुबह ही उस होटल को घेर लिया, जिसमें वीआईपी के कार्यकर्ता रुके थे. पुलिस ने होटल के अंदर और बाहर पहरा बैठा दिया. दोपहर में राष्ट्रीय अध्यक्ष मुकेश सहनी को भी बाबतपुर एयरपोर्ट पर रोक दिया गया. पुलिस की कार्रवाई के खिलाफ वीआईपी कार्यकर्ताओं ने हंगामा भी किया. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


पुलिस का कहना है कि वीकेंड लॉकडाउन और सावन के मद्देनजर शहर में धारा 144 लागू है. विकासशील इंसान पार्टी ने प्रेस कॉन्फ्रेंस के लिए किसी तरह की परमीशन नहीं ली थी.