'Singhu Border'

- 143 न्यूज़ रिजल्ट्स
  • India | Reported by: भाषा |रविवार सितम्बर 18, 2022 07:54 PM IST
    दिल्ली में सांप्रदायिक रूप से संवेदनशील उत्तर-पूर्वी और उत्तर-पश्चिमी समेत आठ पुलिस जिलों के शीर्ष अधिकारियों को नफरत फैलाने की घटनाओं और सड़क पर होने वाले अपराध को रोकने समेत लोगों के भरोसे में बढ़ोतरी करने के निर्देश दिए गए हैं.
  • India | Reported by: सौरभ शुक्ला |गुरुवार दिसम्बर 16, 2021 02:07 PM IST
    केंद्र सरकार और आंदोलनरत किसानों के बीच मांगों को लेकर सहमति बनने के बाद किसानों ने अपना आंदोलन खत्‍म कर दिया है. वे सिंघु बार्डर से अपने घर रवाना हो चुके हैं. किसानों के सिंघू बार्डर को खाली करने के बाद NHAI ने सड़क की मरम्मत की और फिर मार्ग को आवाजाही के लिए खोल दिया गया. 
  • India | Reported by: मुकेश सिंह सेंगर, Edited by: राहुल चौहान |सोमवार दिसम्बर 13, 2021 10:30 PM IST
    सीमेंट की 2 फीट मोटी दीवार 2-3 दिनों से तोड़ी जा रही हैं, लेकिन अब तक टूट नहीं सकी है. बड़े-बड़े कंटेनर और बैरिकेड भी हटाये जाएंगे. अब तक कंटीले तार और कीलें काफी हद तक हटा ली गई हैं. पुलिस ने ये सब इंतज़ाम किसानों को दिल्ली आने से रोकने के लिए किए थे.
  • Blogs | रवीश कुमार |सोमवार दिसम्बर 13, 2021 11:08 PM IST
    दिल्ली की सीमाओं से किसान चले गए लेकिन इस आंदोलन की यादों के साथ वे जीवन भर चलते रहेंगे. इस एक साल में उनके बीच ऐसे गहरे रिश्ते बन गए कि उनसे बिछड़ना जीत के जश्न को ग़मगीन कर गया. गांवों में लौटे किसान आंदोलन की यादों में डूबे हैं.
  • India | Reported by: मुकेश सिंह सेंगर |रविवार दिसम्बर 12, 2021 08:46 PM IST
    दिल्ली से बहादुरगढ़ को जोड़ने वाले टीकरी बॉर्डर को किसानों ने रविवार को पूरी तरह से खाली कर दिया है और यहां दोनों तरफ की सड़क भी चालू हो गई हैकिसानों की घर वापसी के बाद दिल्ली की सीमाओं से ट्रैफिक खोल दिया गया है.
  • India | Reported by: भाषा |शनिवार दिसम्बर 11, 2021 10:08 AM IST
    ट्रैक्टरों के बड़े-बड़े काफिलों के साथ पिछले साल नवंबर में दिल्ली की सीमाओं पर पहुंचे आंदोलनरत किसानों ने शनिवार की सुबह अपने-अपने गृह राज्यों की तरफ लौटना शुरू कर दिया. साल भर से ज्यादा वक्त तक अपने घरों से दूर डेरा डाले हुए ये किसान अपने साथ जीत की खुशी और सफल प्रदर्शन की यादें लेकर लौट रहे हैं. किसानों ने सिंघु, टिकरी और गाजीपुर सीमाओं पर राजमार्गों पर नाकेबंदी हटा दी और तीन विवादास्पद कृषि कानूनों को निरस्त करने और फसलों के लिए न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) पर कानूनी गारंटी के लिए एक समिति गठित करने सहित उनकी अन्य मांगों को पूरा करने के लिए केंद्र के लिखित आश्वासन का जश्न मनाने के लिए एक ''विजय मार्च'' निकाला.
  • India | Reported by: मोहम्मद ग़ज़ाली |शनिवार दिसम्बर 11, 2021 08:39 AM IST
    तीन कानूनों को रद्द करने की प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की घोषणा के बाद, किसान अन्य मांगों का हवाला देते हुए विरोध स्थलों पर रुके हुए थे.
  • India | Reported by: सौरभ शुक्ला, Edited by: प्रवीण प्रसाद सिंह |रविवार दिसम्बर 5, 2021 01:18 AM IST
    सिंघू बार्डर पर संयुक्त किसान मोर्चा की अहम बैठक खत्‍म हो गई है. किसानों की बाकी की मांगों पर सरकार के बातचीत के लिए पांच लोगों के पैनल का नाम तय किया है. इस पैनल में युद्धवीर, अशोक धावले, बलबीर सिंह राजेवाल, गुरनाम सिंह चढूनी, शिवकुमार कक्का का नाम शामिल है.
  • India | Reported by: मुकेश सिंह सेंगर, Edited by: प्रमोद कुमार प्रवीण |रविवार नवम्बर 21, 2021 03:56 PM IST
    किसान नेता बलबीर सिंह राजेवाल ने बताया कि बैठक में फैसला किया गया है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नाम एक खुल खत लिखा जाएगा, जिसमें किसानों की लंबित मांगों का उल्लेख किया जाएगा. उन्होंने बताया कि उस चिट्ठी में एमएसपी समिति, उसके अधिकार, उसकी समय सीमा, उसके कर्तव्य; विद्युत विधेयक 2020, और किसानों पर दर्ज मामलों की वापसी का उल्लेख किया जाएगा.
  • India | Reported by: भाषा |शनिवार नवम्बर 20, 2021 01:58 AM IST
    कृषि विरोधी कानूनों के खिलाफ तीन प्रमुख प्रदर्शनस्थलों में एक गाजीपुर बार्डर पर प्रदर्शनकारी कृषि कानूनों को वापस लेने के प्रधानमंत्री के ऐलान के बाद उत्साह से भरे नजर आ रहे हैं.
और पढ़ें »
'Singhu Border' - 578 वीडियो रिजल्ट्स
और देखें »
'Singhu Border' - 1 फोटो रिजल्ट्स
 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com