'2014 Lok Sabha elections'

- more than 1000 न्यूज़ रिजल्ट्स
  • File Facts | Reported by: मनीष कुमार, Edited by: सचिन झा शेखर |बुधवार अगस्त 10, 2022 05:39 PM IST
    आठवीं बार बिहार के मुख्यमंत्री के रूप में शपथ लेने के बाद नीतीश कुमार ने 2024 के लोकसभा चुनाव को लेकर पीएम नरेंद्र मोदी को चुनौती दे दी नीतीश कुमार ने कहा कि  "वह 2014 में जीते, लेकिन क्या वह 2024 में होंगे ?"  नीतीश कुमार के इस बयान के कई राजनीतिक अर्थ निकाले जा रहे हैं. 
  • India | Reported by: भाषा, Edited by: सिद्धार्थ चौरसिया |सोमवार दिसम्बर 6, 2021 06:22 AM IST
    घटना के बाद, देवेगौड़ा ने मोदी से छह से सात बार मुलाकात की क्योंकि उनके प्रति उनका सम्मान बढ़ गया था. पूर्व प्रधानमंत्री ने कहा कि उन्होंने गोधरा की घटना के बाद मोदी का विरोध किया था और उस अवधि के दौरान संसद में दिए गए उनके भाषण उनके दावे की गवाही देते हैं.
  • India | Reported by: प्रेस ट्रस्ट ऑफ इंडिया |गुरुवार अक्टूबर 14, 2021 04:21 PM IST
    चिदंबरम ने कहा, 'मैं इतिहास से आपसे एक बात कहना चाहता हूं..जो भी गोवा जीतता है, दिल्‍ली में जीत हासिल करता है.2007 में हमने गोवा में जीत हासिल की..2009 में हम दिल्‍ली जीते. दुर्भाग्‍यवश 2012 में हम गोवा हार गए, 2014 में हम दिल्‍ली भी हार गए. 2017 में आपने (कार्यकर्ताओं का उल्‍लेख करते हुए) गोवा जीता लेकिन हमारे विधायकों ने इसे गंवा दिया. ' उन्‍होंने कहा कि कांग्रेस को 2019 के लोकसभा चुनाव में हार का सामना करना पड़ा.
  • India | Written by: मानस मिश्रा |रविवार जुलाई 7, 2019 08:32 AM IST
    एक ओर कांग्रेस जहां अध्यक्ष पद के लिए चेहरा तलाशने में माथापच्ची कर रही है वहीं ऐसा लग रहा है कि  तरह 2014 में सरकार बनते ही पीएम मोदी और पूरी बीजेपी 2019 की तैयारी में जुट गए थे, ऐसा लग रहा है कि पीएम मोदी और पूरी पार्टी अब 2024 की तैयारी में अभी से जुट गई है. शनिवार को ही पीएम मोदी ने बीजेपी के देशव्यापी सदस्यता अभियान की शुरुआत कर दी है. अभी तक बीजेपी की कमान संभाल रहे गृहमंत्री अमित शाह बीजेपी को दुनिया की सबसे बड़ी पार्टी बनाने का दावा करते हैं और कहना गलत न होगा कि बीजेपी की इतनी बड़ी जीत में कार्यकर्ताओं की भारी भरकम फौज का भी बड़ा हाथ है.
  • India | ख़बर न्यूज़ डेस्क |गुरुवार मई 30, 2019 02:00 PM IST
    राष्ट्रपति भवन के प्रांगण में आयोजित होने वाले इस शपथ ग्रहण समारोह में करीब आठ हजार मेहमानों के शामिल होने की उम्मीद है. वर्ष 2014 में मोदी को तत्कालीन राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने दक्षेस देशों के प्रमुखों सहित 3500 से अधिक मेहमानों की मौजूदगी में शपथ दिलायी थी. राष्ट्रपति भवन के प्रांगण का इस्तेमाल आम तौर पर देश की यात्रा पर आने वाले राष्ट्राध्यक्षों एवं सरकार के प्रमुखों के औपचारिक स्वागत के लिए किया जाता है. इससे पहले 1990 में चंद्रशेखर और 1999 में अटल बिहारी वाजपेयी को राष्ट्रपति भवन के प्रांगण में शपथ दिलायी गई थी. शपथ ग्रहण समारोह में बिम्सटेक देशों, बांग्लादेश के राष्ट्रपति अब्दुल हामिद, श्रीलंका के राष्ट्रपति मैत्रिपाला सिरिसेना, नेपाल के प्रधानमंत्री के पी शर्मा ओली, म्यामांर के राष्ट्रपति यू विन मिंट और भूटान के प्रधानमंत्री लोताय शेरिंग ने शामिल होने की पुष्टि पहले ही कर दी है. थाईलैंड से उसके विशेष दूत जी बूनराच देश का प्रतिनिधित्व करेंगे. भारत के अलावा बिम्सटेक में बांग्लादेश, म्यामां, श्रीलंका, थाईलैंड, नेपाल और भूटान शामिल हैं. इन नेताओं के साथ-साथ शंघाई सहयोग संगठन के वर्तमान अध्यक्ष और किर्गिस्तान के वर्तमान राष्ट्रपति जीनबेकोव और मॉरिशस के प्रधानमंत्री प्रविंद कुमार जगन्नाथ को भी शपथ ग्रहण समारोह में आमंत्रित किया गया है. मोदी नीत भाजपा ने लोकसभा चुनाव में 542 सीटों में से 303 सीटें जीतकर सत्ता में बहुमत के साथ वापसी की है.
  • India | Reported by: मनोरंजन भारती, Edited by: सूर्यकांत पाठक |मंगलवार मई 28, 2019 04:50 PM IST
    मौजूदा लोकसभा चुनाव (Loksabha Elections 2019) में जो सांसद चुनकर आए हैं उनके बारे में अध्ययन करने पर कई दिलचस्प पहलू सामने आते हैं जैसे इस बार आजादी के बाद से महिला सांसदों (Women Member of Parliament) की संख्या सबसे अधिक है. सन 2014 में जहां 62 महिला सांसद संसद पहुंची थीं वहीं अब इनकी संख्या 78 हो गई है.
  • India | Reported by: मनोरंजन भारती |बुधवार मई 29, 2019 01:08 AM IST
    मौजूदा लोकसभा में जो सांसद चुन कर आए हैं, उनके बारे में कई दिलचस्प पहलू सामने आते हैं जैसे इस बार आजादी के बाद से महिला सांसदों की संख्या सबसे अधिक है. 2014 में जहां 62 महिला सांसद संसद पहुंची थी वहीं अब इनकी संख्या 78 हो गई है. 2019 में कुल पुरूष उम्मीदवार 7334 थे तो महिला उम्मीदवारों की संख्या 715 थी. इसबार 542 में से 300 सांसद पहली बार संसद चुन कर आए हैं. 197 सांसद दूसरी बार चुने गए हैं, 394 सांसद ग्रैजुएट हैं तो सांसदों की औसत आयु 54 साल है. यदि दुनिया भर के आंकड़ें देखें तो भारत में महिला सांसदों का औसत सबसे कम है. भारत में जहां पूरे संसद की संख्या का केवल 14 फीसदी महिला सांसद है तो दक्षिण अफ्रीका में 43 फीसदी, ब्रिटेन में 32 फीसदी, अमेरिका में 24, बांग्लादेश में 21 और रवांडा में 61 फीसदी महिला सांसद है. उडीसा में 21 में से 7 महिला सांसद है जिसमें से बीजेडी की पांच और बीजेपी के दो सांसद हैं. 
  • Lok Sabha Elections 2019 | ख़बर न्यूज़ डेस्क |रविवार मई 26, 2019 01:33 PM IST
    इससे पहले भाजपा ने मोदी की लहर के चलते वर्ष 2014 में हुए लोकसभा चुनाव में मध्यप्रदेश की 29 में से 27 सीटों पर कब्जा किया था. तब कांग्रेस को दो सीटें छिंदवाड़ा एवं गुना मिली थी. लेकिन इस बार भाजपा ने गुना सीट को कांग्रेस से छीन ली है. प्रदेश में कांग्रेस को मिली हार के बाद मध्य प्रदेश के कांग्रेस प्रमुख कमलनाथ ने प्रदेश अध्यक्ष पद से इस्तीफा देने की पेशकश की है. ऑल इंडिया कांग्रेस कमेटी के महासचिव दीपक बावरिया ने बताया, 'सीएम कमलनाथ ने मध्य प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष पद से इस्तीफे की पेशकश की है.'
  • Lok Sabha Elections 2019 | एनडीटीवी |शनिवार मई 25, 2019 11:27 AM IST
    पश्चिम बंगाल लोकसभा चुनाव (West Bengal Election Result 2019)  में ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) की पार्टी तृणमूल कांग्रेस का साल 2014 जैसा प्रदर्शन नहीं रहा. तृणमूल कांग्रेस (TMC) को इस बार 42 सीटों में से 22 सीटें ही मिलीं, जबकि साल 2014 में ममता बनर्जी की पार्टी को 34 सीटें मिली थीं.
  • Lok Sabha Elections 2019 | Reported by: आलोक पांडे |शनिवार मई 25, 2019 02:42 AM IST
    केंद्रीय मंत्री और बीजेपी प्रत्याशी स्मृति ईरानी (Smriti Irani) ने अमेठी संसदीय सीट से जीत दर्ज की है. हालांकि 2014 के लोकसभा चुनावों में भी स्मृति ईरानी (Smriti Irani) ने राहुल गांधी  (Rahul Gandhi) की जीत के अंतर को कम कर दिया था
और पढ़ें »
'2014 Lok Sabha elections' - more than 1000 वीडियो रिजल्ट्स
और देखें »
 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com