'विधानसभा चुनाव 2015' - 947 न्यूज़ रिजल्ट्स
  • India | गुरुवार मार्च 11, 2021 08:25 PM IST
    Assam polls: वर्ष 016 में हुए विधानसभा चुनावों के पहले बीजेपी ने हिंदुस्‍तान पेपर मिल और नौगांव पेपर मिल को पुनर्जीवित करने का वादा किया था, इसमें से पहली मिल वर्ष 2015 में बंद हुई थी जबकि दूसरी इसके दो सल बाद. दोनों मिलों के करीब 1800 कर्मचारियों के umbrella organisation की ज्‍वाइंट एक्‍शन कमेटी ने अब बीजेपी को 'विश्‍वासघाती' बताते हुए डोर टू डोर कैंपेन प्रारंभ किया है. 
  • India | रविवार जनवरी 10, 2021 07:46 AM IST
    बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (Nitish Kumar) ने शनिवार को जनता दल यूनाइटेड (JDU) के कार्यकर्ताओं से अपील की कि वे विधानसभा चुनाव में पार्टी के प्रदर्शन को भुलाकर भविष्य की ओर देखें. मुख्यमंत्री ने राज्य में राजनीतिक अस्थिरता की बातें कर रहे विपक्ष के नेताओं को चुप कराने के लिए कहा कि उनकी सरकार पांच साल का कार्यकाल पूरा करेगी. JDU हालिया विधानसभा चुनाव में 43 सीट ही जीत पाई, जबकि 2015 में हुए चुनाव में उसने 71 सीटें जीती थीं.
  • India | रविवार नवम्बर 15, 2020 08:25 PM IST
    गौरतलब है कि हाल में संपन्न बिहार विधानसभा चुनाव में रोमांचक मुकाबले में राजग गठबंधन को 125 सीटें हासिल हुईं, जबकि विपक्षी महागठबंधन को 110 सीटें मिली हैं. राजग में भाजपा को 74 सीटें, जद (यू) को 43, हम और वीआईपी को चार-चार सीटें मिली हैं. 2015 के विधानसभा चुनावों में जद (यू) को 71 सीटें मिली थीं.
  • India | सोमवार नवम्बर 9, 2020 04:40 AM IST
    वैश्विक महामारी कोरोना वायरस संक्रमण के बावजूद इस बार बिहार विधानसभा चुनाव में वर्ष 2015 की तुलना में अधिक लोगों ने अपने मताधिकार का इस्तेमाल किया . इस बार प्रदेश में मतदान का प्रतिशत 57.05 रहा . निर्वाचन आयोग के आंकड़ों में यह स्पष्ट हुआ है. आयोग के आंकड़ों के अनुसार बिहार में 2015 में हुए विधानसभा चुनाव में 56.66 फीसदी मतदाताओं ने अपने मताधिकार का इस्तेमाल किया था वहीं इस साल कोविड—19 के बावजूद 57.05 प्रतिशत मतदान हुआ.
  • Bihar | शनिवार नवम्बर 7, 2020 06:30 PM IST
    Bihar Election 3rd Phase Voting: बिहार विधानसभा चुनाव के तीसरे और अंतिम चरण में 55.22% मतदान हुआ है. चुनाव आयोग ने यह जानकारी दी. 2015 में हुए विधानसभा चुनाव में 56.66 फीसदी मतदान हुआ था. आखिरी चरण की 78 विधानसभा सीटों पर करीब 2.34 करोड़ वोटर हैं, जो अपने मताधिकार का इस्तेमाल कर रहे हैं. सभी की निगाहें राज्य में सत्तारूढ़ राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (NDA) और विपक्षी महागठबंधन के बीच कांटे के मुकाबले पर टिकी हैं. चुनाव में राजग जहां सरकार विरोधी कारक (एंटी इन्कम्बेंसी फैक्टर) को टालने के लिये पूरा जोर लगा रहा है, वहीं राजद नीत महागठबंधन भी पूरे जोश में है. देखना होगा कि मतदान दूसरे चरण के 55.6 फीसदी से आगे जा पाता है या नहीं.
  • India | मंगलवार नवम्बर 3, 2020 10:57 PM IST
    Bihar Election 2020: राष्ट्रीय जनता दल (RJD) के वरिष्ठ नेता और पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष शिवानंद तिवारी (Shivanand Tivary) ने कहा है कि प्रधानमंत्री जी को बिहार के चुनाव में हार का एहसास हो गया लगता है. इसलिए उनकी भाषा बदल गई है. अब वे भारत माता और जय श्री राम के सहारे चुनाव की वैतरणी पार करना चाहते हैं. यही उनका ब्रह्मास्त्र है. एक बयान में शिवानंद तिवारी ने कहा कि पिछले छह वर्षों से केंद्र में प्रचंड बहुमत के साथ उनकी सरकार है. देश के अधिकांश प्रांतों में प्रधानमंत्री जी की पार्टी की ही सरकार है. लेकिन आज भी सकारात्मक मुद्दों पर चुनाव जीत पाने का आत्मविश्वास वे अपने में पैदा नहीं कर पाए हैं. लेकिन अब बहुत विलंब हो चुका है. बिहार के लोगों ने एक भ्रष्ट और अनैतिक सरकार से मुक्ति पाने का मन बना लिया है.
  • India | सोमवार नवम्बर 2, 2020 07:20 PM IST
    Bihar Election 2020: बिहार चुनावों में इस बार 2015 के मुकाबले दागी उम्मीदवारों की संख्या ज्यादा है. इस बार बिहार में 32 प्रतिशत उम्मीदवार ऐसे हैं जिनके खिलाफ आपराधिक मामले दर्ज हैं. मर्डर, रेप और किडनेपिंग जैसे जघन्य अपराधों के मामले 25 प्रतिशत उमीदवारों के खिलाफ दर्ज हैं. जेल में बंद बाहुबली नेता और पूर्व सांसद आनंद मोहन सिंह की पत्नी लवली आनंद और उनके बेटे चेतन आनंद, दोनों ही इस बार चुनाव मैदान में हैं. हालांकि इन चुनावों मैं ऐसे लोग भी बड़ी तादाद में हैं जिनके खिलाफ सीधे आरोप हैं.
  • India | गुरुवार अक्टूबर 29, 2020 02:49 PM IST
    मिथिला पहुंचे हुए पीएम ने यहां पर अयोध्या में मंदिर निर्माण को लेकर एक टिप्पणी की है, जिससे लोगों की नीतीश कुमार को लेकर एक पुरानी याद ताजा हो गई है. नीतीश कुमार ने कभी मंदिर निर्माण को लेकर बीजेपी पर तंज कसा था, आज पीएम मोदी की यह टिप्पणी उसी तंज के अंडरटोन में थी. 
  • Blogs | बुधवार जनवरी 6, 2021 06:40 PM IST
    2015 के विधानसभा चुनावों में भाकपा माले ने लगभग अकेले दम पर तीन सीटें जीती थीं- बलरामपुर, दरौली और तरारी. बेशक, तरारी वाली सीट वह बहुत कम अंतर से जीत पाई थी- शायद मुश्किल से सवा दो सौ या ढाई सौ वोटों से. लेकिन भोजपुर क्षेत्र में उसकी वापसी का मज़बूती भरा इशारा भी थी. सुदामा प्रसाद को पूरे दो दशक बाद यह कामयाबी मिली थी. बेशक, तब वाम मोर्चे के नाम पर जुटे बहुत सारे दलों का गठबंधन उसके साथ था, लेकिन उन चुनावों में भाकपा-माकपा- किसी का खाता नहीं खुल पाया था. जाहिर है, माले की जीत उसकी अपनी थी.
  • India | गुरुवार अक्टूबर 15, 2020 06:42 PM IST
    (Bihar Assmbly Polls: मोदी के अनुसार, तेजस्‍वी ने वर्ष 2015 के एफिडेविट में दिखाया था कि उन्‍होंने एक करोड़ सात लाख रुपये का लोन किसी भारतीय कंपनी को दिया, बिना किसी नौकरी/व्‍यवसाय के उनके पास इतना पैसा कहा से आ गया कि उन्‍होंने किसी को चार करोड़ 10 लाख रुपये का ऋण दे दिया.
और पढ़ें »
'विधानसभा चुनाव 2015' - 733 वीडियो रिजल्ट्स
और देखें »
 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com