"सस्ते इंटरनेट से क्या होगा, जब..." : अखिलेश यादव का पीएम मोदी पर तंज

अखिलेश यादव ने कहा कि अमीरों का तालियां बजाना और गरीबों का आपकी सेवा करना, ये दो अलग चीजें हैं

समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव (फाइल फोटो).

नई दिल्ली:

समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) के अध्यक्ष अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) ने मंगलवार को सस्ते इंटरनेट पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) के बयान पर कटाक्ष किया. उन्होंने कहा कि सिर्फ डेटा ही लोगों की जरूरतों को पूरा नहीं करता है. उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने विदेश दौरे पर गए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर तंज कसते हुए कहा कि सिर्फ डेटा से पेट नहीं भरता, सस्ता पेट्रोल-डीजल, गैस, दाल, चावल, तेल, घी और आटा भी होना चाहिए.

सपा प्रमुख ने मंगलवार को ट्वीट किया, ''सस्ता पेट्रोल-डीजल, गैस, दाल, चावल, तेल, घी और आटा भी हो न कि केवल डेटा… क्योंकि डेटा से पेट नहीं भरता.''

उन्होंने इसी ट्वीट में सवाल उठाते हुए कहा '' सवाल यह है कि जब हैं भूखे पेट, तो क्या करेगा नेट--- विदेशों में सम्पन्न लोगों से ताली बजवाना और देश में विपन्न आदमी की थाली सजवाना…दो अलग-अलग बातें हैं.''

अखिलेश यादव ने इस ट्वीट में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का विदेश में लोगों को संबोधित करते हुए एक वीडियो भी साझा किया है, जिसमें मोदी कह रहे हैं, ‘‘भारत में जितनी फास्ट इंटरनेट कनेक्टिविटी है------.'' अभी मोदी का वाक्य पूरा भी नहीं हो रहा कि लोग उत्साह के साथ खूब जमकर तालियां बजा रहे हैं. मोदी कहते हैं, ''इतना ही नहीं, तालियां तो अब बजने वाली हैं. तालियां इस बात पर बजने वाली हैं कि जितना सस्ता डेटा है वह बहुत से देशों के लिए अकल्‍पनीय है.''

उल्लेखनीय है कि प्रधानमंत्री मोदी यूरोप के तीन देशों की यात्रा पर हैं. यात्रा के पहले चरण में सोमवार को वह जर्मनी पहुंचे. मोदी ने जर्मनी में भारतीय समुदाय को संबोधित किया.

प्रवासी भारतीयों के लिए प्रधानमंत्री का एक घंटे का संबोधन बर्लिन में ‘थिएटर एम पोस्टडैमर प्लात्ज' में हुआ. वहां बड़ी संख्या में प्रवासी भारतीय एकत्र हुए थे. इस दौरान वहां मौजूद लोगों ने ‘भारत माता की जय', ‘मोदी है तो मुमकिन है' और ‘2024, मोदी फिर एक बार' जैसे नारे लगाए.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


मंगलवार को मोदी जर्मनी से डेनमार्क पहुंचे और इसके बाद अपनी यात्रा के अंतिम चरण में वह कुछ समय के लिए फ्रांस में रुकेंगे, जहां वह फ्रांसीसी राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों से मुलाकात करेंगे.