उत्तराखंड युवती मर्डर केस : मौत से पहले पीड़िता का आखिरी 'कथित' ऑडियो आया सामने

Ankita Bhandari murder case: उत्तराखंड पुलिस ने शनिवार को पीड़िता के शव को चीला नहर से बरामद कर लिया है. शनिवार को ही तीन डॉक्टरों की टीम ने पीड़िता का पोस्टमॉर्टम किया. अब उसके शव को एयर एंबुलेंस से पौड़ी ले जाया जा रहा है. 

उत्तराखंड युवती मर्डर केस : मौत से पहले पीड़िता का आखिरी 'कथित' ऑडियो आया सामने

नई दिल्ली:

उत्तराखंड युवती मर्डर केस में पीड़िता लड़की का मौत से पहले का एक आखिरी ऑडियो सामने आया है. इस कथित ऑडियो में पीड़िता फोन पर किसी से बात करती सुनी जा सकती हैं. फोन पर हुई इस बातचीत में पीड़िता रोते हुए किसी से कह रही है कि प्लीज मेरा बैग ला दो. हालांकि, एनडीटीवी इस ऑडियो की पुष्टि नहीं करता है. इस मामले में आरोपी पुलकित आर्य समेत दो अन्य लोगों को उत्तराखंड पुलिस शुक्रवार शाम को ही गिरफ्तार कर चुकी है. ऐसा माना जा रहा है कि इस मामले की जांच में पीड़िता का आखिरी ऑडियो पुलिस के लिए काफी मददगार साबित हो सकता है. उधर, उत्तराखंड पुलिस ने शनिवार को पीड़िता के शव को चीला नहर से बरामद कर लिया है. शनिवार को ही तीन डॉक्टरों की टीम ने अंकिता का पोस्टमॉर्टम किया. अब उसके शव को एयर एंबुलेंस से पौड़ी ले जाया जा रहा है. 

बता दें कि इस मामले का मुख्य आरोपी पुलकित आर्य रिसॉर्ट का मालिक है जहां पीड़िता नौकरी करती थी. पुलकित हरिद्वार से भाजपा नेता विनोद आर्य का बेटा है. विनोद आर्य उत्तराखंड माटी कला बोर्ड के अध्यक्ष रह चुके हैं. भाजपा नेता के बेटे ने गैरकानूनी तरीके से पौड़ी जिले के यमकेश्वर ब्लॉक में इस रिसॉर्ट का निर्माण कराया था जिसे शुक्रवार रात ध्वस्त कर दिया गया.

सीएम धामी ने शनिवार को कहा, ‘आरोपियों के गैर कानूनी रूप से बने रिजॉर्ट पर बुल्डोजर द्वारा कार्रवाई भी कल देर रात की गई है. हमारा संकल्प है कि इस जघन्य अपराध के दोषियों को बख्शा नहीं जाएगा.'

पुलकित आर्य, रिसॉर्ट के प्रबंधक सौरभ भास्कर और सहायक प्रबंधक अंकित गुप्ता को लड़की की हत्या करने और शव चीला नहर में फेंकने का अपराध स्वीकार करने के बाद शुक्रवार को गिरफ्तार किया गया था.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

       

पौड़ी के एएसपी शेखर चंद्र सुयाल ने शुक्रवार को बताया था कि शुरुआत में आरोपियों ने पुलिस को भ्रमित करने की कोशिश की, लेकिन कड़ाई से पूछताछ करने पर उन्होंने अपराध स्वीकार कर लिया.