आज होगी आज़म खां की रिहाई, लेने के लिए जेल पहुंचे बेटे अब्दुल्ला आजम और शिवपाल यादव

आज़म खां को लेने उनके पुत्र अब्दुल्ला आज़म और शिवपाल यादव सीतापुर जेल पहुंचे हैं. आज़म खां साल 2020 से जेल में बंद हैं. यूपी पुलिस ने पिछले कुछ सालों में उनके खिलाफ 88 मामले दर्ज किए थे. खां को शीर्ष अदालत ने 88वें मामले में गुरुवार को अंतरिम जमानत दी थी. 

आज होगी आज़म खां की रिहाई, लेने के लिए जेल पहुंचे बेटे अब्दुल्ला आजम और शिवपाल यादव

आजम खां ने अंतरिम जमानत के लिए सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाखिल की थी.

लखनऊ:

Azam Khan Bail: उच्चतम न्यायालय ने कथित धोखाधड़ी के एक मामले में जेल में कैद समाजवादी पार्टी के नेता आज़म खां को बृहस्पतिवार को अंतरिम जमानत दी है. जिसके बाद आज सपा नेता आज़म खां सीतापुर जेल से रिहा हो रहे हैं. जानकारी के अनुसार लगभग 9 बजे के क़रीब वे जेल से बाहर आ सकते हैं. आज़म खां को लेने उनके पुत्र अब्दुल्ला आज़म और शिवपाल यादव सीतापुर जेल पहुंचे हैं. आज़म खां साल 2020 से जेल में बंद हैं. यूपी पुलिस ने पिछले कुछ सालों में उनके खिलाफ 88 मामले दर्ज किए थे. खां को शीर्ष अदालत ने 88वें मामले में गुरुवार को अंतरिम जमानत दी थी. 

ये भी पढ़ें- स्काईरूट ने विक्रम-1 रॉकेट के तीसरे चरण का परीक्षण किया

उत्तर प्रदेश में 2017 से भारतीय जनता पार्टी की सरकार बनने के बाद आज़म खां पर शिकंजा कसा गया था. 2019 में रामपुर से लोकसभा सदस्य चुने जाने के बाद उनके खिलाफ 87 मामले दर्ज किए गए. इसके बाद फरवरी 2020 में सीतापुर जेल भेजा गया. लम्बी कानूनी लड़ाई से आजम खां को 86  मामलों में तो जमानत मिल गई, लेकिन शत्रु संपत्ति से जुड़े एक मामले में कोर्ट का फैसला आना बाकी रह गया. बीते वर्ष चार दिसंबर को इलाहाबाद हाईकोर्ट ने फैसला सुरक्षित रख लिया था. इसके चार महीने बीत जाने पर आजम खां ने अंतरिम जमानत के लिए सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाखिल की थी. आजम ने आरोप लगाया है कि राजनीतिक बदले के कारण यूपी सरकार जानबूझकर देरी करा रही है.

बता दें कि साल 2022 का राज्य चुनाव आजम खां ने जेल से ही लड़ा था और रामपुरी सीट में फिर से विजय हासिल की थी.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


VIDEO: भारत की निकहत ज़रीन ने रचा इतिहास, महिला विश्व मुक्केबाजी चैंपियनशिप में गोल्ड जीता