"अटल जी के ज़माने में प्रेम ज़्यादा था...": PM मोदी और पूर्व PM वाजपेयी में अंतर पूछने पर बोले नीतीश कुमार

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने प्रधानमंत्री मोदी का नाम लिए बिना इशारों ही इशारों में उनपर खूब निशाना साधा. जब पत्रकारों ने उनसे पूछा कि अटल बिहारी वाजपेयी और नरेन्द्र मोदी में क्या अंतर हैं, तो उनके चेहरे पर एक चमक दिखने लगी और उन्होंने कहा,”*श्रद्धेय अटल बिहारी वाजपेयी के जमाने की बात ही कुछ और थी.”

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने पीएम मोदी पर साधा निशाना.

नई दिल्ली :

नीतीश कुमार ने बिहार के 8वें मुख्यमंत्री के रूप में एक बार फिर शपथ ली है. शपथ ग्रहण के बाद नीतीश कुमार ने मीडिया से अनौपचारिक बात की. इस दौरान नीतीश कुमार ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का नाम तो नहीं लिया लेकिन उनके निशाने पर PM Modi ही रहे. प्रधानमंत्री मोदी ही है. एक पत्रकार ने उनसे पूछा कि अटल बिहारी वाजपेयी और नरेन्द्र मोदी में क्या अंतर है. इस सवाल के जवाब पर नीतीश कुमार ने कहा,” श्रद्धेय वाजपेयी जी के जमाने की बात ही अलग थी. हम लोग जार्ज साहेब के नेतृत्व में उनके साथ गए थे. और वे हमलोगों को काफी प्रेम किया करते थे. उसको हम कभी भूल सकते हैं.”

इसके बाद जब प्रधानमंत्री मोदी के बारे में पूछा गया तो उन्होंने बिना उनका नाम लिए कहा,” हम उनके साथ गए औऱ उसके बाद जो कुछ भी हमारे साथ होता रहा वो हमारे पार्टी के लोगों से पूछिए. जिस एक व्यक्ति को हम जिम्मा दिए थे उसीसे पार्टी के बारे में पूछते रहते हैं..वो पार्टी में रहने के बजाय और कहीं चले गए.” मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का स्पष्ट इशारा आर सी पी सिंहा की तरफ था जिसे पार्टी से बाहर निकाल दिया गया है.

2024 में प्रधानमंत्री पद की दावेदारी पर बोलते हुए नीतीश कुमार ने एक बार फिर पीएम मोदी पर तंज कसा. नीतीश कुमार ने कहा,” नहीं, हमारी किसी भी पद के लिए कोई दावेदारी नहीं है. लेकिन जो 2014 में आए वो 2024 के बाद रह पाएंगे या नहीं ?”

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


पीएम मोदी पर हमला बोलते हुए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा,” आप हमारी पार्टी के लोगों से पूछ लीजिए की क्या सबकी स्थिति हुई.  मैं मुख्यमंत्री(2020 में) बनना नहीं चाहता था. लेकिन मुझे दवाब दिया गया कि आप संभालिए. बाद के दिनों में जो कुछ भी हो रहा था, सब देख रहे थे. हमारी पार्टी के लोगों के कहने हम अलग हुए.”