बिहार: बेखौफ अपराधियों ने भवन निर्माण के एसडीओ के साथ की लूटपाट, गोली मारकर मौके से फरार

इस घटना के बाद एसडीओ के परिजनों का स्थानीय पुलिस और जहानाबाद एसपी को लेकर तीखा विरोध है. परिजनों का आरोप है कि घटना के बाद कई बार फोन करने के बाद में एसपी ने फोन नहीं उठाया.

बिहार: बेखौफ अपराधियों ने भवन निर्माण के एसडीओ के साथ की लूटपाट, गोली मारकर मौके से फरार

(प्रतीकात्मक फोटो)

बिहार के जहानाबाद में अपराधियों ने एक बड़ी घटना को अंजाम दिया है. यहां बेखौफ अपराधियों ने कल  शाम 7:00 बजे के करीब भवन निर्माण के एसडीओ कुमुद रंजन को लूटपाट के दरम्यान गोली मारकर जख्मी कर दिया है और मौके से भाग निकला. इसके बाद घायल एसडीओ को गंभीर हालत में पीएमसीएच रेफर कर दिया गया है.बता दें कि यह घटना परस बीघा थाना क्षेत्र के नौरू बाईपास के समीप की है. घायल एसडीओ जीतन राम मांझी के हम पार्टी के राष्ट्रीय सचिव पंपी शर्मा के बड़े बेटे हैं.

लूटपाट का विरोध करने पर अपराधियों ने मारी गोली
जानकारी के मुताबिक, अपराधियों का शिकार बना भवन निर्माण विभाग का एसडीओ कुमुद रंजन अरवल में पदस्थापित था. घटना के समय वह ड्यूटी कर अपने घर जहानाबाद के मखदुमपुर के पलया गांव लौट रहा था. अपराधियों ने एसडीओ को उस समय निशाना बनाया जब वह बाइक से अरवल से ड्यूटी के बाद जहानाबाद के मखदुमपुर स्थित पलया गांव लौट रहा था. जैसे ही कुमुद जहानाबाद के न्यू बायपास स्थित नौरू के समीप पहुंचा, अपराधियों ने हथियार के बल पर रोक लिया और लूटपाट शुरू कर दिया. लूटपाट का विरोध करने के दरम्यान अपराधियों ने कुमुद को तीन गोलियां दाग दी, जिससे वह वहीं पर गिर गया. 

बाइक, मोबाइल और पर्स लूटकर फरारा हुए बदमाश
इसके बाद अपराधी कुमुद का बाइक, मोबाइल और पर्स लूट कर भाग निकले. इधर स्थानीय लोगों ने लहूलुहान एसडीओ को सदर अस्पताल पहुंचाया जहां उसकी स्थिति नाजुक देखते हुए डॉक्टरों ने पीएमसीएच रेफर कर दिया. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

परिजनों का स्थानीय पुलिस और जहानाबाद एसपी को लेकर तीखा विरोध
इस घटना के बाद एसडीओ के परिजनों का स्थानीय पुलिस और जहानाबाद एसपी को लेकर तीखा विरोध है. परिजनों का आरोप है कि घटना के बाद कई बार फोन करने के बाद में एसपी ने फोन नहीं उठाया. इधर इस मामले में एसडीपीओ राजीव कुमार सिंह ने बताया कि भवन निर्माण के इंजीनियर को गंभीर हालत में पीएमसीएच रेफर किया गया है. घटना स्थल को चिन्हित किया जा रहा है. फिलहाल कारण स्पष्ट पता नही चल पाया है. ऑटो चालक के निशानदेही पर घटना स्थल चिन्हित किया जा रहा है और आगे की कार्रवाई की जा रही है.