विज्ञापन
Story ProgressBack
This Article is From Jul 27, 2019

प्रियंका गांधी ने निभाया वादा, सोनभद्र हिंसा के पीड़ितों को दी आर्थिक मदद

सोनभद्र के घोरावल थाना अंतर्गत उभ्भा गांव में विगत 17 जुलाई को हुए ज़मीनी विवाद में दस लोग मारे गये थे, और करीब ढाई दर्जन लोग घायल हो गये थे. 

प्रियंका गांधी ने निभाया वादा, सोनभद्र हिंसा के पीड़ितों को दी आर्थिक मदद
प्रियंका गांधी ने 20 जुलाई को मिर्जापुर में सोनभद्र हिंसा के पीड़ितों से मुलाकात की थी.
नई दिल्ली:

सोनभद्र हिंसा में प्रभावित हुए लोगों को कांग्रेस महासचिव एवं पूर्वी उत्तर प्रदेश की प्रभारी प्रियंका गांधी ने आर्थिक सहायता प्रदान की है. प्रियंका ने शनिवार को अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के सचिव बाज़ीराव खड़े और अन्य नेताओं को भेजकर मृतक के परिजनों को दस-दस लाख रूपये और गम्भीर रूप से घायल 9 लोगों को एक एक लाख रूपये का चेक दिया है.  प्रियंका गांधी ने घटना के बाद सोनभद्र दौरे के दौरान इन लोगों को सहायता राशि देने की घोषणा की थी. उभ्भा गांव पहुंचे बाजीराव ने पत्रकारों से कहा कि ''हर एक नागरिक के प्रति हमारा कर्तव्य है की उनके दुःख में हम उनके साथ खड़े हों, प्रियंका गांधी के वायदे को पूरा करने के लिए हमें यहां भेजा गया है. कांग्रेस पार्टी हमेशा ग़रीबों के उज्जवल भविष्य के सपने व बराबरी के अधिकार के लिए गरीबों कमज़ोरों के साथ खड़ी है.

सोनभद्र में जिस जमीन के लिए चली गईं 10 जानें उसके नही हैं 1955 के राजस्व रिकॉर्ड उपलब्ध

बता दें उभ्भा में हुए ज़मीनी विवाद में दस लोगों के मारे जाने तथा ढाई दर्जन के घायल होने के बाद प्रियंका गांधी ने 19 जुलाई को उभ्भा गांव जाने का कार्यक्रम बनाया था. पहले वाराणसी पहुंचकर ट्रामा सेंटर में उन्होंने सोनभद्र हिंसा में भर्ती घायलों का हाल चाल जाना. इसके बाद वे सोनभद्र के उम्भा गांव निकल पड़ी. हांलाकि प्रशासन ने उन्हें मिर्ज़ापुर के नारायणपुर में हिरासत में लिया और उन्हें चुनार ले जाया गया जहां उन्होंने कुछ पीड़ितों से मुलाक़ात की और सहायता का आश्वासन दिया था. 

सोनभद्र नरसंहार का VIDEO आया सामने: गांववालों को चारों ओर ट्रैक्टरों से घेरकर लाठियों से पीटते दिखे हथियारबंद आरोपी

पीडि़त परिवारों से मुलाकात के बाद प्रियंका ने 20 जुलाई को संवाददाताओं से कहा था, ''इन बच्चों ने अपने माता पिता खो दिये हैं. कुछ परिवार ऐसे हैं, जिनके बच्चे और माता पिता अस्पताल में भर्ती हैं. ये लोग पिछले डेढ महीने से अपनी दिक्कतों के बारे में प्रशासन को सूचित कर रहे थे.'' उन्होंने कहा कि गांव की महिलाओं के खिलाफ कई फर्जी मामले भी दर्ज किये गये हैं. प्रियंका ने कहा था कि इन लोगों के साथ जो भी हुआ, बहुत गलत हुआ. इनके साथ घोर अन्याय हुआ है और हम इस घडी में उनके साथ हैं और उनकी लडाई लडेंगे.

गांव वालों की मांग के बारे में प्रियंका ने कहा था कि जिस भी परिवार ने किसी सदस्य को खोया है, उसे वित्तीय सहायता के रूप में 25 लाख रूपये मिलने चाहिए और निर्दोष गांव वालों के खिलाफ दर्ज मामले वापस लिये जाने चाहिए. 

मध्‍यप्रदेश में भी दोहराई गई सोनभद्र जैसी घटना, जमीन विवाद में दो समुदायों में झड़प में 13 लोग घायल

प्रियंका के साथ मौजूद उत्तर प्रदेश कांग्रेस विधानमंडल दल के नेता अजय कुमार लल्लू ने बताया था कि कांग्रेस महासचिव ने पीडितों से मुलाकात के दौरान ही मृतकों के परिजनों को दस दस लाख रूपये की आर्थिक मदद का ऐलान किया है. प्रियंका के दौरे के जवाब में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को उक्त गांव का दौरा करना पड़ा था.  (इनपुट-भाषा)

वीडियो: सोनभद्र हत्याकांड के पीड़ित परिवारों से मिलीं प्रियंका गांधी वाड्रा

NDTV.in पर ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें, व देश के कोने-कोने से और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
"इसपर पुनर्विचार हो तो अच्छा..." : कांवड़ यात्रा के रूट में दुकानों पर नेम प्लेट लगाने के आदेश पर JDU
प्रियंका गांधी ने निभाया वादा, सोनभद्र हिंसा के पीड़ितों को दी आर्थिक मदद
कांग्रेस ने पिछड़ों का आरक्षण छीनकर मुसलमानों को दे दिया, एक-एक पाई का हिसाब लेकर आया हूं : हरियाणा में बोले अमित शाह
Next Article
कांग्रेस ने पिछड़ों का आरक्षण छीनकर मुसलमानों को दे दिया, एक-एक पाई का हिसाब लेकर आया हूं : हरियाणा में बोले अमित शाह
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
;