हैदराबाद में बीजेपी की बैठक में प्रस्ताव की तस्वीरें लेते हुए पकड़ा गया अधिकारी

केंद्रीय मंत्री जी किशन रेड्डी ने कहा कि केसीआर चाहें तो हम उन्हें प्रस्ताव दे सकते हैं, लेकिन चल रही बैठक के दौरान दस्तावेज लेना गलत है

हैदराबाद में बीजेपी की बैठक में प्रस्ताव की तस्वीरें लेते हुए पकड़ा गया अधिकारी

हैदराबाद में बीजेपी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की दो दिवसीय बैठक हुई (प्रतीकात्मक फोटो).

हैदराबाद:

राज्य खुफिया विभाग के एक विशेष शाखा अधिकारी को हैदराबाद में आयोजित बीजेपी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक (BJP national executive meet) के दौरान दस्तावेजों की तस्वीरें क्लिक करते हुए रंगे हाथ पकड़ा गया. यह दस्तावेज एक मेज पर रखे हुए थे. दस्तावेजों में पार्टी के प्रस्ताव का विवरण और राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में आगामी बैठकों का विवरण भी था. केंद्रीय मंत्री जी किशन रेड्डी सहित बीजेपी के नेताओं ने इस घटना की पुष्टि की.

रेड्डी ने कहा कि "हमारी पार्टी में कोई गोपनीयता नहीं है. हमारी पार्टी एक लोकतांत्रिक पार्टी है. यह एक पारिवारिक पार्टी नहीं है. जो भी आया वह अवैध रूप से आया था. हम सुरक्षा व्यवस्था नहीं करते, यह पुलिस विभाग करता है. जब पीएम आते हैं तो कार्यकर्ताओं को इजाजत नहीं होती है. पुलिस सब कुछ अपने हाथ में ले लेती है." उन्होंने आगे कहा कि पार्टी के पास छिपाने के लिए कुछ नहीं है.

तेलंगाना के मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव, जिन्हें केसीआर के नाम से जाना जाता है, का जिक्र करते हुए रेड्डी ने कहा, "जो कोई भी आता है, हम उन्हें जानकारी देते हैं. छिपाने के लिए कुछ भी नहीं है. अगर केसीआर चाहते हैं तो हम उन्हें प्रस्ताव दे सकते हैं, लेकिन बैठक के दौरान प्रस्ताव लेना गलत है." 

केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल ने भी घटना पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा कि सरकार पारदर्शिता में विश्वास करती है. गोयल ने कहा, "हमारी सरकार पारदर्शिता में विश्वास करती है, हम खुद सब कुछ वेबसाइट पर डालते हैं, इसलिए जो भी आना चाहता है वह आ सकता है. कोई गुप्त गतिविधि नहीं है. हम लोगों के कल्याण के लिए काम कर रहे हैं."

बीजेपी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक का रविवार को दूसरा दिन था. इसके केंद्र में मुख्य रूप से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का भाषण और पार्टी का राजनीतिक प्रस्ताव रहा. प्रस्ताव के सर्वसहमति से पारित होने की उम्मीद थी.

हैदराबाद की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में गृह मंत्री अमित शाह द्वारा लाए गए राजनीतिक प्रस्ताव में कहा गया है कि अगले दो-तीन दशकों में भारत एक "विश्व नेता" के रूप में उभरेगा.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


हैदराबाद इंटरनेशनल कन्वेंशन सेंटर में हुई बैठक में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा, केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह, 19 राज्यों के मुख्यमंत्रियों और बीजेपी के अन्य वरिष्ठ नेताओं ने भाग लिया.