“60 दिन में मंगेतर से शादी को तैयार”; अपनी शादी में नहीं पहुंचने वाले बीजद विधायक ने दी सफाई

बीजद विधायक और उनकी मंगतेर ने 17 मई, 2022 को अपनी शादी के पंजीकरण के लिए आवेदन किया था. महिला अपने परिवार के सदस्यों के साथ रजिस्ट्रार कार्यालय पहुंची, लेकिन विधायक नहीं पहुंचे.

“60 दिन में मंगेतर से शादी को तैयार”; अपनी शादी में नहीं पहुंचने वाले बीजद विधायक ने दी सफाई

विधायक की मंगेतर ने लगाए कई आरोप

पारादीप:

ओडिशा के बीजद विधायक बिजय शंकर दास की मंगेतर ने उनके खिलाफ शिकायत दर्ज कराई है, क्योंकि वह अपनी ही शादी में शामिल नहीं हो पाए थे. जिसके बाद विधायक की मंगेतर ने उन पर कई गंभीर आरोप लगाए हैं. बीजद के तिरटोल विधायक बिजय शंकर दास ने रविवार को कहा कि वह अगले 60 दिनों में मंगेतर से शादी करने के लिए तैयार हैं. वहीं महिला ने दावा किया है कि विधायक के परिवार के सदस्य उन्हें शादी करने के लिए मना कर रहे थे, और यहां तक कि उसे धमकी देने की भी कोशिश की गई.

बिजय शंकर दास पर 420 (धोखाधड़ी), 195ए (झूठे सबूत देने के लिए किसी को धमकाना) और 120बी (आपराधिक साजिश की सजा) सहित आईपीसी की विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया है. दरअसल विधायक और उनकी मंगतेर ने 17 मई, 2022 को अपनी शादी के पंजीकरण के लिए आवेदन किया था. महिला अपने परिवार के सदस्यों के साथ रजिस्ट्रार कार्यालय पहुंची, लेकिन विधायक नहीं पहुंचे. जिसके बाद विधायक ने कहा, "हां, मैं अगले 60 दिनों में उससे शादी करने के लिए तैयार हूं. शादी के पंजीकरण के लिए आवेदन किए एक महीना बीत चुका है, मेरे पास अभी भी 60 दिन हैं. मेरी मां बीमार है, और मैं वह करूंगा जो आवश्यक है. “

इसके साथ ही विधायक ने धोखाधड़ी के आरोपों का खंडन किया और कहा, 'मैंने कभी शादी को ना नहीं कहा. वास्तव में, मैंने मीडिया और जनता के सामने इसकी घोषणा की है. इसलिए धोखाधड़ी का सवाल ही नहीं उठता." महिला ने दावा किया कि वह तीन साल से दास के साथ रिश्ते में थी और उसने तय तारीख पर उससे शादी करने का वादा किया था. विधायक के परिवार के करीबी सूत्रों ने बताया कि बीजद के दिवंगत नेता और पूर्व मंत्री दिवंगत विष्णु चरण दास के बेटे दास काफी समय से महिला के साथ रिश्ते में थे. लेकिन दोनों के बीच मतभेद पैदा हो गए थे और विधायक जाहिर तौर पर शादी करने के लिए राजी नहीं थे.

ये भी पढ़ें: 'अग्निपथ' योजना पसंद नहीं तो सशस्त्र बलों में शामिल न हों, सेना न रोजगार एजेंसी है और न कोई कंपनी या दुकान: सिंह

सूत्रों ने कहा कि महिला ने सोशल मीडिया पर उनकी कुछ तस्वीरें अपलोड कीं, जिसके बाद बिजय शादी के लिए तैयार हो गया. इस बीच, विपक्षी भाजपा और कांग्रेस ने महिला द्वारा लगाए गए आरोपों की निष्पक्ष जांच की मांग की है. प्रदेश भाजपा महासचिव पृथ्वीराज हरिचंदन ने कहा, "सत्तारूढ़ पार्टी की अपने विधायकों को बचाने की आदत है. हम निष्पक्ष जांच की मांग करते हैं." जबकि कांग्रेस ने भी आरोपों की निष्पक्ष जांच की मांग की है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


VIDEO: गुजरात चुनाव: अभी से तैयारियों में जुटी पार्टियां, हर महीने रैली करेंगे PM, केजरीवाल भी दिखाएंगे दम | पढ़ें