ट्रैक्टर रैली हिंसा : जेल में बंद 121 लोग, जमानत करा रही दिल्ली की ये कमेटी

Farmer's Protest violence: मनजिंदर सिंह सिरसा (Manjinder Singh Sirsa) ने कहा, '121 लोग पकड़े गए. हम जमानत लगा रहे हैं. हरियाणा, पंजाब, दिल्ली, यूपी से भी हैं, जिनको गिरफ्तार किया गया.'

ट्रैक्टर रैली हिंसा : जेल में बंद 121 लोग, जमानत करा रही दिल्ली की ये कमेटी

Republic Day Violence: मनजिंदर सिंह सिरसा DSGMC के अध्यक्ष हैं. (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

दिल्ली में बीती 26 जनवरी को किसान संगठनों ने नए कृषि कानूनों (Farm Laws) के विरोध में ट्रैक्टर रैली (Tractor Rally Violence) बुलाई थी. इस रैली में काफी हिंसा हुई थी. इस मामले में दिल्ली पुलिस (Delhi Police) ने अब तक 121 लोगों को गिरफ्तार किया है, जो तिहाड़ जेल में बंद हैं. पुलिस पर आरोप है कि इनमें से कई लोगों को धरनास्थल से दूर बाजार से गिरफ्तार किया गया है. अब इन किसानों को कानूनी सहायता दिलाने को लेकर दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी (DSGMC) आगे आई है. कमेटी के अध्यक्ष मनजिंदर सिंह सिरसा (Manjinder Singh Sirsa) ने NDTV से बातचीत में कहा कि वह जेल में बंद लोगों की जमानत कराने में जुटे हुए हैं.

मनजिंदर सिंह सिरसा ने कहा, '121 लोग पकड़े गए. हम जमानत लगा रहे हैं. हरियाणा, पंजाब, दिल्ली, यूपी से भी हैं, जिनको गिरफ्तार किया गया. जमानत लगाना शुरू किया. कल तीन लोगों की जमानत हुई है, जो पंजाब के मानसा से हैं. आज दो लोगों की और जमानत लगी हुई है. इसमें 80 साल के लांस नायक आर्मी से रिटायर हैं, उनकी भी जमानत लगी हुई है. बेल करवाना प्रॉयरिटी है. दिल्ली के काकरोला के 5 लोग, झज्जर के 6 लोग, इसके अलावा हरियाणा से 4 और लोग, 100 से ज्यादा पंजाब से हैं. 3-4 लोग यूपी से हैं.'

शशि थरूर-राजदीप सरदेसाई समेत अन्य को SC से राहत, गिरफ्तारी पर लगाई रोक

उन्होंने आगे कहा, '121 को हमने अब तक आइडेंटिफाई किया है. कुछ ऐसे भी हैं, जिनके परिवार से गायब होने की बात है. कुल 44 FIR दर्ज की गई है, इसमें 30 केस प्रिवेंटिव धाराओं में थे. 14 FIR ऐसी हैं, जिसमें लोग गिरफ्तार हैं. 13 केस में धारा 307 लगी है. कोई राशन खरीदने जा रहा था, तो कोई बाइक से बंगला साहब आ रहा था, जब गिरफ्तारी हुई. जहां 2-3 लोग अकेले मिले, गिरफ्तारी कर ली गई.'

दीप सिद्धू की गिरफ्तारी और सरकार से बातचीत पर क्या बोले किसान नेता दर्शन पाल सिंह?

सिरसा ने कहा, 'ऐसे 6 लोग हैं, जिनका प्रदर्शन से लेना देना नहीं है, जो वीजा लगवाने आए थे उनको भी पकड़ लिया. फिर कागज दिखाए तो अलीपुर थाने से छूट गए. ये सब 26 जनवरी के बाद की गिरफ्तारी हैं. धरनास्थल के आसपास जो भी पुलिस स्टेशन है, उसने गिरफ्तारी को अंजाम दिया.'

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


VIDEO: रवीश कुमार का प्राइम टाइम : किसान और सरकार आमने-सामने