Kota Student Suicide: कोटा में NEET की तैयारी कर रहे छात्र ने की आत्महत्या, इस साल अब तक 28 छात्रों ने दी जान

Kota Student Suicide Cases in 2023: फिलहाल आत्महत्या के कारणों की जांच की जा रही है लेकिन इस साल अब तक 28 स्टूडेंटस सुसाइड कर चुके हैं, जो पिछले सालों के मुकाबले डराने वाला आकड़ा हैं.

Kota Student Suicide: कोटा में NEET की तैयारी कर रहे छात्र ने की आत्महत्या, इस साल अब तक 28 छात्रों ने दी जान

Kota student suicides: फिलहाल कोटा में नीट की तैयारी कर रहे स्टूडेंट की आत्महत्या के कारणों की जांच की जा रही है.(प्रतीकात्मक फोटो)

खास बातें

  • कोटा में नीट की तैयारी कर रहे स्टूडेंट ने सुसाइड कर लिया
  • मृतक फोरिद हुसैन पश्चिम बंगाल का रहने वाला था
  • फिलहाल आत्महत्या के कारणों का पता नहीं
कोटा:

कोटा में कोचिंग स्टूडेंट के सुसाइड (Kota Student Suicide) मामले कुछ दिन थमने के बाद एक बार फिर सामने आया है. कोटा में नीट की तैयारी कर रहे स्टूडेंट ने सुसाइड कर लिया. फोरिद हुसैन पश्चिम बंगाल का रहने वाला था. शहर के वक्फ नगर इलाके में किराए के मकान में कमरा लेकर रह रहा था. देर शाम उसने कमरे में फांसी लगा ली. इस बात का पता लगने के बाद उसे फांसी के फंदे से उतारकर निजी हॉस्पिटल ले जाया गया. जहां डॉक्टर ने चेक कर मृत घोषित किया. शव को एमबीएस हॉस्पिटल की मोर्चरी में शिफ्ट करवाया है. 

निजी कोचिंग से नीट की तैयारी कर रहा था मृतक छात्र
दादाबाड़ी थाना सीआई राजेश पाठक ने बताया कि  फोरिद किराए के मकान में रहकर निजी कोचिंग से नीट की तैयारी कर रहा था. मकान में अन्य भी बच्चे रहते हैं. शाम 4 बजे तक उसको बच्चों ने देखा था. रात 7 बजे तक कमरे से बाहर नहीं निकला. उसके दोस्तों ने आवाज लगाई तो फोरिद ने गेट नहीं खोले. उन्होंने मकान मालिक को सूचना दी. 

मकान मालिक की सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची. फोरिद ने 5 से रात 7 बजे के बीच फांसी लगाई. फिलहाल, सुसाइड के कारण सामने नहीं आए है. परिजनों को सूचना दी गई है. फोरिद पिछले साल से नीट की तैयारी कर रहा था.

इस साल अब तक 28 स्टूडेंट्स कर चुके हैं आत्महत्या
कोटा में इस साल कोचिंग स्टूडेंटस को लेकर राज्य सरकार ने भी महत्वपूर्ण कदम उठाते हुए 3 अक्टूबर को कोचिंग संस्थानों के लिए गाइडलाइन जारी की है जिसके तहत बच्चों को स्ट्रेस फ्री रखकर प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी करवाई जा सके बाकायदा जिला प्रशासन को भी नियमों की पालना करवाने के लिए निर्देश जारी किए गए हैं. गाइडलाइन की पालन के मध्य नजर कोचिंग स्टूडेंट के सुसाइड के मामलों पर कुछ दिन विराम भी लगा. लेकिन एक बार फिर एक और कोचिंग स्टूडेंट्स ने आत्मघाती कदम उठा लिया.

फिलहाल आत्महत्या के कारणों की जांच की जा रही है लेकिन इस साल अब तक 28 स्टूडेंटस सुसाइड कर चुके हैं, जो पिछले सालों के मुकाबले डराने वाला आकड़ा हैं.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

हेल्पलाइन
वंद्रेवाला फाउंडेशन फॉर मेंटल हेल्‍थ9999666555 या help@vandrevalafoundation.com
TISS iCall022-25521111 (सोमवार से शनिवार तक उपलब्‍ध - सुबह 8:00 बजे से रात 10:00 बजे तक)
(अगर आपको सहारे की ज़रूरत है या आप किसी ऐसे शख्‍स को जानते हैं, जिसे मदद की दरकार है, तो कृपया अपने नज़दीकी मानसिक स्‍वास्‍थ्‍य विशेषज्ञ के पास जाएं)