"बच्चे जैसा व्यवहार कर रहे KCR" : PM मोदी की अगवानी नहीं करने पर बोली BJP, स्टालिन-जगन मोहन को सराहा

भाजपा नेता रामचंदर राव ने एनडीटीवी से कहा, "केसीआर और उनकी पार्टी तेलंगाना राष्ट्र समिति दक्षिणी राज्य में भाजपा की बढ़ती लोकप्रियता से ईर्ष्या कर रहे हैं."

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की आगवानी करने तेलंगाना के मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव नहीं जाएंगे.

हैदराबाद:

चार दक्षिणी राज्यों की अपनी दो दिवसीय यात्रा के हिस्से के रूप में आज हैदराबाद के बेगमपेट हवाई अड्डे पर पहुंचने पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अगवानी करने तेलंगाना के मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव (केसीआर) नहीं जाएंगे. केसीआर की जगह प्रतीक्षा मंत्री तलसानी श्रीनिवास यादव प्रधानमंत्री की आगवानी करेंगे. हर बार जब पीएम मोदी तेलंगाना पहुंचे और मुख्यमंत्री ने कार्यक्रम में हिस्सा नहीं लिया तो तलसानी ही प्रधानमंत्री की आगवानी करने पहुंचे हैं.

भाजपा नेताओं का कहना है कि पीएम मोदी की अगवानी नहीं करके केसीआर प्रोटोकॉल का उल्लंघन करेंगे. हैदराबाद और रामागुंडम के प्रमुख स्थानों पर लगाए गए पोस्टर, बैनर और तख्तियां भी भाजपा और केसीआर की पार्टी के बीच विवाद पैदा कर रहे हैं. इन बैनर्स और पोस्टर्स में प्रधानमंत्री को तेलंगाना नहीं आने को कहा गया है.

सिकंदराबाद से सांसद और केंद्रीय मंत्री किशन रेड्डी कहा, "केसीआर इसमें राजनीति क्यों लाए? यह तेलंगाना के लिए गर्व और प्रतिष्ठा की बात है कि प्रधानमंत्री राज्य को लाभान्वित करने वाली कई परियोजनाओं का शुभारंभ कर रहे हैं और राष्ट्र को समर्पित कर रहे हैं."

भाजपा नेताओं ने पीएम मोदी से तेलंगाना नहीं आने के लिए कहने वाले पोस्टर लगाने की निंदा की. भाजपा नेता रामचंदर राव ने एनडीटीवी से कहा, "क्या नरेंद्र मोदी भारत के प्रधानमंत्री नहीं हैं? या तेलंगाना भारत का हिस्सा नहीं है? केसीआर एक बच्चे की तरह व्यवहार कर रहे हैं. वह और उनकी पार्टी तेलंगाना राष्ट्र समिति दक्षिणी राज्य में भाजपा की बढ़ती लोकप्रियता से ईर्ष्या कर रहे हैं. रामचंदर राव ने कहा," एमके स्टालिन और वाईएस जगन मोहन रेड्डी दोनों भाजपा के राजनीतिक विरोधी हैं. अगर वे प्रधानमंत्री का स्वागत कर सकते हैं तो केसीआर क्यों नहीं?"

कल, तमिलनाडु के मुख्यमंत्री एमके स्टालिन ने राज्यपाल आरएन रवि के साथ डिंडीगुल में पीएम मोदी की अगवानी की. हालांकि, डीएमके ने राज्यपाल को पद के लिए अयोग्य बताते हुए हटाने की मांग की है. बाद में शाम को आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री जगन मोहन रेड्डी ने विजाग में पीएम मोदी का स्वागत किया.

पीएम मोदी का तेलंगाना दौरा ऐसे समय में हो रहा है, जब सत्तारूढ़ टीआरएस और भाजपा के बीच पिछले कुछ महीनों में कई मुद्दों पर विवाद चल रहा है. नवीनतम, केसीआर का आरोप है कि केंद्र सरकार उनके विधायकों को रिश्वत देने या धमकाने की साजिश रचकर उनकी सरकार गिराने की कोशिश कर रही है. बीजेपी ने इससे इनकार किया है.

यह भी पढ़ें

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

"बागियों से नुकसान, पर जीत तय" : हिमाचल प्रदेश विधानसभा चुनाव के मतदान के दौरान एनडीटीवी से बोले जयराम ठाकुर
"सप्ताह में करना होगा 80 घंटे काम, WFH भी नहीं मिलेगा" : Twitter कर्मचारियों के लिए Elon Musk का नया फरमान
"G20 में PM मोदी से मिलने के लिए उत्सुक हैं जो बाइडेन" : अमेरिकी सुरक्षा सलाहकार