भारतीय सेना ने फिर दिखाई बहादुरी... सिक्किम में भारी बर्फबारी में फंसे 500 पर्यटकों को किया रेस्क्यू

सेना ने जो वीडियो जारी किया है उसमें पर्यटक रेस्क्यू किए जाने के बाद सेना के अधिकारी को अपनी आपबीती सुना रहे हैं. एक महिला पर्यटक ने सेना के अधिकारी को बताया कि जब वो बर्फबारी के बीच फंसे तो उनके आंखों के आगे अंधेरा सा छा गया. वो ऊपर बेहोश हो गई थी.

भारतीय सेना ने फिर दिखाई बहादुरी... सिक्किम में भारी बर्फबारी में फंसे 500 पर्यटकों को किया रेस्क्यू

सिस्कि

नई दिल्ली:

भारतीय सेना अपनी बहादुरी के लिए हमेशा से ही जानी जाती रही है. सिक्किम स्थिति भारत-चीन बॉर्डर पर भारी बर्फबारी के बीच फंसे 500 पर्यटकों को बचाकर सेना ने एक बार फिर इसे साबित किया है. सेना ने पर्यटकों के इस रेस्क्यू का एक वीडियो भी जारी किया है. इस वीडियो में सेना के अधिकारी और जवान बर्फबारी में फंसे पर्यटकों को बचाते और सुरक्षित कैंप में पहुंचाते दिख रहे हैं. साथ ही इस वीडियो में हताश पर्यटक अपनी आपबीती भी सुनाते दिख रहे हैं. 

सेना द्वारा जारी इस वीडियो एक महिला पर्यटक ने सेना के अधिकारी को बताया कि जब वो बर्फबारी के बीच फंसे तो उनके आंखों के आगे अंधेरा सा छा गया. वो ऊपर बेहोश हो गई थी. उन्हें लगा कि अब वह नहीं बच पाएंगी.

वहीं एक अन्य महिला पर्यटक ने कहा कि बर्फबारी में फंसने के बाद डर की वजह से मेरे सिर में तेज दर्द होने लगा था. उम्मीद नहीं थी कि यहां से सुरक्षित निकल पाऊंगी. लेकिन अब खुदको सुरक्षित देखकर अच्छा लग रहा है. सेना ने इस रेस्क्यू ऑपरेशन से जुड़े कुछ फोटोग्राफ्स भी साझा किए हैं. जिसमें सेना के अधिकारी पर्यटको को सुरक्षित निकालते दिख रहे हैं. 

सेना ने इसे लेकर एक ट्वीट किया है. जिसमें लिखा गया है कि अचानक भारी बर्फबारी के कारण 21 फरवरी को पूर्वी सिक्किम के नाथू-ला में 500 से अधिक पर्यटकों के साथ लगभग 175 वाहन फंस गए थे. सूचना मिलने के बाद त्रिशक्ति कॉर्प के सैनिक शून्य से नीचे के तापमान का सामना करते हुए फंसे हुए पर्यटकों को बचाने और सहायता प्रदान करने के लिए घटनास्थल पर पहुंचे. पर्यटकों को सुरक्षित स्थान तक पहुंचाने में सहायता के लिए त्वरित चिकित्सा, गर्म जलपान/भोजन और सुरक्षित परिवहन समय पर प्रदान किया गया.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com