आवाज बुलंद करने की वजह से मुझे निशाना बनाया जा रहा, अनुच्छेद 370 की बहाली तक समस्या बनी रहेगी : महबूबा मुफ्ती

Jammu-kashmir:महबूबा मुफ्ती ने कहा कि जब तक कश्मीर मुद्दा हल नहीं हो जाता, समस्याएं बनी रहेंगी. पीडीपी प्रमुख ने कहा कि रोशनी एक स्कीम थी, जिसे भाजपा ने स्कैम (घोटाले) का रूप दे दिया है.

आवाज बुलंद करने की वजह से मुझे निशाना बनाया जा रहा, अनुच्छेद 370 की बहाली तक समस्या बनी रहेगी : महबूबा मुफ्ती

PDP प्रमुख महबूबा मुफ्ती ने कहा, सिर्फ चुनाव कराने से समस्याएं हल नहीं होंगी

नई दिल्ली:

जम्मू-कश्मीर (Jammu-kashmir)  की पूर्व मुख्यमंत्री और PDP प्रमुख महबूबा मुफ्ती (Mehbooba Mufti) ने आरोप लगाया है कि 370 समेत तमाम मुद्दों पर आवाज बुलंद के कारण उन्हें निशाना बनाया जा रहा है. उन्होंने कहा कि अनुच्छेद 370 की बहाली तक समस्या बनी रहेगी. पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा, बीजेपी ऐसा माहौल तैयार करना चाहती है, जहां लोकतंत्र के लिए कोई जगह नहीं हो. महबूबा ने आरोप लगाया कि उन्होंने अनुच्छेद 370 (Article 370) समेत तमाम मुद्दों पर आवाज बुलंद की, लिहाजा उन्हें निशाना बनाया जा रहा है और उनकी पार्टी को प्रतिबंधित करने की तैयारी की जा रही है.

महबूबा के मुताबिक, उनकी रिहाई के बाद से ही अनुच्छेद 370 को लेकर बातें हो रही हैं तो वह इसमें क्या कर सकती हैं.जब से हमने जिला पर्वतीय परिषद (DDC) चुनाव में भाग लेने का फैसला किया, तब से जम्मू-कश्मीर में पिछले एक-डेढ़ साल से जो ज्यादतियां हो रही थीं उनको और बढ़ाया गया है. पूरे मुल्क़ में इस वक़्त अंधा कानून चल रहा है, इनके पास सबसे बड़ा हथियार UAPA बन गया है.

महबूबा मुफ्ती (Mehbooba Mufti) ने कहा कि जब तक कश्मीर (kashmir) मुद्दा हल नहीं हो जाता, समस्याएं बनी रहेंगी. जब तक अनुच्छेद 370 को दोबारा बहाल नहीं किया जाता, मुद्दा हल नहीं होगा. मंत्री आएंगे और जाएंगे.सिर्फ चुनाव कराने से समस्या का समाधान नहीं होगा. पीडीपी प्रमुख (PDP Chief) ने कहा कि रोशनी एक स्कीम थी, जिसे भाजपा ने स्कैम (घोटाले) का रूप दे दिया है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

गौरतलब है कि महबूबा मुफ्ती की अगुवाई वाली पीडीपी, फारुक अब्दुल्ला की नेशनल कान्फ्रेंस समेत कई पार्टियों ने मिलकर गुपकार गठबंधन तैयार किया है. यह गठबंधन अनुच्छेद 370 की जम्मू-कश्मीर में बहाली समेत तमाम मुद्दों पर एकजुट होकर लड़ाई लड़ रहा है.