गुना फिर शर्मसार : अस्पताल में पर्ची के लिए पैसे नहीं थे, इलाज नहीं होने पर मरीज ने दम तोड़ा

मध्यप्रदेश के गुना के जिला अस्पताल में बीमार पति का इलाज करने के लिए गुहार लगाती रही पत्नी, पर्ची नहीं बनने से नहीं किया गया इलाज

गुना फिर शर्मसार : अस्पताल में पर्ची के लिए पैसे नहीं थे, इलाज नहीं होने पर मरीज ने दम तोड़ा

गुना में इलाज न होने से मृत युवक की पत्नी और बेटा.

भोपाल:

मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh) के गुना (Guna) में एक बार फिर मानवता को शर्मसार कर देने वाली तस्वीर सामने आई है. गुना जिला अस्पताल के बाहर महिला अपने पति के इलाज के लिए गुहार लगाती रही लेकिन रात भर इलाज न मिलने के कारण उसके पति की मौत हो गई. बड़ी बात यह है कि जहां लोगों के इलाज के लिए सरकार बड़े बड़े दावे करती है वहीं ऐसी तस्वीरें मानवता को शर्मसार करती नजर आतीं हैं. 

बुधवार की शाम को महिला अपने पति को लेकर गुना जिला अस्पताल पहुंची थी. वहां पर उसके पास पर्चा बनवाने के लिए पैसे नहीं थे. पैसे न होने के कारण पति को भर्ती नहीं किया गया और न ही उसका इलाज शुरू हुआ. महिला रात भर जिला अस्पताल के बाहर बैठी इलाज के इंतजार में गुहार लगाती रही लेकिन किसी ने उसकी नहीं सुनी. आखिरकार जिला अस्पताल के बाहर पैसे के अभाव में बीमारी से ग्रसित युवक ने दम तोड़ दिया. 

यह भी पढ़ें : कर्नाटक: कोरोना टेस्‍ट रिपोर्ट पेश न कर पाने पर तीन अस्‍पतालों ने डॉक्‍टर को भर्ती करने से किया इनकार, मौत

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


मामला सामने आते ही गुना जिले के कलेक्टर कुमार पुरषोत्तम ने अस्पताल प्रबंधन से 24 घंटे के अंदर जवाब पेश करने के लिए पत्र लिखा. कमिश्नर बीडी ओझा ने भी मामले का संज्ञान लिया है. मामले की तुरंत जांच कराने की बात कही जा रही है.