इंजीनियर और कलेक्टर बनना चाहते हैं दो अनाथ बच्चे, पीएम मोदी ने मिलकर की हौसला अफजाई

चुनावी अभियान के दौरान पीएम मोदी का एक वीडियो जमकर वायरल हुआ. इस वीडियो में पीएम मोदी दो बच्चों (अवि और जय) से मिलते और उनसे बात करते हुए दिख रहे हैं.

इंजीनियर और कलेक्टर बनना चाहते हैं दो अनाथ बच्चे, पीएम मोदी ने मिलकर की हौसला अफजाई

पीएम ने अनाथ बच्चों से की मुलाकात

नई दिल्ली:

गुजरात चुनाव प्रचार के आखिरी बचे कुछ दिनों में सभी पार्टियां प्रचार अभियान ने अपना सब कुछ झोंक रही हैं. पीएम मोदी भी बीजेपी के उम्मीदवारों के लिए अलग-अलग जगह रैलियां कर रहे हैं. रविवार को चुनावी अभियान के दौरान पीएम मोदी का एक वीडियो जमकर वायरल हुआ. इस वीडियो में पीएम मोदी दो बच्चों (अवि और जय) से मिलते और उनसे बात करते हुए दिख रहे हैं. मिल रही जानकारी के अनुसार पीएम जिन दो बच्चों से मिल रहे हैं वो अनाथ हैं और जनजातिय पृष्टभूमि से हैं. कुछ साल पहले ही उनके अभिभावक की मृत्यु हो गई थी. ये दोनों बच्चे बड़े होकर इंजीनियर और कलेक्टर बनना चाहते हैं. 


पीएम मोदी ने गुजरात के नेत्रंग में अपनी रैली के दौरान इन दोनों बच्चों का जिक्र किया. उन्होंने कहा कि मुझे रैली में आने में देरी इसलिए हो गई क्योंकि मैं दो ऐसे अनाथ बच्चों से मिलने रुक गया था जो बड़े होकर इंजीनियर और कलेक्टर बनना चाहते हैं. पीएम मोदी ने आगे कहा कि इन दोनों बच्चों की जिंदगी उनके सरकार के प्रयासों के बाद ही बदली है. ये दोनों बच्चे जब आठ और छह साल के थे तब इनके अभिभावकों की मृत्यु हो गई. उनका ख्याल रखने के लिए कोई भी नहीं था. वो खुद एक दूसरे का ख्याल रखते थे. जब मुझे इन दोनों बच्चों के बारे में पता चला तो मैंने पार्टी के कार्यकर्ता सीआर पाटिल से उनकी मदद करने को कहा. हमने उनकी शिक्षा का प्रबंध किया साथ ही एक घर की भी व्यवस्था की. आज मुझे इन दोनों बच्चों के देखकर काफी गर्व होता है. पीएम ने कहा कि आज वो (बच्चे) अपने अभिभावक की गैर-मौजूदगी और रहने की जगह के अभाव में भी अपने लिए बड़े सपने देख रहे हैं. उनका यह हौसला मुझे प्रेरणा देता है. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

बता दें कि पीएम मोदी ने गुजरात चुनाव में प्रचार के दौरान कुछ दिन पहले ही बीजेपी की नन्ही प्रशंसक और प्रचारक से मिले थे. यह बच्ची कैमरे के सामने बीजेपी की उपलब्धियों के बारे में जोर-शोर से भाषण दे रही थी. पीएम मोदी ने बच्ची का भाषण सुना और उसे सराहा था. यही नहीं, पीएम मोदी ने बच्ची के गले में पहने हुए भगवा गमछे पर अपना ऑटोग्राफ भी दिया था.

Featured Video Of The Day

अजय मंडावी को पद्मश्री से किया जाएगा सम्मानित, जानें उनकी पूरी कहानी