विज्ञापन
Story ProgressBack
This Article is From Jan 30, 2023

महादयी नदी मुद्दे पर समझौता नहीं करेगी गोवा सरकार: मुख्यमंत्री सावंत

विधानसभा चुनाव की ओर बढ़ रहे कर्नाटक में आयोजित एक रैली को संबोधित करते हुए अमित शाह ने कहा था कि महादयी नदी जल विवाद को सुलझा लिया गया है और पानी दक्षिणी राज्य को दिया गया है. सावंत ने पत्रकारों से कहा कि इस मुद्दे पर उच्चतम न्यायालय में गोवा का कानूनी पक्ष मजबूत है.

Read Time: 14 mins
महादयी नदी मुद्दे पर समझौता नहीं करेगी गोवा सरकार: मुख्यमंत्री सावंत

गोवा के मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत ने सोमवार को कहा कि महादयी मुद्दे पर कोई समझौता नहीं होगा और उनकी सरकार नदी के बहाव को मोड़ने से रोकने के लिए काम कर रही है. गोवा में विपक्षी दलों ने शनिवार को केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह की टिप्पणी पर मुख्यमंत्री सावंत का इस्तीफा मांगा था. शाह ने कहा था कि कर्नाटक और गोवा के बीच महादयी नदी जल विवाद को सुलझा लिया गया है.

गोवा और पड़ोसी राज्य कर्नाटक के बीच कई वर्षों से नदी के पानी के बंटवारे को लेकर विवाद है. कर्नाटक द्वारा महादयी की सहायक नदियों कलसा और बंडुरी पर बांध के निर्माण के जरिए उसके बहाव का रुख अपनी तरफ मोड़ने की योजना को लेकर गोवा और कर्नाटक में विवाद गहरा गया है. गोवा अकसर कर्नाटक पर एकतरफा तरीके से मामले में बढ़ने का आरोप लगाता है.

Advertisement

विधानसभा चुनाव की ओर बढ़ रहे कर्नाटक में आयोजित एक रैली को संबोधित करते हुए अमित शाह ने कहा था कि महादयी नदी जल विवाद को सुलझा लिया गया है और पानी दक्षिणी राज्य को दिया गया है. सावंत ने सोमवार को यहां पत्रकारों से कहा कि इस मुद्दे पर उच्चतम न्यायालय में गोवा का कानूनी पक्ष मजबूत है.

उन्होंने कहा, ‘‘ इस पर कोई समझौता नहीं होगा और सरकार महादयी नदी के बहाव को मोड़ने से रोकने के लिए काम कर रही है.'' कर्नाटक के बेलगावी में शनिवार को भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की ‘जन संकल्प यात्रा' को संबोधित करते हुए शाह ने कहा था, ‘‘मैं आपको बताना चाहता हूं कि भाजपा ने दोनों राज्यों के बीच लंबे समय से जारी विवाद को सुलझाकर कर्नाटक को महादयी नदी का पानी दिया, जिससे यहां के कई जिलों के किसानों का लाभ सुनिश्चित हुआ है.''

इस बयान को लेकर विपक्षी दलों ने भाजपा नीत सरकार की आलोचना की है. कांग्रेस, गोवा फॉरवर्ड पार्टी, आम आदमी पार्टी और तृणमूल कांग्रेस ने इस मुद्दे पर मुख्यमंत्री सावंत के इस्तीफे की मांग की है. तृणमूल कांग्रेस ने सोमवार को सांवत की कथित ‘चुप्पी' पर सवाल उठाया और शाह की टिप्पणी पर भाजपा एवं राज्य सरकार से स्पष्टीकरण की मांग की.

तृणमूल कांग्रेस के गोवा समन्वयक समील वलवइकर ने कहा कि सावंत को रुख तय करना चाहिए खासतौर पर शाह के बयान के बाद जिसमें उन्होंने कहा था कि ‘‘ महादयी नदी का पानी मोड़ा जाएगा और गोवा सरकार ने इसकी मंजूरी दे दी है.''

Advertisement

उन्होंने आरोप लगाया, ‘‘ केंद्र और गोवा की भाजपा सरकार ने मां महादयी, हमारी जीवन रेखा को आगामी कर्नाटक विधानसभा चुनाव जीतने के लिए बेच दिया है.'' वलवइकर ने आरोप लगाया और आश्चर्य व्यक्त किया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने महज एक दिन पहले ‘मन की बात ' कार्यक्रम में अहम महादयी नदी मुद्दे का उल्लेख क्यों नहीं किया.

तृणमूल कांग्रेस की गोवा इकाई के महासचिव राखी प्रभुदेसाई नाइक ने भाजपा और राज्य सरकार से इस मुद्दे पर रुख स्पष्ट करने की मांग की. नाइक ने आरोप लगाया, ‘‘अमित शाह ने उल्लेख किया कि पानी मोड़ा जाएगा और गोवा सरकार ने इसपर सहमति दे दी है. भाजपा को स्पष्ट करना चाहिए कि झूठ कौन बोल रहा है, शाह या सावंत. इनमें से कोई एक महादयी नदी के मुद्दे पर झूठ बोल रहा है.''

Advertisement

ये भी पढ़ें:- 
शाहरुख खान के पास है 'परमानेंट बालकनी टिकट', बोले- जब सुखी या दुखी होता हूं तो बालकनी में आ जाता हूं
इतनी मोटी रकम में बिके थे शाहरुख खान की 'पठान' के OTT राइट्स, रिलीज से पहले ही हो गया था सौदा

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

NDTV.in पर ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें, व देश के कोने-कोने से और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
देखिए, जब आज सोनिया, राहुल और प्रियंका ने पहली बार कांग्रेस को नहीं दिया वोट
महादयी नदी मुद्दे पर समझौता नहीं करेगी गोवा सरकार: मुख्यमंत्री सावंत
दिल्ली हाईकोर्ट से मनीष सिसोदिया को झटका, मनी लॉन्ड्रिंग और भ्रष्टाचार के मामलों जमानत याचिका खारिज
Next Article
दिल्ली हाईकोर्ट से मनीष सिसोदिया को झटका, मनी लॉन्ड्रिंग और भ्रष्टाचार के मामलों जमानत याचिका खारिज
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
;