विज्ञापन
Story ProgressBack

देहरादून के नामी बिल्डर ने 8वीं मंजिल से कूद कर जान दी, ब्लैकमेलिंग से तंग आकर उठाया कदम

पुलिस ने बताया कि बिल्डर के सुसाइड नोट तथा उनके बेटे की तहरीर के आधार पर गुप्ता बंधुओं के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया है.

Read Time: 3 mins
देहरादून के नामी बिल्डर ने 8वीं मंजिल से कूद कर जान दी, ब्लैकमेलिंग से तंग आकर उठाया कदम
पुलिस ने दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है.

शहर के नामी बिल्डर सतिन्दर सिंह उर्फ बाबा साहनी ने शुक्रवार को यहां एक इमारत की आठवीं मंजिल से कूद कर कथित रूप से आत्महत्या कर ली. पुलिस ने यह जानकारी दी. अधिकारियों ने बताया कि मृतक बाबा साहनी (59) के पुत्र रणवीर सिंह द्वारा दी गयी तहरीर तथा आत्महत्या से पूर्व उनके द्वारा लिखे एक नोट के आधार पर पुलिस ने मामले में आरोपी गुप्ता बंधुओं-अनिल गुप्ता और अजय गुप्ता के खिलाफ मामला दर्ज कर उन्हें गिरफ्तार कर लिया है.

पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार, दिन में साढ़े 11 बजे राजपुर में पैसिफिक गोल्फ स्टेट इमारत के पास एक व्यक्ति के घायल अवस्था में बेहोश पड़े होने की सूचना मिलते ही पुलिसकर्मी मौके पर पहुंचे. व्यक्ति की पहचान रेस कोर्स क्षेत्र में रहने वाले बिल्डर साहनी के रूप में हुई और पता चला कि उन्होंने इमारत की आठवीं मंजिल से कूद कर आत्महत्या का प्रयास किया है.

साहनी को उनके पुत्र द्वारा तत्काल निजी मैक्स अस्पताल ले जाया गया, जहां उपचार के दौरान उनकी मृत्यु हो गयी. पुलिस को दी तहरीर में रणवीर सिंह ने गुप्ता बंधुओं पर उनके पिता को डराने, धमकाने व ब्लैकमेल करने का आरोप लगाया है. उन्होंने बताया कि बाबा साहनी ने पूर्व में भी पुलिस को एक प्रार्थनापत्र देकर गुप्ता बंधुओं पर उनकी एक परियोजना को लेकर अनावश्यक रूप से दवाब बनाने की शिकायत की थी. पुलिस ने बताया कि उन आरोपों की नगर पुलिस अधीक्षक द्वारा जांच की जा रही है.

रणवीर सिंह ने अपनी तहरीर में यह भी कहा कि गुप्ता बंधुओं द्वारा उनके पिता के विरूद्ध उत्तर प्रदेश के सहारनपुर में एक झूठी शिकायत दर्ज कराई गयी थी और वे साहनी को उनकी दोनों कंपनियां उनके नाम करने अन्यथा उन्हें व उनके दामाद को झूठे मामले में फंसाने की धमकी दे रहे थे. पुलिस अधिकारियों ने बताया कि बिल्डर के आत्महत्या से पूर्व लिखे नोट तथा उसके पुत्र की तहरीर के आधार पर थाना राजपुर में गुप्ता बंधुओं के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 306 के तहत मुकदमा दर्ज कर उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया.

हेल्पलाइन
वंद्रेवाला फाउंडेशन फॉर मेंटल हेल्‍थ 9999666555 या help@vandrevalafoundation.com
TISS iCall 022-25521111 (सोमवार से शनिवार तक उपलब्‍ध - सुबह 8:00 बजे से रात 10:00 बजे तक)
(अगर आपको सहारे की ज़रूरत है या आप किसी ऐसे शख्‍स को जानते हैं, जिसे मदद की दरकार है, तो कृपया अपने नज़दीकी मानसिक स्‍वास्‍थ्‍य विशेषज्ञ के पास जाएं)

NDTV.in पर ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें, व देश के कोने-कोने से और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
तीन साल में 47 प्रतिशत भारतीयों से हो चुकी है वित्तीय धोखाधड़ी: सर्वेक्षण
देहरादून के नामी बिल्डर ने 8वीं मंजिल से कूद कर जान दी, ब्लैकमेलिंग से तंग आकर उठाया कदम
'पवन नहीं, आंधी है...' कौन हैं पवन कल्याण, क्या करती हैं पत्नी और बच्चे, जानिए सबकुछ
Next Article
'पवन नहीं, आंधी है...' कौन हैं पवन कल्याण, क्या करती हैं पत्नी और बच्चे, जानिए सबकुछ
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
;