स्पाइसजेट के दो विमानों में चेतावनी लाइट जगमगाने पर डीजीसीए ने शुरू की जांच

नागर विमानन महानिदेशालय (डीजीसीए) ने इन सभी चार घटनाओं की जांच शुरू की है. बता दें कि ‘फ्यूसलेज' विमान का मध्य भाग होता है, जहां यात्री और चालक दल के सदस्य बैठते हैं.

स्पाइसजेट के दो विमानों में चेतावनी लाइट जगमगाने पर डीजीसीए ने शुरू की जांच

नई दिल्ली:

स्पाइस जेट के दो अलग-अलग विमानों में शुक्रवार और शनिवार को उड़ान भरने के दौरान ‘फ्यूसलेज' द्वार चेतावनी लाइट जगमगाने की घटनाएं सामने आई है. इस मामले अब डीजीसीए ने जांच के आदेश दिए हैं. चेतावनी लाइट जलने के चलते विमानों को अपनी यात्रा पूरी किए बिना वापस लौटने को मजबूर होना पड़ा.डीजीसीए के अधिकारियों ने यह जानकारी दी.उन्होंने बताया कि पिछले एक सप्ताह के दौरान स्पाइसजेट की चार उड़ानों के दौरान ऐसी घटनाएं सामने आईं. नागर विमानन महानिदेशालय (डीजीसीए) ने इन सभी चार घटनाओं की जांच शुरू की है. बता दें कि ‘फ्यूसलेज' विमान का मध्य भाग होता है, जहां यात्री और चालक दल के सदस्य बैठते हैं.

दिल्ली से जबलपुर जा रहे SpiceJet के विमान की इमरजेंसी लैंडिंग, पटना के बाद दिन की दूसरी घटना

बता दें कि स्पाइस जेट के साथ इस तरह की यह कोई पहली घटना नहीं है. कुछ दिन पहले ही पटना हवाई अड्डे से 19 जून को दिल्ली के लिए उड़ान भरने के तत्काल बाद स्पाइसजेट के विमान के इंजन में आग लग गई थी और चंद मिनट बाद ही विमान को आपातकालीन तौर पर उतारा गया था. इस उड़ान में 185 यात्री सवार थे. बताया जा रहा है कि पक्षी के टकरा जाने के कारण इंजन मं आग लग गई थी. इसके अलावा 19 जून को ही जबलपुर के लिए रवाना हुई स्पाइस जेट की एक उड़ान को ‘‘केबिन में दबाव'' की दिक्कत के चलते दिल्ली वापस लौटना पड़ा था.

'जल्दी सुनवाई करें वर्ना बंद हो जाएगी एयरलाइंस'- SpiceJet पेंमेंट मुद्दे को लेकर पहुंचा सुप्रीम कोर्ट

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


अधिकारियों ने बताया था कि 24 जून को गुवाहाटी से कोलकाता जाने वाली स्पाइसजेट की क्यू400 विमान की चेतावनी लाइट जगमगाने के बाद पायलट ने 5,000 फुट की ऊंचाई पर उड़ रहे विमान को वापस गुवाहाटी ले जाने का फैसला किया.  उन्होंने बताया कि इसी तरह की घटना शनिवार (25 जून) को पटना से गुवाहाटी की उड़ान भरने वाले स्पाइसजेट के क्यू400 विमान में भी सामने आई.
 



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)